पाक ने पीओके में बंद किए आतंकी शिविर, भारतीय सेना प्रमुख ने कहा जारी रहेगी निगरानी

इस्लामाबाद/नई दिल्ली : पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वहां की सरकार ने आतंकवाद के खिलाफ कदम उठाते हुए गुलाम कश्मीर (पीओके) में आतंकी शिविरों को बंद कर दिया है। पाक से सोमवार को आई मीडिया की रिपोर्ट्स की मानें तो उसने भारत के विरोध और अंतरराष्ट्रीय दबाव के कारण पिछले कुछ महीनों में अपनी धरती से आतंकी शिविरों को हटा ‌दिया है। इधर, भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत का कहना है कि आतंकी शिविर हटाए गए हैं या नहीं इस बात को जांचने का कोई तरीका नहीं है।

लश्कर, जैश और हिज्जबुल आतंकी शिविर बंद
मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पाकिस्तान ने कोटली में लश्कर-ए-तैयबा चलाए जा रहे कुछ बंद शिविरों को बंद कर दिया है। वहीं निकिआल में भी आतंकी ठिकाने बंद किए गए। मालूम हो कि ये इलाके भारत के सुंदरबनी और राजौरी सेक्टर के सामने पड़ते हैं। इसके अलावा बाग से भी जैश-ए-मोहम्मद और कोटली में हिज्बुल मुजाहिद्दीन के शिविरों को बंद किए जाने की बात कही गई है।

गुलाम कश्मीर में आतंकियों के 11 शिविर

साथ ही खुफिया एजेंसियों की रिपोर्ट के अनुसार मुजफ्फराबाद और मीरपुर में भी आतंकी शिविरों को बंद किया गया है। दरअसल, भारत ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गुलाम कश्मीर में आतंकी शिविर होने के सबूत पेश किए थे। साथ ही यह भी कहता रहा है कि इन शिविरों को पाकिस्तानी सेना से मदद मिलती है। भारत का कहना है कि गुलाम कश्मीर में आतंकियों के 11 शिविर हैं। उसका कहना है कि पाक स्थित मुजफ्फराबाद और कोटली में 5-5 और बरनाला में इलाके में एक शिविर संचालित किया जा रहा है।

इमरान ने मोदी को लिखा था पत्र
भारत ने आतंक के खिलाफ कड़ा रुख अपना रखा है। उसे इस मोर्चे पर विश्व के कई देेेशों का समर्थन भी हासिल है। बढ़ते दवाब के बीच पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर कश्मीर मुद्दे सहित सभी विवादों को सुलझाने की इच्छा जताई है। ऐसा पहली बार नहीं है कि इमरान ने भारत के साथ वार्ता का प्रस्ताव रखा हो। लेकिन भारत ने पहले ही अपना रुख स्पष्ट कर रखा है कि आतंकवाद और बातचीत साथ-साथ नहीं चल सकते।

गौरतलब है कि भारतीय वायुसेना द्वारा बालाकोट में की गई एयर स्ट्राइक के बाद भारतीय सेनाओं ने नियंत्रण रेखा के पास स्थित आतंकी संगठनों पर दबाव बना रखा है। गुलाम कश्मीर में एयर स्ट्राइक के बाद से घुसपैठ सामने नहीं आई है। भारत के आक्रामक रवैये को देखते हुए वहां स्थित आतंकी की घुसपैठ कराने की कोशिशें भी बंद कर दी गई है। वहीं खुफिया एजेंसियों ने भी पिछले दो महीने से आतंकी गतिविधियों को पूरी तरह से बंद कर दिये जाने की बात कही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

हुगली में हथियारों सहित कुख्यात टोटन समेत 2 गिरफ्तार

कार्बाइन, पिस्तौल व पाइपगन बरामद, टोटन के खिलाफ हत्या के 9 मामले हुगली : चंदननगर कमिश्नरेट की पुलिस ने अत्याधुनिक हथियारों के साथ हुगली जिले के आगे पढ़ें »

बेटी ने पति के साथ मिल कर मां को मार डाला

बेटी के विलासितापूर्ण जीवन के शौक में मां बन गई थी रोड़ा शव को ट्रॉली बैग में छिपाकर ले जाने की कोशिश पर्णश्री क बासुदेवपुर रोड की आगे पढ़ें »

ऊपर