मोदी को नीच बताने के बाद अय्यर ने दी सफाई, कहा- उल्लू हूं पर इतना बड़ा नहीं

नई दिल्‍ली : कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के लिये नीच शब्‍द का इस्तेमाल किये जाने को लेकर चर्चा में आ गये। अय्यर ने सोमवार को एक अंग्रेजी वेबसाइट के लिए लेख लिखकर अपने साल 2017 के एक विवादित बयान को सही ठहराया। इसके बाद विवाद की आशंका को देखते हुये कांग्रेस नेता अय्यर ने सफाई पेश की है। प्रधानमंत्री को अपशब्द कहे जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि इस मामले में कांग्रेस पार्टी बयान जारी कर चुकी है और उन्हें अलग से सफाई देने की जरूरत नहीं है।

उल्लू हूं, लेकिन इतना बड़ा उल्लू नहीं

अय्यर ने कहा, “मेरे तरफ से तो बयान आ चुका है, एक पूरा आर्टिकल है, आप उसका एक पंक्ति चुनकर कहें कि इस पर बताइए…मैं तुम्हारे खेल में पड़ने को तैयार नहीं हूं, मैं उल्लू हूं, लेकिन इतना बड़ा उल्लू नहीं हूं।”

बाबा साहेब के योगदान को भुलाने की कोशिश की गई

गौरतलब है कि गत दिनों प्रधानमंत्री ने दिल्ली में अम्बेडकर भवन के उद्घाटन के मौके पर कांग्रेस को निशाने पर लेते हुये कहा था कि ‘देश में जो राजनीतिक दल बाबा साहेब का नाम लेकर वोट मांगते हैं उन्हें आजकल सिर्फ बाबा भोले याद आ रहे हैं।’ साथ ही उन्होंने कहा, ‘बाबा साहेब का असर लोगों में इस कदर था कि उनके जाने के बाद उनके योगदान को मिटाने की कोशिश के बावजूद भी बाबा साहेब के विचारों को लोगों के जनमानस से नहीं हटाया जा सका।’

गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है?

ताजा लेख में मणिशंकर अय्यर ने अपने उस बयान को सही ठहराते हुए सवाल किया है कि याद है 2017 में मैंने मोदी को क्या कहा था? क्या मैंने सही भविष्यवाणी नहीं की थी? कांग्रेस नेता अय्यर ने कहा, ‘मुझको लगता है कि ये आदमी बहुत नीच किस्म का आदमी है। इसमें कोई सभ्यता नहीं है और ऐसे मौके पर इस किस्म की गंदी राजनीति करने की क्या आवश्यकता है?’ अय्यर ने कहा, ‘अंबेडकर जी की सबसे बड़ी ख्वाहिश थी उसको साकार करने में एक व्यक्ति का सबसे बड़ा हाथ था जवाहरलाल नेहरू का। आप इस परिवार के बारे में ऐसी गंदी बातें कहें, वह भी जब कि अंबेडकर जी की याद में बड़ी इमारत का उद्घाटन हो रहा है। मुझे लगता है कि यह आदमी बहुत नीच तरह का आदमी है।’साथ ही उन्होंने प्रधानमंत्री पर गंदी  राजनीति करने का भी आरोप लगाया।

बता दें कि कांग्रेस नेता अय्यर ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि ये दौर 23 मई को समाप्त हो जाएगा और हमलोग नेहरू के दौर की राजनीति में फिर से वापस आयेंगे।

गौरतलब है कि इससे पहले अय्यर ने साल 2017 में मीडिया से बात करते हुए प्रधानमंत्री मोदी के लिए अपमानजनक शब्द कहे थे। उस समय उनके इस बयान की कांग्रेस पार्टी समेत अन्य सभी दलों ने आलोचना भी की थी। साथ ही कांग्रेस पार्टी ने उन्हें निलंबित कर दिया था। बाद में उन्होंने अपने इस बयान के लिए माफी भी मांगी थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हुगली में हथियारों सहित कुख्यात टोटन समेत 2 गिरफ्तार

कार्बाइन, पिस्तौल व पाइपगन बरामद, टोटन के खिलाफ हत्या के 9 मामले हुगली : चंदननगर कमिश्नरेट की पुलिस ने अत्याधुनिक हथियारों के साथ हुगली जिले के आगे पढ़ें »

बेटी ने पति के साथ मिल कर मां को मार डाला

बेटी के विलासितापूर्ण जीवन के शौक में मां बन गई थी रोड़ा शव को ट्रॉली बैग में छिपाकर ले जाने की कोशिश पर्णश्री क बासुदेवपुर रोड की आगे पढ़ें »

ऊपर