मेडिटेशन सेंटर के पीछे नाबालिग बच्चों के साथ प्रमुख करता था यौन शोषण

बोधगया : बिहार इन दिनों नाबालिग बच्चों-बच्चियों के यौन शोषण मामले में चर्चा में बना हुआ है। आए दिन बिहार के किसी संस्‍था या एनजीओं में ऐसी घटनाएं सामने आ रही है। इसी क्रम में बिहार के बोधगया में बौद्ध चिंतन केंद्र के प्रमुख को पुलिस ने बुधवार (29 अगस्त) को गिरफ्तार ​कर लिया। केंद्र प्रमुख पर असमिया मूल के दर्जन भर से ज्यादा नाबालिग बच्चों के यौन शोषण का आरोप लगाया गया है। ये सभी बच्चे यहां रहकर शिक्षा प्राप्त करने आए थे। पीड़ित बच्चों की उम्र छह से 12 साल के बीच की है। आरोपी मठ प्रमुख का नाम भंते संघ प्रिय सुजोय है। बोधगया के एसएसपी राजीव कुमार ने मीडिया को बताया कि इस संबंध में बच्चों और उनके परिजनों की शिकायत के आधार पर कार्रवाई करते हुए पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है। पुलिस ने परिजनों से शिकायत मिलते ही मस्तीपुर गांव से आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी मठ प्रमुख भी असम का ही रहने वाला है।

बच्चों ने बताया कि प्रमुख बेडरूम में बुलाता और यौन उत्पीड़न करता
पुलिस ने इस संबंध में पीड़ित बच्चों के अलावा उनके परिजनों के बयान भी दर्ज किए गए हैं। इसके अलावा पुलिस ने बौद्ध स्कूल प्रसन्न ज्योति बौद्ध प्रारंभिक विद्यालय और ध्यान केंद्र को चलाने वाले एनजीओ प्रसन्न सोशल वेलफेयर ट्रस्ट के बारे में भी जानकारी इ​कट्ठा की जा रही है। एसएसपी ने बताया कि अगर किसी किस्म की धोखाधड़ी मिलती है तो ट्रस्ट के सभी सदस्यों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज की जाएगी। बच्चों ने पुलिस को बताया कि संघ प्रिय सुजोय, उन्हें अपने बेडरूम में बुलाता था और यौन उत्पीड़न किया करता था। उन्होंने ये भी कहा कि उनके साथ मारपीट भी की जाती थी अगर वह उनके साथ यौन उत्पीड़न में सहयोग करने से इंकार कर देती थी। ये सभी बच्चे इस केंद्र में एक साल से ज्यादा वक्त से अध्ययन कर रहे थे।

बच्चों को विष्‍णुपद तीर्थ के असम भवन में रखवाया गया है
बच्चों ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को अपने शरीर पर चोट के निशान भी दिखाए। अधिकारियों ने निजी तौर पर बच्चों से शिकायत दर्ज करवाने के बाद बात की थी। बच्चे असम के करबी अंगलोंग जिले के रहने वाले थे। उनके परिजन उसी गांव से फोन से सूचना मिलने के बाद बोधगया आए थे। परिजनों ने पुलिस से कहा कि मठ के प्रमुख को कड़ी सजा मिलनी चाहिए। एसएसपी ने बताया कि पुलिस ने न्यायिक मजिस्ट्रेट के सामने धारा 164 के तहत बयान करवाने से पहले उनका मेडिकल परीक्षण भी करवाया है। उन्होंने बताया कि सभी 15 बच्चों और उनके परिजनों को पुलिस सुरक्षा में विष्णुपद तीर्थ के नजदीक बने असम भवन में रखवाया गया है।

Leave a Comment

अन्य समाचार

सीमा पर गोला-बारूद रखने को बनेगी सुरंग, सेना ने एनएचपीसी के साथ किया करार

नयी दिल्ली : भारतीय सेना अपने गोला-बारूद को सुरक्षित रखने के लिये पाकिस्तान और चीन से लगे पहाड़ी क्षेत्रों में सुरंगनुमा गोदामों का इस्तेमाल करेगी। इसे बनाने के लिये सेना ने नेशनल हाइड्रोइलैक्ट्रिक पॉवर कारपोरेशन लिमिटेड (एनएचपीसी) के साथ [Read more...]

मारुति अगले साल अप्रैल से नहीं बेचेगी डीजल कारें

नई दिल्‍लीः देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी इंडिया (एमएसआई) ने गुरुवार को कहा है कि वह अपने पोर्टफोलियो में सभी डीजल कारों की बिक्री 1 अप्रैल, 2020 से बंद करेगी। एमएसआई के चेयरमैन आरसी भार्गव [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

सैमसंग ने लॉन्च किया दुनिया का सबसे बड़ा ओनिक्स सिनेमा एलईडी

सीमा पर गोला-बारूद रखने को बनेगी सुरंग, सेना ने एनएचपीसी के साथ किया करार

गिरिराज ने चुनावी सभा में दिया विवादित बयान, प्राथमिकी दर्ज

मारुति अगले साल अप्रैल से नहीं बेचेगी डीजल कारें

जापान ने डब्ल्यूटीओ में भारत के खिलाफ दर्ज मामले के समाधान से जुड़ी चर्चा में रुचि दिखाई

जनरल दलबीर सिंह सुहाग सेशेल्स में भारत के उच्चायुक्त नियुक्त

जेट एयरवेज ने इस एयरलाइन से मांगी मदद

कंधे की चोट के चलते आईपीएल से बाहर हुए बेंगलुरू के यह घातक तेज गेंदबाज

बीसीसीआई के मुख्य चयनकर्ता एमएसके प्रसाद के नाम पर लाखों की ठगी, ‌शिकायत दर्ज

प्रधानमंत्री मोदी का 7 किमी लंबा रोड शो, महारैली-सा नजारा रहा

ऊपर