रेप मामले में लापरवाही, एएसपी पर ही होगा केस

सीकर : दस साल की नाबालिग से दुष्कर्म के ढाई साल पुराने मामले की जांच में लापरवाही बरतने और आराेपी काे लाभ पहुंचाने के मामले काे सीकर के विशिष्ठ न्यायाधीश ने पाॅक्साे अधिनियम को गंभीरता से लिया है। उन्हाेंने इस मामले में प्रसंज्ञान लेते हुए एएसपी दिनेश अग्रवाल (नीमकाथाना) के खिलाफ ज्यादती की धारा में मुकदमा दर्ज करने का आदेश दिया है।

23 मई काे आराेपी को काेर्ट में पेश हाेने का आदेश

न्यायाधीश ने एएसपी के अलावा दुष्कर्म के आराेपी शिवराज सिंह काे 23 मई काे काेर्ट में पेश हाेने का आदेश दिया है। विशिष्ठ लाेक अभियाेजक शिवरतन शर्मा ने बताया कि, काेर्ट ने आराेपी शिवराज सिंह काे नाबालिग से हथियार के बल पर दुष्कर्म करने का दाेषी माना है। इससे पहले इस मामले में जांच अधिकारी ने काेर्ट में एफआर पेश की थी। इस पर काेर्ट ने दाेबारा से जांच कर पत्रावली पेश करने काे कहा था।

आराेपी काे लाभ पहुंचाने का मामला

एएसपी अग्रवाल ने बिना जांच किए पुरानी जांच के आधार पर ही पत्रावली पेश कर दी। इसे काेर्ट ने आराेपी काे लाभ पहुंचाने का मामला मानते हुए एएसपी काे दाेषी माना। काेर्ट ने बच्ची के बयानों के आधार प्रसंज्ञान लेते हुए आराेपी शिवराज सिंह काे छेड़छाड़ व ज्यादती का दाेषी माना। बता दें कि 16 नवंबर ,2016 काे 10 साल की नाबालिग की मां ने थाने में छेड़छाड़ का मुकदमा दर्ज कराया था।

क्या बताया नाबालिग ने

नाबालिग ने बयान में बताया कि, उसकी मम्मी व भाई किसी काम से बाहर गए थे। वह घर पर अकेली स्कूल का हाेमवर्क कर रही थी। तभी वहां शिवराज अंकल आए और छेड़छाड़ करने लगे। बच्ची ने बयान दिया था कि वह पहले भी कई बार गलत हरकत कर चुके थे, लेकिन उन्हाेंने किसी काे बताने पर जान से मारने की धमकी दी थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हुगली में हथियारों सहित कुख्यात टोटन समेत 2 गिरफ्तार

कार्बाइन, पिस्तौल व पाइपगन बरामद, टोटन के खिलाफ हत्या के 9 मामले हुगली : चंदननगर कमिश्नरेट की पुलिस ने अत्याधुनिक हथियारों के साथ हुगली जिले के आगे पढ़ें »

बेटी ने पति के साथ मिल कर मां को मार डाला

बेटी के विलासितापूर्ण जीवन के शौक में मां बन गई थी रोड़ा शव को ट्रॉली बैग में छिपाकर ले जाने की कोशिश पर्णश्री क बासुदेवपुर रोड की आगे पढ़ें »

ऊपर