दुष्कर्म किया, फिर खाया मांस

नयी दिल्ली : नरभक्षी इंसानों के बारे में तो हमने अक्सर किस्से कहानियों में पढ़े और सुने होगें। कि नरभक्षी एक गांव में अपना आतंक फैलाया था, वह हर दिन एक गांव के इंसान को खा जाता था। ऐसे ही नरभक्षी को लेकर तमाम कहानियां सुना होगा। जो इंसानों का मांस खाते हैं। लेकिन यहां किस्से-कहानी नहीं, बिल्कुल सही घटना सामने आयी है। यह घटना दक्षिण अफ्रीका के एक नरभक्षी गांव की है, जहां पूरा गांव की नरभक्षी था। उस गांव के ही दो नरभक्षियों ने जब पुलिस के पास पहुंचकर आत्मसमर्पण किया तो नरभक्षियों के एक गांव का चौंकाने वाला सच सामने आया। इनकी कहानी सुनकर पुलिस के भी होश उड़ गए। इन्होंने पुलिस को बताया कि वह मानव मांस खाकर थक चुके हैं। पुलिस को इनमें से एक पास मौजूद बैग में से इंसानी हाथ-पैर भी बरामद हुए हैं। दोनों नरभक्षियों को उनके जुर्म के लिए आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई है। पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करने वाला नरभक्षी निनो मबाथा (33) और लुंगिसानी मगुबेन (32) हैं। दोनों को 24 वर्षीय जेनले ह्लात्श्वेव नाम की एक युवती की निर्मम हत्या के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है। इनमें से निनो मबाथा पारंपरिक चिकित्सक है।

हत्या करने से पहले दुष्कर्म कर खाया मांस

शुरूआत में पुलिस को इनकी कहानी पर भरोसा नहीं हुआ। पुलिस को भरोसा दिलाने के लिए निनो मबाथा उन्हें अपने घर ले गया। घर में घुसते ही पुलिस के पैरों तले जमीन खिसक गई। पूरे घर में कई इंसानों के मांस के टुकड़े फैले हुए थे। मानो वहां, मानव मांस जमा किया जा रहा था। पुलिस ने इस केस में कुल सात लोगों को गिरफ्तार किया था। इनमें से एक आरोपी सिथेमबिसो सिथोल (31) ने आरोप तय होने के बाद सजा के लिए चल रहे ट्रायल के दौरान जेल में ही खुद को मौत के घाट उतार लिया था। आसपास के घरों में तलाशी के दौरान पुलिस को मानव अंग मिले थे, जिसके बाद चार और आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था। इनसे पूछताछ में पता चला कि महिला जेनले ह्लात्श्वेव की हत्या करने से पहले उसके साथ दुष्कर्म भी किया गया था। कोर्ट ने एक व्यक्ति को इस केस में रिहा कर दिया था।

लोगों ने कोर्ट के बाहर किया था प्रदर्शन
दक्षिण अफ्रीका में नरभक्षण के खिलाफ कोई कानून नहीं है। हालांकि मस्तिष्क को विचलित करना और मानव अंग की बरामदगी अपराध की श्रेणी में आता है। इस केस से नाराज लोगों ने कोर्ट के बाहर आरोपियों को सख्त सजा देने के लिए प्रदर्शन भी किया था। मालूम हो कि कुछ अफ्रीकी देशों में लोगों की जान मुथि नाम की अंधविश्वासी परंपराओं की वजह काफी खतरे में है। अंधविश्वास है कि मुथि परंपरा के बाद इंसानी मांस खाने वाले लोगों को शक्ति और स्वास्थ्य प्राप्त होता है।

जांच में पता चला पूरा गांव नरभक्षी हो चुका है
जांच में पुलिस को पता चला कि एसिगोदल्वेनी नाम के इस गांव के 971 घरों में नरभक्षियों द्वारा एक बैठक की गई थी। इसके बाद गांव की ज्यादातर आबादी अनजान लाशों के लिए कब्र खोद रही थी या सौभाग्य प्राप्ति की अंधविश्वासी रीति-रिवाज में फंसकर इंसानी मांस खा रही थी। इन लोगों ने पुलिस को बताया वह लोग ऐसा मबाथा के कहने पर कर रहे थे ताकि वह उसे सौभाग्य प्राप्ति के लिए होने वाले मुथि रिवाज के लिए ज्यादा से ज्यादा मात्रा में मानव हड्डियां दे सकें। जांच के दौरान पुलिस को एक कटोरे से आठ इंसानी कान भी मिले।

कोर्ट ने सबसे क्रूर अपराध करार दिया
पीटरमैरिट्सबर्ग हाईकोर्ट के जज पीटर ओल्सेन ने इस मामले को सबसे क्रूर अपराध करार देते हुए दोनों आरोपियों को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। कोर्ट को पता चला कि आरोपियों ने जेनले ह्लात्श्वेव नाम की महिला को मबाथा ने मगुबेन की मदद से मौत के घाट उतारा। इसके बाद दक्षिणी अफ्रीका के कुछ हिस्सों में पारंपरिक दवा के लिए प्रयोग होने वाली एक विधि ‘मुथि’ के जरिए सौभाग्य प्राप्ति के लिए इन लोगों ने जेनले ह्लात्श्वेव के मृत शरीर से आंतरिक अंग, हाथ व पैरों को निकालकर अलग कर दिया।

Leave a Comment

अन्य समाचार

साल 2018 में प्रधानमंत्री ने एक करोड़ नौकरियां खत्म कर दीः राहुल

इंफाल : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को इंफाल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर 2018 में एक करोड़ नौकरियां खत्म करने का आरोप लगाया है। इंफाल में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुये गांधी ने कहा कि मोदी [Read more...]

आरसीबी की कप्तानी न छीने जाने पर होना चाहिए शुक्रगुजार : गंभीर

नई दिल्लीः भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने एक बार फिर विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाए हैं। गंभीर ने एक अखबार से बातचीत के दौरान कहा कि कोहली, रोहित शर्मा और धोनी की तरह चालाक [Read more...]

मुख्य समाचार

साल 2018 में प्रधानमंत्री ने एक करोड़ नौकरियां खत्म कर दीः राहुल

इंफाल : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को इंफाल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर 2018 में एक करोड़ नौकरियां खत्म करने का आरोप लगाया है। इंफाल में एक चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुये गांधी ने कहा कि मोदी [Read more...]

आरसीबी की कप्तानी न छीने जाने पर होना चाहिए शुक्रगुजार : गंभीर

नई दिल्लीः भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने एक बार फिर विराट कोहली की कप्तानी पर सवाल उठाए हैं। गंभीर ने एक अखबार से बातचीत के दौरान कहा कि कोहली, रोहित शर्मा और धोनी की तरह चालाक [Read more...]

ऊपर