भय्यू महाराज के गुप्त सेवादार ने खोला मौत का राज, डीआईजी को बताया

इंदौरः संत भय्यू महाराज की खुदकुशी की गुत्‍थी सुलझने के बजाय उलझती जा रही है। मामले की चल रही जांच अभी किसी एक दिशा में नहीं पहुंची कि फिर एक गुप्त चिट्ठी सामने आई है। मिली चिट्ठी से भय्यूजी महाराज की खुदकुशी करने के सारे तार उनकी पत्नी डॉ. आयुषी की तरफ मुड़ने लगे हैं। डीआईजी हरिनारायणचारी मिश्र को एक गुमनाम खत पहुंचा है जिसमें आयुषी पर कई गंभीर आरोप लगाए गए हैं। खत में लिखा है कि जिस दिन से डॉ. आयुषी से भय्यू जी ने शादी की उसके बाद से ही उनकी जिंदगी में उथल-पुथल शुरू हो गई थी। आयुषी ने जहां भय्यूजी को परिवार वालों से अलग करना शुरू कर दिया था वहीं बेटी कुहू से भी दूरी बनाने के लिए दबाव बनाना शुरू कर दिया था। पत्र में आरोप लगाया गया है कि उसकी नजरें उनकी प्रॉपर्टी पर थी। यह सारे आरोप डॉ. आयुषी पर उस खत में लगाए गए हैं। बताया जा रहा है कि 11 पन्नों का यह पत्र महाराज के सेवादार ने ही भेजा है। पत्र में आश्रम और परिवार की गोपनीय बातों का भी उल्लेख किया गया है। पत्र की सत्यता जांचने के आदेश दे दिए गए हैं।
सेवादार ने कहा- भय्यूजी की मौत का राज जानता है
डीआईजी को मिली चिट्ठी में लिखा है कि वह भय्यू महाराज का विश्वसनीय सेवादार है लेकिन उसकी हत्या की जा सकती है इसलिए उसने अपना नाम नहीं बताया है। उसने पत्र में लिखा है कि वह महाराज का सच्चा सेवादार था और उनकी मौत का राज जानता है। वह चाहता है कि भय्यूजी को मौत तक पहुंचाने वाले को सजा मिले। इस गुप्त सेवादार ने यह भी लिखा है कि भय्यू महाराज पिछले दो साल से मानसिक तनाव में थे। डॉ. आयुषी से शादी के बाद से ही वह काफी अकेलापन महसूस करने लगे थे। उनकी दूसरी पत्नी उनके हर काम में दखलअंदाजी करने लगी थीं। उन्होंने आश्रम आना भी कम कर दिया था। यही नहीं वह उनके रिश्तेदारों से मिलने जुलने पर भी पाबंदी लगाने लगी थी।
पत्नी के व्यवहार से काफी तनाव में आ गए थे भय्यूजी
पत्र में इस बात का खुलासा भी किया गया है कि आयुषी महाराज की पहली पत्नी माधवी की चर्चा होने पर भड़क जाया करती थीं। यही नहीं उन्होंने घर में लगी उनकी सारी तस्वीरों को भी हटवा दिया था। 11 पन्नों के पत्र में सेवादार ने आयुषी और भय्यू के परिवार से जुड़े कई राज से पर्दा उठाया है। जिसमें लिखा है कि भय्यू इतने तनाव में थे कि उन्होंने आखिरकार मौत को गले लगा लिया। बता दें कि भय्यू जी 12 जून को अपने इंदौर स्थित सिल्वर स्प्रिंग टाउनशिप में अपने बंगले पर कनपटी पर गोली मार जीवनलीला समाप्त कर ली थी।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

भाजपा 70 साल की रट लगाना बंद करे, हर बात की एक्सपायरी डेट होती है: प्रियंका गांधी

भदोहीः भाजपा सरकार के विकास के रिपोर्ट कार्ड के दावों को खोखला बताते हुये कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मंगलवार को कहा कि जमीनी वास्तविकता बिल्कुल अलग है और जहां तक भाजपा पिछले 70 साल की बात [Read more...]

जानिए इस साल के होलिका दहन का शुभ मुहूर्त, कथा और पूजा विधि

नई दिल्लीः होली जहां एक ओर पौराणिक और धार्मिक त्योहार है, वहीं यह रंगों का सामाजिक त्योहार भी है। इस दिन आम्रमंजरी तथा चन्दन को मिलाकर खाने का बड़ा माहात्म्य है। होली के उत्सव से एक दिन पहले होलिका की [Read more...]

मुख्य समाचार

भाजपा 70 साल की रट लगाना बंद करे, हर बात की एक्सपायरी डेट होती है: प्रियंका गांधी

भदोहीः भाजपा सरकार के विकास के रिपोर्ट कार्ड के दावों को खोखला बताते हुये कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने मंगलवार को कहा कि जमीनी वास्तविकता बिल्कुल अलग है और जहां तक भाजपा पिछले 70 साल की बात [Read more...]

बजाज फिनसर्व आरबीएल बैंक के सुपरकार्ड ने 1 मिलियन के आंकड़ें को छुआ, बना भारत का पहला सह-ब्रांडेड क्रेडिट कार्ड

नई दिल्ली : एनबीएफसी, बजाज फाइनेंस लिमिटेड और भारत के निजी क्षेत्र के एक सबसे तेजी से बढ़ते हुए आरबीएल बैंक ने घोषणा किया है कि बजाज फिनसर्व आरबीएल बैंक सुपरकार्ड दो वर्षों से थोड़े अधिक समय में एक मिलियन [Read more...]

ऊपर