रेलवे की नौकरी के लिए आये 47 लाख अावेदन को देखते हुए सरकार ने रिक्त पद को बढ़ाकर 60 हजार किया

नई दिल्लीः रेलवे ने नौकरी तलाशनों वालों के लिए खुशखबरी दी है। रेलवे ने सहायक लोको पायलट और तकनीशियनों की भर्ती के लिए रिक्त पदो की संख्या 26,502 से बढ़ाकर लगभग 60 हजार करने का निर्णय लेकर आवेदकों को एक प्रकार का सौगात दी है। सरकार ने ये फैसला कम पदों पर ज्यादा आवेदन आने और बेरोजगारी दूर करने के मद्देनजर लिया है। रेलवे में जनवरी माह में निकली वैकेंसी 26 हजार पदों के लिए रेलवे के पास 47 लाख आवेदन आए थे। इसके पीछे रेलवे यूनियन एआइआरएफ की भी भूमिका है, जिसने पिछले दिनो रेलमंत्री से मिलकर संरक्षा श्रेणी के इन पदों पर भर्तियां बढ़ाने की मांग की थी।
ढाई करोड़ से ज्यादा आये थे आवेदन
रेलवे ने सहायक लोको पायलट और तकनीशियनों की भर्ती के लिए जनवरी में विज्ञापन निकाला था। जिसके जवाब में ढाई करोड़ से ज्यादा आवेदन प्राप्त हुए थे। स्क्रूटनी के बाद इनमें से 47.56 लाख आवेदकों के विवरण सही पाए गए थे। इनकी परीक्षा 9 अगस्त को शुरू होगी और कई चरणों में समाप्त होगी। परीक्षा की अन्य तिथियां 10, 13, 14, 17, 20, 21, 30 तथा 31 अगस्त को हैं। ये तारीखें परीक्षा केंद्रों और संसाधनों की उपलब्धता को देखते हुए तय की गई हैं। एक दिन में तीन-तीन शिफ्ट में परीक्षा होगी। हर शिफ्ट में अलग प्रश्नपत्र के हिसाब से कुल तीस प्रकार के प्रश्न पत्र तैयार कराए गए हैं।
नए सेंटरों पर होगी परीक्षाएं
रेल मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार विभिन्न राज्यों में प्रमुख कॉलेजों तथा बड़े तकनीकी संस्थानों में ये परीक्षा आयोजित करवाई जा रही है। पिछली भर्ती परीक्षा में जिन कॉलेज/इंस्टीट्यूट में गड़बड़ी की शिकायतें मिली थीं उन्हें ब्लैकलिस्ट किया जा चुका है। इसलिए इस बार ये परीक्षाएं नए सेंटरों में हो रही हैं।
आवेदकों ने रेलमंत्री को ट्वीट कर समस्या बताई थी
भर्ती परीक्षाओं को लेकर रेलमंत्री पीयूष गोयल को लगातार शिकायतें प्राप्त हो रही थीं। आवेदक उन्हें लगातार ट्वीट कर रहे थे। बिहार से राहुल जायसवाल ने ट्वीट किया था कि सर, मैं मुश्किल में हूं। मेरा 10 अगस्त को हैदराबाद में रेलवे का इम्तहान है और अगले दिन मुझे ग्रामीण बैंक की परीक्षा देनी है। यह कैसे संभव है। फ्लाइट की मेरी औकात नहीं है। मधेपुरा के एक छात्र ने लिखा कि वहां से इंदौर कोई ट्रेन नहीं जाती है। रेलवे का फ्री पास होने के बाद भी टिकट नहीं दिया जा रहा है। मिथिलेश यादव ने ट्विट किया है कि सर मेरा होमटाउन कोलकाता है। मेरा सेंटर भोपाल दे दिया गया है। क्या आप एग्ज़ाम सेंटर बदल सकते हैं।

मुख्य समाचार

ओम बिड़ला सर्वसम्मति से चुने गए लोकसभा के नए अध्यक्ष

नयी दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के उम्मीदवार ओम बिड़ला बुधवार को सभी सर्वसम्मति से लोकसभा अध्यक्ष चुन आगे पढ़ें »

मोदी की बुलाई सर्वदलीय बैठक से विपक्ष का किनारा, ममता समेत कई नेता नहीं होंगे शामिल

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुधवार को सभी राजनीतिक दलों के अध्यक्षों की बैठक बुलाई गई है। लेकिन समस्या यह है कि अब कई आगे पढ़ें »

पुलिस कांस्टेबल ने सिर में गोली मार कर की आत्महत्या

कोलकाता : हेस्ट‌िंग्स थानांतर्गत विद्यासागर सेतु पर एक पुलिस कांस्टेबल ने सर्विस रिवाल्वर से सिर में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मृतक का नाम तरुण आगे पढ़ें »

रवींद्र सदन मेट्रो में व्यक्ति ने की आत्महत्या

कोलकाताः रवींद्र सदन मेट्रो पर एक व्यक्ति ने मंगलवार की शाम आत्महत्या कर लिया। इस कारण मेट्रो परिसेवा घण्टों बाधित रही। हादसा मंगलवार शाम करीब आगे पढ़ें »

खतरनाक स्टंट व कई गलतियों ने ली जादूगर की जान

रामकृष्णपुर घाट से​ मिला था शव हावड़ा ब्रिज के नीचे से हाथ पैर बांधकर उतरे थे नदी में हावड़ा : सोनारपुर के रहनेवाले जादूगर चंचल ल‍ाहिड़ी आगे पढ़ें »

आतंकियों ने पुलवामा में थाने पर फेंका ग्रेनेड, पुंछ में हथियारों का जखीरा बरामद

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर में आतंकियों का सफाया करने के लिए सुरक्षा बलों के जवान लगातार कार्रवाई कर रहे हैं। उनकी इस कार्रवाई से आतंकी बौखला आगे पढ़ें »

जेट एयरवेज को उभारने की सभी कोशिशें नाकाम, बैंकों ने दिवालिया की अर्जी दाखिल की

मुंबईः एक समय में देश की सबसे बड़ी निजी एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज अब दिवालिया होने के कगार पर है। बैंको द्वारा जेट एयरवेज को आगे पढ़ें »

कांग्रेस दल के नेता अधीर रंजन चौधरी होंगे, पहले राहुल गांधी के नाम की चर्चा थी

नई दिल्ली : लंबी जद्दोजहद के बाद मंगलवार को कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी को लोकसभा में पार्टी का नेता नामित किया आगे पढ़ें »

किसके सर सजेगा ब्रिटेन के प्रधानमंत्री का ताज

लंदन : ब्रिटेन का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा इसको लेकर वहां के राजनीतिक पार्टियों में होड़ मची हुई है। प्रधानमंत्री पद पर काबिज होने के आगे पढ़ें »

7 साल में 38 प्रतिशत बढ़ गई है भारतीय-अमेरिकियों की तादाद

वॉशिंगटन: अमेरिका में भारतीय मूल के नागरिकों की तादाद 7 वर्षों में 38 प्रतिशत तक बढ़ गई। दक्षिण एशियाई पैरोकार समूह साउथ एशियन अमेरिकन्स लीडिंग आगे पढ़ें »

ऊपर