भाजपा ने जारी की 184 प्रत्याशियों की सूची, मोदी वाराणसी से, आडवाणी का पत्ता साफ

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा ने अपने 184 उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी है। गुरुवार को भाजपा के वरिष्ठ नेता जे पी नड्डा ने संवाददाता सम्मेलन में लोकसभा चुनाव के लिये उम्मीदवारों की पहली सूची जारी की। उन्होंने बताया कि 16 मार्च, 19 मार्च और 20 मार्च को भाजपा की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक हुई। इसमें एक-एक करके राज्यों पर चर्चा हुई जिसमें भाजपा अध्यक्ष शाह, प्रधानमंत्री मोदी ने हिस्सा लिया।

कौन दिग्गज नेता कहां से लड़ेगा चुनाव

जारी सूची के अनुसार प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वाराणसी से चुनाव लड़ेंगे। भाजपा अध्यक्ष अमित शाह पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी की जगह गांधीनगर से मैदान में उतरेंगे। गृह मंत्री राजनाथ सिंह पुरानी सीट लखनऊ से लड़ेंगे जबकि नितिन गडकरी नागपुर से प्रत्याशी होंगे। स्मृति ईरानी अमेठी से चुनाव लड़ेंगी। ईरानी के सामने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी मुकाबले में होंगे। वहीं गौतमबुद्ध नगर (नोएडा) से डॉ. महेश शर्मा, मुज्जफरनगर से संजीव बालियान, गजियाबाद से वी के सिंह, बागपत से सत्यपाल सिंह, मथुरा से हेमा मालिनी को टिकट दिया गया है। उन्नाव से साक्षी महाराज को टिकट दिया गया है। इस बार केन्द्रीय मंत्री कृष्णा राज की जगह अरुण सागर को शाहजहांपुर से भाजपा उम्मीदवार बनाया गया। हालांकि केन्द्रीय मंत्री कृष्णा राज की जगह अरुण सागर को शाहजहांपुर से भाजपा उम्मीदवार बनाया गया।

अमित शाह गांधीनगर से मैदान में

भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी का नाम लोकसभा चुनावों के लिए भाजपा उम्मीदवारों की पहली सूची में नहीं होने से उनकी चुनावी राजनीति समाप्त होने के कयास लगाये जा रहे हैं। भाजपा ने गांधीनगर सीट से अपने अध्यक्ष अमित शाह को उतारा है। अब तक यह सीट आडवाणी के पास थी। पार्टी ने बताया कि भाजपा की प्रदेश इकाई ने मांग की थी कि या तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को या शाह को इस बार राज्य से लोकसभा चुनाव लड़ना चाहिए। वहीं प्रदेश भाजपा नेताओं की मांग को देखते हुए शाह गांधीनगर से चुनाव लड़ रहे है। पार्टी पर्यवेक्षक निमाबेन आचार्य ने बताया था कि भाजपा ने 16 मार्च को पार्टी कार्यकर्ताओं और नेताओं की राय जानने के लिए गांधीनगर में पर्यवेक्षकों को भेजा था और इनमें से अधिकतर ने शाह का पक्ष लिया। बता दें कि पूर्व उप प्रधानमंत्री आडवाणी (91) ने छह बार गांधीनगर सीट पर जीत दर्ज की है।

पार्टी ने काटे मौजूदा छह सांसदों का टिकट

लोकसभा चुनावों के मद्देनजर बीजेपी ने 182 प्रत्याशियों की लिस्ट में कई पुराने चेहरों को जगह दी गई है। वहीं कुछ मौजूदा सांसदों का टिकट कटा है। छत्तीसगढ़ की 5 लोकसभा सीटों पर सांसदों का टिकट काटा गया है।

सरगुजा – रेणुका सिंह

बस्तर- बैदूराम कश्यप

कांकेर -मोहन मंडावी जांजगीर

चांपा – गुहाराम

अजगलेरायगढ़ – गोमती साय

रेणुका सिंह पूर्व विधायक हैं। रेणुका सिंह अब तक सरगुजा के प्रेमनगर विधानसभा से लड़ती रही हैं। सांसद बनने से पहले वह दो बार विधायक रह चुकी हैं। 2013 में हुए विधानसभा चुनावों में रेणुका को शिकस्त का सामना करना पड़ा था। माना जा रहा है कि इसलिए पार्टी ने उनका 2018 का विधानसभा टिकट और अब लोकसभा चुनावों का टिकट काटा है। वहीं बैदूराम कश्यप बस्तर बीजेपी जिला अध्यक्ष हैं। बीजेपी में स्थानीय स्तर पर पकड़ मजबूत है। बस्तर में दिग्गजों के बीच बैदूराम कश्यप को पार्टी ने प्रत्याशी बनाया है। मोहन मंडावी छत्तीसगढ़ शिक्षक संघ शाखा कांकेर के पूर्व उपाध्यक्ष और समाजसेवी है। वर्तमान में तुलसी मानस प्रतिष्ठान के प्रांताध्यक्ष भी हैं। गोमती साय जशपुर जिला पंचायत अध्यक्ष हैं। गोमती ने विधानसभा चुनाव में कुनकुरी से टिकट मांगा था लेकिन नहीं मिला था, अब लोकसभा का टिकट मिला है। गुहाराम अजगले जांजगीर-चांपा के वरिष्ठ नेता हैं। अजगले एकबार के सांसद भी हैं।

दो पूर्व मुख्यमंत्रियों को नहीं मिला टिकट

वहीं उत्तराखंड में 11 अप्रैल को पहले चरण में होने वाले चुनाव के लिये बीजेपी द्वारा सभी पांचों सीटों पर घोषित उम्मीदवारों में दो नये चेहरों पर दांव लगाया है, जिनमें से एक वर्तमान प्रदेश अध्यक्ष अजय भट्ट हैं जबकि दूसरे तीरथ सिंह रावत पूर्व में प्रदेश की कमान को संभाल चुके हैं। पार्टी द्वारा घोषित नये उम्मीदवारों में नैनीताल सीट से पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह और गढ़वाल के पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद्र खंडूरी को टिकट नहीं मिला। हालांकि दोनों पूर्व मुख्यमंत्रियों, कोश्यारी और खंडूरी, की जगह नये चेहरों की घोषणा इसलिये हुई क्योंकि उन्होंने पार्टी हाईकमान को इस बार चुनाव न लड़ने की इच्छा से अवगत करा दिया था। यहां पार्टी सूत्रों का मानना है कि नैनीताल से भट्ट की उम्मीदवारी पौड़ी में रावत की उम्मीदवारी से ज्यादा मजबूत दिखाई दे रही है। खंडूरी के वफादारों में शुमार रावत का मुकाबला हाल में कांग्रेस में शामिल हुए उन्हीं के पुत्र मनीष से हो रहा है। यह देखना दिलचस्प होगा कि क्षेत्र में जबरदस्त प्रभाव रखने वाले भुवन चंद्र खंडूरी के वोट उनकी पार्टी के उम्मीदवार के पक्ष में जायेंगे या उनके पुत्र मनीष को इसका लाभ मिलेगा।

बता दें कि दूसरी तरफ, प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस महासचिव हरीश रावत के खड़े होने की प्रबल संभावना को देखते हुए मुकाबला कड़ा भी हो सकता है। दो साल पहले विधानसभा चुनावों में भट्ट के नेतृत्व में पार्टी ने 70 में से 57 सीटों पर ऐतिहासिक विजय हासिल की थी। हालांकि, भट्ट, स्वयं अपनी सीट अल्मोड़ा के रानीखेत विधानसभा क्षेत्र से हार गये थे लेकिन अब लोकसभा के लिये उन्हें पार्टी टिकट दिया जाना उनके लिये किसा पुरस्कार से कम नहीं माना जा रहा है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

राहुल लाएंगे ऐसी मशीन, आदमी डालो तो औरत निकलेगी: नंदकुमार चौहान

नई दिल्लीः लोकसभा चुनाव से पहले नेताओं में बयानबाजी का दौर तेजी से चल रहा है। नेता बयान देने से पहले मर्यादा का भी ध्यान नही रख रहे हैं। ताजा मामला खंडवा से सामने आया है, जहां भारतीय [Read more...]

एशियाई चैम्पियनशिप : कविंदर बिष्ट ने विश्व चैम्पियन को हराया, पंघल भी सेमीफाइनल में

बैंकाक : एशियाई मुक्केबाजी चैम्पियनशिप मुकाबले में 56 किलो भार वर्ग में भारत के कविंदर सिंह बिष्ट ने मौजूदा विश्व चैम्पियन कैराट येरालियेव को हराकर पहला पदक पक्का कर लिया है। वहीं ओलंपिक चैम्पियन हसनबोय दुस्मातोव को शिकस्त [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

आईपीएल फाइनल में बड़ा बदलाव, अब चेन्नई में नहीं बल्कि हैदराबाद के राजीव गांधी स्टेडियम में होगा मुकाबला

बीएसएन के इस प्रीपेड प्लान से 6 महीने तक जितनी मर्जी बात करें

उपराष्ट्रपति ने आतंकवाद के खात्मे के लिये विश्व समुदाय से एकजुट होने की अपील की

राहुल लाएंगे ऐसी मशीन, आदमी डालो तो औरत निकलेगी: नंदकुमार चौहान

शुभ मुहूर्त के चलते साध्वी प्रज्ञा ने किया एक दिन पहले किया नामांकन

दो चीनी इंजीनियरों को 72 घंटे के अंदर भारत छोड़ने का मिला नोटिस

एशियाई चैम्पियनशिप : कविंदर बिष्ट ने विश्व चैम्पियन को हराया, पंघल भी सेमीफाइनल में

कंगाल होते पाकिस्तान को एफडीआई में सुधार से कुछ राहत

महबूबा मुफ्ती का पाकिस्तान प्रेमः कहा-हमारे न्यूक्लियर बम दिवाली के लिए नहीं तो, पाक के भी…

श्रीनगर: एलओसी पार से व्यापार पर रोक के खिलाफ व्यापारियों का प्रदर्शन

ऊपर