भारत ने किया स्वदेशी मानव रहित स्क्रैमजेट विमान का सफल परीक्षण

बालासोर (ओडिशा) : भारत ने स्वदेश में विकसित पहले हाइपरसोनिक गति से उड़ान भरने वाले एक मानवरहित स्क्रैमजेट प्रदर्शक विमान का परीक्षण किया है। ओडिशा तट के पास स्थित एक एयरबेस से बुधवार को किया गया परीक्षण सफल रहा। रक्षा सूत्रों की मानें तो यह विमान देश में हाइपरसोनिक क्रूज मिसाइल प्रणाली विकसित करने की महत्वाकांक्षी कार्यक्रम का अहम हिस्सा है।

डॉ. अब्दुल कलाम द्वीप से हुआ परीक्षण

इस संबंध में रक्षा सूत्रों ने बताया कि अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) ने बताया यह परीक्षण बंगाल की खाड़ी में डॉ. अब्दुल कलाम द्वीप से पूर्वाह्न करीब 11 बजकर 25 मिनट पर किया। डीआरडीओ के सूत्रों ने कहा कि ‘‘नयी तकनीक का परीक्षण किया गया। रडार से प्राप्त डेटा दिखाता है कि परीक्षण सफल रहा।’’

दोहरे उपयोग की प्रौद्योगिकी

सूत्रों का कहना है कि डीआरडीओ के एचएसटीडीवी (हाइपरसोनिक प्रौद्योगिकी प्रदर्शक वाहन) कार्यक्रम के तहत करीब 20 सेकंड की कम अवधि के लिए स्क्रैमजेट प्रौद्योगिकी के प्रदर्शन के उद्देश्य से प्रदर्शक उड़ान विमान की अवधारणा की गई है। सूत्रों ने बताया कि हाइपरसोनिक और लंबी दूरी की क्रूज मिसाइलों के लिए यान के तौर पर प्रयोग किए जाने के अलावा यह एक दोहरे उपयोग की प्रौद्योगिकी है जो कई असैन्य कार्यों में भी प्रयोग की जाएगी। उन्होंने कहा कि इसका इस्तेमाल कम लागत में उपग्रहों के प्रक्षेपण में भी किया जा सकता है।

बता दें कि इस अवधारणा के साकार होने के साथ ही भारत उन चुनिंदा देशों में शामिल हो जाएगा जिनके पास इस प्रकार की तकनीक है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हुगली में हथियारों सहित कुख्यात टोटन समेत 2 गिरफ्तार

कार्बाइन, पिस्तौल व पाइपगन बरामद, टोटन के खिलाफ हत्या के 9 मामले हुगली : चंदननगर कमिश्नरेट की पुलिस ने अत्याधुनिक हथियारों के साथ हुगली जिले के आगे पढ़ें »

बेटी ने पति के साथ मिल कर मां को मार डाला

बेटी के विलासितापूर्ण जीवन के शौक में मां बन गई थी रोड़ा शव को ट्रॉली बैग में छिपाकर ले जाने की कोशिश पर्णश्री क बासुदेवपुर रोड की आगे पढ़ें »

ऊपर