दिल्ली के एक स्कूल में कक्षा 2 की छात्रा से बलात्कार

दिल्ली पुलिस व स्कूल प्राधिकार को दिल्ली महिला आयोग व राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग की नोटिस
नयी दिल्ली : नयी दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) के एक स्कूल में छह वर्षीया बच्ची के कथित बलात्कार की घटना के बाद दिल्ली महिला आयोग तथा राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने पुलिस और स्कूल प्राधिकार को नोटिस भेज उनसे संस्थान में सुरक्षा इंतजामों के बारे में सूचित करने को कहा है।
पुलिस ने बताया कि गोल मार्केट इलाके में स्थित एनडीएमसी के एक स्कूल में इलेक्ट्रिशियन ने कथित तौर पर स्कूल परिसर के भीतर दूसरी कक्षा की छात्रा से बलात्कार किया। अभियुक्त के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने पूछा है कि इलेक्ट्रिशियन की पृष्ठभूमि की जांच की गयी थी या नहीं और स्कूल में सीसीटीवी कैमरे लगाने जैसे सुरक्षा उपाय किए गए हैं या नहीं। मालीवाल ने दावा किया कि पीड़ित बच्ची की मां का आरोप है कि स्कूल इस मामले में लीपापोती करने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने पूछा कि लड़कियों के शौचालय तक पुरुष कर्मचारी कैसे पहुंचा? राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने भी दिल्ली के मुख्य सचिव और पुलिस को आयुक्त नोटिस जारी कर बच्ची से कथित तौर पर चार सप्ताह के भीतर बलात्कार की घटना पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है। आयोग ने कहा कि यह स्कूल अधिकारियों की ‘लापरवाही’ और पीड़िता के मानवाधिकार उल्लंघन का मामला है। ‘प्रथम दृष्टया घटना में स्कूल प्रशासन की लापरवाही झलकती है।’ मुख्य सचिव से यह भी बताने के लिए कहा गया है कि क्या दिल्ली के स्कूलों में अधिकारियों की तरफ से छात्रों की सुरक्षा के लिए जारी दिशानिर्देशों का पालन किया जा रहा है अथवा नहीं। पुलिस ने बताया कि लड़की बुधवार को स्कूल से जा रही थी तभी राम आसरे (37) उसे स्कूल परिसर में पम्प कक्ष में ले गया और उससे कथित तौर पर बलात्कार किया। उन्होंने कहा कि अभियुक्त ने लड़की को धमकी दी कि अगर उसने घटना के बारे में किसी को बताया तो इसके गंभीर परिणाम भुगतने होंगे। सूत्रों ने कहा कि अभियुक्त स्कूल में एक महीने से अधिक समय से काम कर रहा है और वह एनडीएमसी में स्थायी बिजली कर्मचारी है। उसे गिरफ्तार कर लिया गया है और भादंसं की संबंधित धाराओं तथा पोक्सो कानून के तहत उस पर मामला दर्ज किया गया है। काफी संख्या में अभिभावकों ने स्कूल के बाहर प्रदर्शन किया और अपनी बच्चों की सुरक्षा पर सवाल खड़े किए। जबकि, स्कूल के प्रतिनिधियों ने दावा किया कि उन्होंने अवांछित लोगों को परिसर में घुसने से रोकने के लिए पर्याप्त सुरक्षा उपाय किए थे। लेकिन दावे के उलट शुक्रवार को भी कई लोग बिना किसी रोकटोक के परिसर में घुसते दिखे। स्कूल के अधिकारियों का कहना है कि स्कूल परिसर में सीसीटीवी कैमरे लगे हैं तथा और भी कैमरे लगाए जा रहे हैं। लेकिन पुलिस ने कहा कि अपराध स्थल पर सीसीटीवी कैमरे नहीं थे। नयी दिल्ली नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) के प्रमुख नरेश कुमार से फोन कॉल और मैसेज के जरिये संपर्क करने की कोशिश की गयी लेकिन उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। वहीं, स्कूल प्राचार्य एक हफ्ते से ज्यादा समय से छुट्टी पर हैं।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

विंग कमांडर अभिनंदन का कश्मीर से किया गया ट्रांसफर, सुरक्षा के मद्देनजर लिया गया फैसला

नई दिल्ली : भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को सुरक्षा के मद्देनजर कश्मीर से ट्रांसफर कर दिया गया है। आपको बता दें कि वह श्रीनगर स्थित एयरबेस पर तैनात थे लेकिन सुरक्षा कारणों से उनका स्थानांतरण कर [Read more...]

मतदान केंद्र पर चुनाव अधिकारी को आया हार्ट अटैक, सीआरपीएफ जवान ने सूझबूझ से बचाई जान

श्रीनगरः लोकसभा चुनाव के दौरान जहां प्रत्याशी एक दूसरे पर हमलावर हो रहे है। सुरक्षाबलों का लगातार इस्तेमाल चुनावी प्रचार करने में लगे है। वहीं दूसरी तरफ सीआरपीएफ का एक जवान चुनाव ड्यूटी पर तैनात एक कश्‍मीरी मतदान अधिकारी के [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

विंग कमांडर अभिनंदन का कश्मीर से किया गया ट्रांसफर, सुरक्षा के मद्देनजर लिया गया फैसला

मतदान केंद्र पर चुनाव अधिकारी को आया हार्ट अटैक, सीआरपीएफ जवान ने सूझबूझ से बचाई जान

एक फोन के बदले गूगल ने क्यों ऑफर किए 10 नए स्मार्टफोन

साध्वी प्रज्ञा सिंह को चुनाव आयोग का नोटिस

कसाब जैसा आतंकी था वैसी ही आतंकी हैं साध्वी प्रज्ञा: प्रकाश आंबेडकर

दिग्विजय सिंह ने कहा- हिन्दुत्व शब्द मेरी डिक्शनरी में नहीं

रहाणे से छीन गई रॉयल्स की अगुवाई

स्पाइसजेट ने जेट एयरवेज के 500 कर्मचारियों को दिया रोजगार

प्रधानमंत्री मोदी पर आधारित वेब सीरीज पर चुनाव आयोग की रोक

अब राहुल की नागरिकता पर ही उठे सवाल

ऊपर