मेनका गांधी की पहल सराहनीयः जाजू

भीलवाड़ाः पर्यावरण एवं वन्यजीव संरक्षण संस्था पीपुल्स फॉर एनीमल्स के प्रदेश प्रभारी एवं पर्यावरणविद् बाबू लाल जाजू ने केंद्रीय मंत्री एवं संस्था की अध्यक्ष मेनका गांधी की अपनी सरकार के विरुद्ध जाकर वन्यजीव संरक्षण के लिए आगे आने पर प्रशंसा करते हुए कहा है कि इस तरह की पहल वन्य जीवों को बचाने में बड़ी सहायक होगी।
बाबू लाल जाजू ने शुक्रवार को यहां बयान जारी कर कहा कि श्रीमती मेनका गांधी केंद्र सरकार द्वारा नीलगायों की हत्या की स्वीकृति देने का विरोध एवं अपनी ही सरकार के विरुद्ध जाकरमेनका वन्य जीव संरक्षण के लिए आगे आई हैं, जो एक ऐतिहासिक कदम है और इससे वन्यजीव प्रेमियों को संबल मिलने के साथ वन्यजीवों को बचाने की प्रेरणा को बढ़ावा मिलेगा। उन्होंने आरोप लगाते हुए कहा कि वोटों की राजनीति के चलते केंद्र सरकार वन्य जीवों के आवास स्थल, जंगलों एवं चारागाह जमीन को बचाने के बजाय पिछले दिनों बिहार, राजस्थान एवं अन्य राज्यों में नीलगायों की हत्या की स्वीकृति के साथ ही हाथियों, मोरों एवं जंगली सुअरों तथा अन्य वन्य जीवों को मारने की स्वीकृति दे रही है, जो प्रकृति विनाश की श्रेणी में आता है। जाजू ने कहा कि नीलगाय की आड़ में लुप्त होते वन्य जीवों की हत्या कर उनके मांस को बेचने का धंधा पनप गया है। उन्होंने कहा कि सरकार को नीलगाय के नये आवास स्थल सुरक्षित करने के साथ इनका बधियाकरण करने की योजना बनाने के बजाय नीलगायों को मारने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। जाजू ने कहा कि सरकार की अनदेखी के चलते जंगलों का क्षेत्रफल कम होने से नीलगाय एवं अन्य वन्य जीव भोजन-पानी की तलाश में खेत खलिहानों तथा कस्बों की तरफ आ रहे हैं, जिन्हें कोई भी किसान नहीं मारना चाहता है। उल्लेखनीय है कि श्रीमती मेनका गांधी ने गत 9 जून को कहा था कि बिहार में आजादी के बाद सबसे बड़ा वन्यजीवों का संहार हुआ है और पर्यावरण मंत्रालय राज्यों को पत्र लिखकर जानवरों को मारने के बारे में कह रहा है। उन्होंने कहा कि पता चला है कि किसी भी राज्य ने जानवरों को मारने की इजाजत नहीं मांगी हैं। उन्होंने कहा कि हाथियों और बंदरों के बाद अब नीलगायों को मारा जा रहा है। एजेंसियां

मुख्य समाचार

Arvind Kejriwal, Manish Sisodia

केजरीवाल और सिसोदिया को आपराधिक मानहानि मामले में मिली जमानत

नई दिल्ली : आपराधिक मानहानि के मुकदमें में मंगलवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री (सीएम) अरविंद केजरीवाल और उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया को दिल्ली की राउज आगे पढ़ें »

Varanasi-Patalpuri- Guru Purnima-muslim women worshiped mahant

वाराणसी में गुरू पूर्णिमा के दिन मुस्लिम महिलाओं ने उतारी महंत की आरती

वाराणसी : धर्म की नगरी वाराणसी में गुरू पूर्णिमा के दिन मुस्लिम महिलाओं ने अपने गुरु पीठाधीश्वर महंत बालक दास की पूजा-आरती कर सामाजिक एकता आगे पढ़ें »

कुलभूषण जाधव मामले में बुधवार को फैसला सुनाएगी आईसीजे

द हेग : अंतरराष्ट्रीय न्याय अदालत (आईसीजे) भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव से जुड़े मामले में बुधवार को अपना फैसला सुनाएगी। पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत आगे पढ़ें »

रवि शास्त्री के दिन पूरे, नया कोच ढूंढ रहा बीसीसीआई

कोच और सपोर्ट स्टाफ का कार्यकाल खत्म हाे चुका है नई दिल्लीः भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने भारतीय टीम के नए कोच और सपोर्ट स्टाफ आगे पढ़ें »

amitabh in gulabo sitabo

प्रोस्थेटिक लगाने से परेशान हुए ये अभिनेता, साझा की तकलीफ

मुंबई : ‌फिल्मों में खुद को किरदार में पूरी तरह ढाल लेने वाले बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन इन दिनों अपने लुक्स में प्रोस्थेटिक को आगे पढ़ें »

kareena kapoor khan left dancing show

‘डांस इंडिया डांस 7’ से फिर करीना हुई गायब, दिखेंगी ये अभिनेत्री

मुंबईः शो 'डांस इंडिया डांस' के सातवें सीजन में करीना कपूर खान के बदले उनकी सबसे प्रिय सहेली मलाइका अरोड़ा नजर आयेंगी। दरअसल, करीना काफी आगे पढ़ें »

काउंटी क्रिकेट में अश्‍विन का बोलबाला, एक ही मैच में लिए 12 विकेट और 93 रन जड़े

विंडीज दौरे के लिए चयनकर्ताओं की नजर इन पर पड़ सकती है नई दिल्लीः विश्व कप के बाद लगभग सभी भारतीय खिलाड़ी भारत लौट चुके हैं। आगे पढ़ें »

चीन का नं. 1 डिजिटल एक्सेसरी ब्रांड बेसियस ने भारत में प्रवेश किया, 2020 के अंत तक 5-7 प्रतिशत हिस्सेदारी»

नई दिल्ली : चीन के नं. 1 डिजिटल एक्सेसरी ब्रांड बेसियस ने एक्सेसरी की पूरी श्रृंखला के साथ भारत में प्रवेश करने की घोषणा की। आगे पढ़ें »

Students imitating the exam

गुजरात बोर्ड में सामने आया सामूहिक नकल का मामला, सैकड़ों छात्रों ने लिखा एक ही जवाब

अहमदाबाद : गुजरात में बोर्ड की परीक्षा में एक ऐसे सामूहिक नकल का मामला सामने आया है जिसे सुनकर लोग हैरान हैं। वहीं गुजरात सेकेंडरी आगे पढ़ें »

इस क्षेत्र में चीन से बहुत पीछे हैं भारत

नई दिल्ली : बेहतर उपज के लिए फसलों की सुरक्षा करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि इससे किसानों को बढ़िया रिटर्न्स मिलेंगे। हालांकि किसानों की आमदनी को आगे पढ़ें »

ऊपर