मैगी में लेड! सुप्रीम कोर्ट ने नेस्ले के खिलाफ फिर से जांच शुरू करने की दी इजाजत

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को खाद्य उत्पाद बनाने वाली दिग्गज कंपनी मैगी को जोरदार दिश है। दरअसल, उच्चतम न्यायालय ने तीन साल बाद राष्ट्रीय उपभोक्ता विवाद निवारण आयोग (एनसीडीआरसी) में लंबित नेस्ले के मैगी मामले में कार्यवाही की अनुमति दे दी। जस्टिस डीवाय चंद्रचूड की अध्यक्षता वाली बेंच ने आयोग से कहा कि वह मैगी के नमूनों के बारे में मैसूर स्थित केंद्रीय खाद्य प्रौद्योगिकी संस्थान (सीएफटीआरआई) की रिपोर्ट पर विचार करे।

चल रही थी सुनवाई
सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को इस मामले की सुनवाई हो रही थी, जब नेस्‍ले की ओर से पेश हुए वकीलों ने इस बारे में स्‍वीकारोक्ति की। सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई के दौरान नेस्‍ले की ओर से पेश हुए वकील ने कहा कि इसमें ‘निर्धारित सीमा’ के भीतर ही सीसा था, जिस पर सुप्रीम कोर्ट के जज ने सवाल किया कि आखिर वह ऐसा नूडल क्‍यों खाएं, जिसमें किसी भी स्‍तर पर सीसा पाया जाता हो।

पहले लगाई थी सुनवाई पर रोक
इस मामले में सरकार ने अनुचित व्यापारिक व्यवहार के लिए नेस्ले इंडिया से 640 करोड़ रुपए हर्जाना मांगा था। सीएफटीआरआई ने मैगी के नमूनों की जांच की थी। इससे पहले शीर्ष अदालत ने नेस्ले की चुनौती पर एनसीडीआरसी की ओर से की जा रही सुनवाई पर रोक लगा दी थी। उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने 2015 में नेस्ले इंडिया के खिलाफ एनसीडीआरसी में शिकायत दर्ज कराई थी। मंत्रालय ने यह शिकायत तीन दशक पुराने उपभोक्ता संरक्षण अधिनियम के तहत दर्ज कराई थी।
लगाया था प्रतिबंध
2015 में ही भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसआई) ने मैगी नूडल्स के नमूनों में तय मानक से अधिक लेड पाए जाने पर इसके इस्तेमाल पर प्रतिबंध लगा दिया था। प्राधिकरण का कहना था कि यह इंसान के लिए असुरक्षित और घातक है।

कंपनी ने जताई थी आपत्ति
इस मामले में नेस्ले इंडिया ने अक्टूबर 2015 में आपत्ति दर्ज कराई थी। एनसीडीआरसी से कहा गया था कि सरकार के इस अभियोग में कुछ भी नया नहीं है। इन आरोपों को 13 अगस्‍त 2015 के आदेश में बॉम्बे हाईकोर्ट पहले ही खारिज कर चुका है। इस आदेश में हाईकोर्ट ने मैगी नूडल्‍स पर लगाए गए देशव्‍यापी प्रतिबंध को गलत ठहराया था।

Leave a Comment

अन्य समाचार

राहुल लाएंगे ऐसी मशीन, आदमी डालो तो औरत निकलेगी: नंदकुमार चौहान

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं में बयानबाजी का दौर तेजी से चल रहा है। नेता बयान देने से पहले मर्यादा का भी ध्यान नही रख रहे हैं। ताजा मामला खंडवा से सामने आया है, जहां भारतीय [Read more...]

एशियाई चैम्पियनशिप : कविंदर बिष्ट ने विश्व चैम्पियन को हराया, पंघल भी सेमीफाइनल में

बैंकाक : एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप मुकाबले में 56 किलो भार वर्ग में भारत के कविंदर सिंह बिष्ट ने मौजूदा विश्व चैम्पियन कैराट येरालियेव को हराकर पहला पदक पक्का कर लिया है। वहीं ओलंपिक चैम्पियन हसनबोय दुस्मातोव को शिकस्त [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

आईपीएल फाइनल में बड़ा बदलाव, अब चेन्नई में नहीं बल्कि हैदराबाद के राजीव गांधी स्टेडियम में होगा मुकाबला

बीएसएन के इस प्रीपेड प्लान से 6 महीने तक जितनी मर्जी बात करें

उपराष्ट्रपति ने आतंकवाद के खात्मे के लिये विश्व समुदाय से एकजुट होने की अपील की

राहुल लाएंगे ऐसी मशीन, आदमी डालो तो औरत निकलेगी: नंदकुमार चौहान

शुभ मुहूर्त के चलते साध्वी प्रज्ञा ने किया एक दिन पहले किया नामांकन

दो चीनी इंजीनियरों को 72 घंटे के अंदर भारत छोड़ने का मिला नोटिस

एशियाई चैम्पियनशिप : कविंदर बिष्ट ने विश्व चैम्पियन को हराया, पंघल भी सेमीफाइनल में

कंगाल होते पाकिस्तान को एफडीआई में सुधार से कुछ राहत

महबूबा मुफ्ती का पाकिस्तान प्रेमः कहा-हमारे न्यूक्लियर बम दिवाली के लिए नहीं तो, पाक के भी…

श्रीनगर: एलओसी पार से व्यापार पर रोक के खिलाफ व्यापारियों का प्रदर्शन

ऊपर