मायावती ने भाजपा पर किया प्रहार : लगाया दोहरा चरित्र का आरोप

नईदिल्ली : बसपा समाज पार्टी की मुखिया मायावती ने एससी-एसटी एक्ट के विरोध में एक बार फिर जातिगत विवाद भरा बयान दिया है। 6 सितम्बर को भारत बंद को लेकर प्रतिक्रिया देते हुए शुक्रवार को भाजपा पर दोहरा चरित्र का आरोप लगाया है। बसपा सुप्रीमो ने इसे बीजेपी का ‘पॉलिटिकल स्टंट’ करार दिया है। कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि अपना जनाधार खिसकता देख भाजपा पर्दे के पीछे से यह खेल कर रही है।

चुनाव से पहले भाजपा जातियों को बांटना चाहती
उन्होंने कहा कि सिर्फ भाजपा शासित राज्यों में गुरुवार (06 सितंबर) को सवर्णों ने भारत बंद का आयोजन किया था। देश के अन्य किसी राज्य में इसको लेकर किसी प्रकार का विरोध नहीं हुआ। उन्होंने कहा कि चुनाव से पहले भाजपा जातियों को बांटना चाहती है। दिल्ली में बसपा सुप्रीमो ने कहा कि सवर्ण संगठनों के भारत बंद पर मायावती ने कहा कि भाजपा ही एससी-एसटी एक्ट को लेकर लोगों में भ्रम पैदा कर रही है। उन्होंने कहा कि मेरी सरकार के दौरान एससी-एसटी एक्ट का दुरुपयोग रोका गया था। हमने इस एक्ट को काफी अच्छे ढंग से पढ़ा है। कहीं पर भी एससी-एसटी एक्ट का दुरुपयोग नहीं हो रहा है। उन्होंने कहा उनकी पार्टी सर्वजन हिताय और सर्वजन सुखाय की हितैषी है।

भाजपा की नीतियां आम लोगों के लिए नहीं
बसपा सुप्रीमो ने अपनी बात रखते हुए कहा कि उनकी सरकार में ही पहली बार सवर्णों को आर्थिक रूप से आरक्षण देने की मांग उठाई। उन्होंने कहा कि मेरी सरकार में किसी के साथ अन्याय नहीं हुआ और न ही एससी-एसटी एक्ट का दुरुपयोग हुआ। मायावती ने कहा कि केंद्र सरकार की नीतियों की वजह से आम जनता त्राहि-त्राहि कर रही है। बिना किसी तैयारी के नोटबंदी और जीएसटी लागू कर केंद्र सरकार ने लोगों को बर्बाद कर दिया है। उन्होंने कहा कि कहा कि भाजपा की नीतियां आम लोगों के लिए नहीं है। इस दौरान उन्होंने लोगों को आगाह करते हुए कहा कि सर्वसाधारण को सर्तक रहने की जरुरत है। आपको बता दें कि 6 सितंबर को एससी/एसटी एक्ट के विरोध में पूरे देश में भारत बंद था।

आरपीआई के अध्यक्ष ने मायावती के बयान का किया पलटवार
वहीं केंद्रीय मंत्री और रिपब्लिकन पार्टी ऑफ़ इंडिया (आरपीआई) के अध्यक्ष रामदास अठावले शुक्रवार को सवर्णों के भारत बंद पर बसपा सुप्रीमो मायावती के आरोपों पर पलटवार करते हुए कहा कि भाजपा सरकारों को बदनाम करने के लिए विपक्ष ने साजिश रची। लखनऊ पहुंचे रामदास अठावले ने कहा भाजपा शासित प्रदेशों में अधिक आंदोलन इसलिए हुए क्योंकि वहां भाजपा को बदनाम करने का काम किया गया। एससी-एसटी एक्ट में संशोधन को लेकर सवर्णों का भारत बंद विपक्ष की चाल थी। अठावले ने कहा कि आने वाले चुनावों में लाभ लेने के लिए कुछ लोगों ने भाजपा की सरकारों को बदनाम करने का काम किया है।
अठावले ने कहा कि जहां भाजपा की सरकार है वहां विपक्ष आंदोलन करवा रही है। उन्होंने कहा कि लेकिन इसका लाभ नहीं मिलेगा। मध्यप्रदेश-छत्तीसगढ़ और राजस्थान में भाजपा को जीत मिलेगी। राहुल गांधी और मायावती कुछ भी कर लें कोई फायदा नहीं होगा।



Leave a Comment

अन्य समाचार

14 साल तक पुलिस की नौकरी की, अब बने डेप्युटी कलेक्टर

प्रयागराज : उत्तर प्रदेश में शुक्रवार को पीसीएस 2016 परीक्षा का परिणाम घोषित हुआ। परिणाम घोषित होने के साथ इंतजार में बैठे छात्रों के साथ उनके अभिभावकों का सीना गर्व से फूल गया। घोषित परिणाम में बलिया जिले की बैरिया [Read more...]

हमारी लड़ाई कश्मीरियों के खिलाफ नहीं, कश्मीर के लिए है : मोदी

टोंक : पुलवामा हमले के बाद पाकिस्‍तान तथा वहां स्‍थित आतंकी संग्‍ाठन जैश व उसके मुखिया मसूद पर विश्‍व भर से भारी दबाव बनाने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को राजस्थान में लोकसभा चुनाव प्रचार की शुरुआत की। [Read more...]

देवबंद के आतंकी पहले पकड़े जाते तो रोका जा सकता था पुलवामा हमले कोः सुरक्षा एजेंसी

दूसरा हादसाः बेंगलुरू में एयरो इंडिया शो के दौरान पार्किंग एरिया में खड़ी 100 कारों में आग लगी

जो बीसीसीआई और सरकार बोलेगी, हम वहीं करेंगे : कोहली

ग्रेटर नोएडा यमुना प्राधिकरण घोटाला मामलाः दारोगा की गिरफ्तारी के लिए आई सीबीआई टीम पर हमला, दो अधिकारी घायल

पुलवामा अटैक : कश्मीर में 10 हजार अतिरिक्त जवान तैनात होंगे

पुलवामा आतंकी हमले के विरोध में भारत कुछ बड़ा करने की सोच रहा हैः ट्रंप

असम मे जहरीली शराब के सेवन से 80 लोगों की मौत, जांच शुरू

निशानेबाजी विश्व कपः रिकार्ड स्कोर के साथ अपूर्वी ने भारत को दिलाया पहला स्वर्ण

मुख्य समाचार

प्रेमी को जमकर पीटा फिर पेट्रोल छिड़क कर जला दिया

पूर्व मिदनापुर: पूर्व मिदनापुर जिले के भूपतिनगर में एक प्रेमी युवक की पहले पिटाई की कई, बाद में शरीर पर पेट्रोल छिड़ककर फूंक दिया गया। आरोप उसकी प्रेमिका के घरवालों पर लगा है। मृतक की प्रेमिका, उसके घर के 4 [Read more...]

रेल रोको आंदोलन से चार घंटे तक ठहरी ट्रेनें

मालदहः माकपा कार्यकर्ताओं के रेल रोको आंदोलन के कारण कई स्टेशनों पर ट्रेनें घंटों खड़ी रह गईं। इससे यात्रियों को व्यापक परेशानी का सामना करना पड़ा। दरअसल 10 सूत्री मांगों के समर्थन में जिला माकपा ने शनिवार को हरिश्चंद्रपुर स्टेशन [Read more...]

ऊपर