उत्तर-प्रदेश सरकार के दो साल पूरे, किए ये बड़े काम

नई दिल्ली/लखनऊः उत्तर प्रदेश की योगी सरकार के दो साल का कार्यकाल पूरा हो गया है। उनका कार्यकाल उस समय पूरा हुआ जब देश और प्रदेश में लोकसभा चुनाव की तारिखों की घोषणा हो चूकी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 19 मार्च 2017 को उत्तर-प्रदेश की सत्ता की कमान संभालते ही बदलाव के लिए कई बड़े और कड़े फैसले किए थे। अगर दो वर्ष की अवधी पर नजर डाले तो योगी ने अयोध्या जाकर दीपोत्सव का रिकार्ड बनाया तो मिथक तोड़ने के लिए बार-बार नोएडा गए। इस दौरान सरकार ने विभिन्न योजनाओं के जरिये किसानों, युवाओं, महिलाओं और उद्यमियों को भी साधने की पहल की। इसके साथ ही उन्होंने लगातार संदेश दिया कि कानून का राज उनके लिए सर्वोपरि है।
बदलाव के लिए 10 बड़े कदम उठाये है….
कानून व्यवस्‍था हो दुरुस्त इसलिए एनकाउंटर की खुली छूट
निवेश, रोजगार से ही जुड़ा एक पहलू है। योगी ने निवेश का माहौल बनाने के लिए कानून-व्यवस्था, बेहतर नीति और बुनियादी संरचना पर जोर दिया। उनके इस कदम से नई औद्योगिक नीति आई। फरवरी-2018 में यहां हुए इन्वेस्टर्स समिट में 4.68 लाख करोड़ रुपये के निवेश प्रस्तावों में औद्योगिक घरानों के एमओयू हुए।
उत्तर-प्रदेश में अपराधियों पर लगाम कसने और कानून व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पुलिस को खुली छूट दे दी। इसके बाद यूपी पुलिस ने अपराधियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई करते हुए एनकाउटंर अभियान चलाया। हालांकि इसे लेकर सवाल भी खड़े हुए, लेकिन योगी आदित्यनाथ ने कहा कि अपराधियों के प्रति हमारी जीरो टॉलरेंस की नीति है।
दो वर्ष में ढाई लाख से अधिक नौकरियां
युवाओं को रोजगार देना सरकार की पहले से ही प्राथमिकता रही हैं। जो कौशल विकास के जरिये स्वावलंबन पर रहा। केंद्र की योजनाओं के अलावा प्रदेश स्तर पर विश्वकर्मा श्रम सम्मान, माटी कला बोर्ड, एक जिला, एक उत्पाद जैसी योजनाओं के जरिये यह क्रम जारी है। इसके अलावा सरकारी क्षेत्र में भी ढाई लाख नौकरियां दी गईं।
बदले गए शहरों के नाम
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अपने दो साल के कार्यकाल के दौरान उत्तर प्रदेश में कई शहरों के नाम बदलने का फैसला किया। इनमें मुगलसराय स्टेशन और शहर का नाम बदलकर पंडित दीनदयाल उपाध्याय रखा है। इसके अलावा फैजाबाद जिले का नाम बदलकर अयो ध्या कर दिया। इसी कड़ी में इलाहाबाद का नाम बदलकर प्रयागराज कर दिया गया।
अवैध बूचड़खानों पर लगाम
योगी आदित्यनाथ ने सत्ता आते ही उन्होंने सबसे पहले अवैध बूचड़खानों पर लगाम लगाई। योगी के शपथ लेने के दूसरे दिन से ही अवैध बूचड़खाने बंद करने की कार्रवाई शुरु हो गई। वाराणसी से लेकर लखीमपुर खीरी, गाजियाबाद और मेरठ जैसे तमाम शहरों में अवैध बूचड़खानों और बड़ी तादाद में अवैध बूचड़खाने को बंद करा दिए गए।
गाय को लेकर किए कई नीतिगत फैसले
उत्तर-प्रदेश में योगी सरकार के सत्ता में आने के बाद गाय के लिए कई नीतिगत फैसले लिए गए। गौशाला बनाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 0.5 फीसदी सेस चार्ज लगायाञ। इसके अलावा गाय की देखभाल और उनके लिए चारा-पानी जैसी तमाम सुविधाएं देने का फैसला किया।
महिलाओं और बच्चियों की सुरक्षा के लिए एंटी रोमियो स्क्वाड
उत्तर प्रदेश में महिलाओं और बच्चियों की सुरक्षा के लिए योगी आदित्यनाथ सरकार ने एंटी रोमियो स्क्वाड का गठन करने का कदम उठाया। इसके बाद यूपी पुलिस ने कॉलेजों और सार्वजनिक स्थानों पर महिलाओं से छेड़खानी करने वाले मनचलों की धरपकड़ तेज कर दी थी. हालांकि इसे लेकर कई सवाल खड़े हुए।
शिक्षा-व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए नकल विहीन परीक्षा
योगी आदित्यनाथ सरकार ने 2017 में सत्ता में आने के बाद शिक्षा-व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए कड़ा कदम उठाया। यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं की परीक्षा को नकलविहीन बनाने के लिए विद्यालयों के सेंटर पर सीसीटीवी कैमरे लगाए गए।
करवाया ‘दिव्य एवं भव्य कुंभ का आयोजन’
प्रयागराज में संगम पर योगी सरकार ने दिव्य एवं भव्य कुंभ का सफल आयोजन कराया। इन सारे आयोजनों ने प्रदेश के बारे में बनी पुरानी धारणा को बदल दिया था. पूरे शहर को सजाया और संवारा गया था। इस कुंभ को दिव्य बनाने के लिए समय से पहले ही बजट जारी कर दिया गया। योगी खुद कई बार प्रयागराज का दौरा कर वहां कुंभ की तैयारियों का जायजा लेते नजर आए।
धार्मिक शहरों को लेकर कई बड़े फैसले
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सत्ता की कमान संभालते ही उत्तर प्रदेश के धार्मिक शहरों के लिए विकास का पिटारा खोल दिया। इसमें अयोध्या, काशी से लेकर मथुरा और चित्रकूट को सजाने और संवारने के लिए कई बड़े फैसले लिए। अयोध्या में सीएम ने खुद जाकर दीपावाली मनाई तो मथुरा में जाकर होली खेली। इतना नहीं इन शहरों के विकास कार्य तेजी से चल रहे हैं।

 

मुख्य समाचार

ओम बिड़ला बने नए लोकसभा अध्यक्ष

नयी दिल्ली : भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के उम्मीदवार ओम बिड़ला बुधवार को सभी सर्वसम्मति से लोकसभा अध्यक्ष चुन आगे पढ़ें »

मोदी की बुलाई सर्वदलीय बैठक से विपक्ष का किनारा, ममता समेत कई नेता नहीं होंगे शामिल

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा बुधवार को सभी राजनीतिक दलों के अध्यक्षों की बैठक बुलाई गई है। लेकिन समस्या यह है कि अब कई आगे पढ़ें »

पुलिस कांस्टेबल ने सिर में गोली मार कर की आत्महत्या

कोलकाता : हेस्ट‌िंग्स थानांतर्गत विद्यासागर सेतु पर एक पुलिस कांस्टेबल ने सर्विस रिवाल्वर से सिर में गोली मारकर आत्महत्या कर ली। मृतक का नाम तरुण आगे पढ़ें »

रवींद्र सदन मेट्रो में व्यक्ति ने की आत्महत्या

कोलकाताः रवींद्र सदन मेट्रो पर एक व्यक्ति ने मंगलवार की शाम आत्महत्या कर लिया। इस कारण मेट्रो परिसेवा घण्टों बाधित रही। हादसा मंगलवार शाम करीब आगे पढ़ें »

खतरनाक स्टंट व कई गलतियों ने ली जादूगर की जान

रामकृष्णपुर घाट से​ मिला था शव हावड़ा ब्रिज के नीचे से हाथ पैर बांधकर उतरे थे नदी में हावड़ा : सोनारपुर के रहनेवाले जादूगर चंचल ल‍ाहिड़ी आगे पढ़ें »

आतंकियों ने पुलवामा में थाने पर फेंका ग्रेनेड, पुंछ में हथियारों का जखीरा बरामद

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर में आतंकियों का सफाया करने के लिए सुरक्षा बलों के जवान लगातार कार्रवाई कर रहे हैं। उनकी इस कार्रवाई से आतंकी बौखला आगे पढ़ें »

जेट एयरवेज को उभारने की सभी कोशिशें नाकाम, बैंकों ने दिवालिया की अर्जी दाखिल की

मुंबईः एक समय में देश की सबसे बड़ी निजी एयरलाइन कंपनी जेट एयरवेज अब दिवालिया होने के कगार पर है। बैंको द्वारा जेट एयरवेज को आगे पढ़ें »

कांग्रेस दल के नेता अधीर रंजन चौधरी होंगे, पहले राहुल गांधी के नाम की चर्चा थी

नई दिल्ली : लंबी जद्दोजहद के बाद मंगलवार को कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता अधीर रंजन चौधरी को लोकसभा में पार्टी का नेता नामित किया आगे पढ़ें »

किसके सर सजेगा ब्रिटेन के प्रधानमंत्री का ताज

लंदन : ब्रिटेन का अगला प्रधानमंत्री कौन होगा इसको लेकर वहां के राजनीतिक पार्टियों में होड़ मची हुई है। प्रधानमंत्री पद पर काबिज होने के आगे पढ़ें »

7 साल में 38 प्रतिशत बढ़ गई है भारतीय-अमेरिकियों की तादाद

वॉशिंगटन: अमेरिका में भारतीय मूल के नागरिकों की तादाद 7 वर्षों में 38 प्रतिशत तक बढ़ गई। दक्षिण एशियाई पैरोकार समूह साउथ एशियन अमेरिकन्स लीडिंग आगे पढ़ें »

ऊपर