मस्जिदों में महिलाओं के नमाज पढ़ने की इजाजत मांगी, शीर्ष न्यायालय से केन्द्र को नोटिस

नयी दिल्ली: मुस्लिम महिलाओं को मस्जिदों में नमाज पढ़ने की इजाजत दिये जाने की मांग को लेकर दायर की गयी एक याचिका पर सुनवाई करते हुये शीर्ष न्यायालय ने केन्द्र को नोटिस जारी किया है। न्यायमूर्ति एस ए बोबडे और न्यायमूर्ति एस अब्दुल नजीर की पीठ ने पुणे निवासी एक दंपति की याचिका पर केन्द्र को नोटिस जारी किया। पीठ ने स्पष्ट किया कि वह सबरीमला मंदिर मामले में उच्चतम न्यायालय के फैसले की वजह से ही इस याचिका की सुनवाई करेगी। पीठ ने याचिकाकर्ता के वकील से कहा, ‘‘हम सिर्फ सबरीमला मंदिर मामले में हमारे फैसले की वजह से ही आपको सुन सकते हैं।’’

संविधान के प्रावधानों का हवाला

मुस्लिम महिलाओं को नमाज पढ़ने के लिये मस्जिद में प्रवेश की अनुमति हेतु याचिका दायर करने वाले दंपति ने मस्जिदों में महिलाओं के प्रवेश पर पाबंदी को ‘‘गैरकानूनी’’ और ‘‘ असंवैधानिक’’ घोषित करने का अनुरोध किया है। याचिकाकर्ताओं ने संविधान के प्रावधानों का हवाला देते हुये कहा है कि देश के किसी भी नागरिक के साथ धर्म, जाति, वर्ग, लिंग या जन्म स्थान को लेकर भेदभाव नहीं होना चाहिए।

मस्जिद में प्रवेश करने पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकता

याचिका में कहा गया है कि गरिमा के साथ जीना और समता सबसे अधिक पवित्र मौलिक अधिकार है और किसी भी मुस्लिम महिला के मस्जिद में प्रवेश करने पर प्रतिबंध नहीं लगाया जा सकता। याचिका पर सुनवाई के दौरान पीठ ने याचिकाकर्ता के वकील से जानना चाहा कि क्या विदेशों में मुस्लिम महिलाओं को मस्जिद में प्रवेश की इजाजत है। इस पर याचिकाकर्ता के वकील ने कहा कि मुस्लिम महिलाओं को पवित्र मक्का की मस्जिद और कनाडा में भी मस्जिद में प्रवेश की अनुमति है। हालांकि, पीठ ने अधिवक्ता से सवाल किया कि क्या आप संविधान के अनुच्छेद 14 का सहारा लेकर दूसरे व्यक्ति से समानता के व्यवहार का दावा कर सकते हैं। याचिकाकर्ताओं के वकील ने कहा कि भारत में मस्जिदों को सरकार से लाभ और अनुदान मिलते हैं।

गौरतलब है कि तत्कालीन प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने 28 सितंबर, 2018 को 4:1 के बहुमत के फैसले में, केरल में स्थित सबरीमला मंदिर में सभी आयु वर्ग की महिलाओं के प्रवेश का मार्ग प्रशस्त कर दिया था। पीठ ने कहा था कि मंदिर में प्रवेश पर किसी भी प्रकार की पाबंदी लैंगिक भेदभाव के समान है।

मुख्य समाचार

कट मनी में दोषी पाए गए तो हो सकती है उम्रकैद

कोलकाता : कट मनी का मुद्दा दिनोंदिन गरमाता जा रहा है। विधानसभा से दिल्ली की संसद तक इसकी आंच पहुंच चुकी​ है। इधर इस मामले आगे पढ़ें »

हावड़ा व सियालदह से 4 खूंखार आईएस आतंकी गिरफ्तार

कोलकाता : कोलकाता पुलिस के एसटीएफ अधिकारियों ने इस्लामिक स्टेट (आईएस) के 4 खूंखार आतंकियों को महानगर से गिरफ्तार किया है। सूत्र बताते हैं कि आगे पढ़ें »

देश 5 सालों में ‘सुपर आपातकाल’ से गुजर रहा है : ममता

कोलकाता : सीएम ममता बनर्जी ने एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधा है। मुख्यमंत्री ने मंगलवार को 1975 में लगाए गए आपातकाल के आगे पढ़ें »

नए मोटर वाहन विधेयक को मिली केंद्रीय मंत्रिमंडल की मंजूरी, अब जुर्माना राशि 1 लाख तक

नई दिल्ली : लोकसभा में सोमवार को मोटर वाहन कानून में संशोधन वाले विधेयक को केंद्रीय मंत्रिमंडल से मंजूरी मिल गई है। इसके साथ वाहन आगे पढ़ें »

यह आपातकाल नहीं, जमानत मिलती है तो ‘एंजॉय’ करें – मोदी

नई दिल्ली : संसद में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लोकसभा में धन्यवाद प्रस्ताव पर चर्चा का जवाब देते हुये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि आगे पढ़ें »

हम किसी की लकीर छोटी करने में यकीन नहीं करते – मोदी

नई दिल्ली : संसद में मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने विपक्ष पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने लोकसभा में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव आगे पढ़ें »

राष्ट्रमंडल खेलों से हटने का एकतरफा फैसला नहीं कर सकता आईओए, सरकार से मशविरा करना होगा : र‌िजिजू

नई दिल्लीः खेल मंत्री किरण रिजिजू ने मंगलवार को कहा कि भारतीय ओलंपिक संघ (आईओए) 2022 में होने वाले बर्मिंघम राष्ट्रमंडल खेलों से हटने का आगे पढ़ें »

सभी के लिए आवास के सपने को सच कर दिखाएंगे-मोदी

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार कहा कि वे सभी परिवारों के लिए आवास के सपने को सच करने का हर संभव प्रयास आगे पढ़ें »

विलियम्सन के बैन को लेकर चिंता में कीवी टीम

लंदनः आईसीसी विश्वकप में स्लो ओवर रेट के लिये मैच फीस का जुर्माना झेल चुके न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन को टूर्नामेंट में एक और आगे पढ़ें »

वेस्टइंडीज के महान बल्लेबाज लारा मुंबई के अस्पताल में भर्ती

मुंबईः वेस्टइंडीज के महान क्रिकेटर ब्रायन लारा को बेचैनी की शिकायत के बाद मंगलवार को अस्पताल में भर्ती कराया गया। उन्हें परेल के ग्लोबल अस्पताल आगे पढ़ें »

ऊपर