चीन, भारत ‘शानदार वृद्धि’ की राह पर

परोक्ष युद्धों में शामिल देशों को ओबामा ने चेताया

संयुक्त राष्ट्र : अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने मंगलवार को संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने आखिरी संबोधन में कहा कि अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था के चलते चीन और भारत ‘शानदार वृद्धि’ की राह पर हैं। हमारी अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था इतनी सफल है कि आज महाशक्तियों को विश्व युद्ध नहीं लड़ना पड़ता, यह शीतयुद्ध का अंत है और इससे परमाणु शस्त्राें की होड़ भी खत्म हो गयी है। ओबामा ने साथ ही परोक्ष युद्धों में शामिल राष्ट्रों को इसे खत्म करने की सलाह देते हुए उन्हें चेतावनी दी कि यदि समुदायों को सह अस्तित्व की इजाजत नहीं दी गयी तो चरमपंथ के अंगारे उन्हें जला डालेंगे जिससे अनगिनत लोग पीड़ित होंगे और चरमपंथ बाहरी मुल्कों में पहुंचेगा।

ओबामा ने कहा कि शीत युद्ध की समाप्ति के करीब 25 साल बाद अब दुनिया में काफी हद तक कम हिंसा हो रही है और यह अधिक समृद्ध है।

उन्होंने कहा कि हमें इस बात पर जोर देना होगा कि सभी पक्ष एक साझा मानवता को मान्यता दें और अव्यवस्था को तूल देने वाले परोक्ष युद्धों को देश खत्म करें। भारत ने पाकिस्तान पर जैश ए मोहम्मद लश्कर ए तैयबा जैसे आतंकी संगठनों को समर्थन देकर, सशस्त्र करने और प्रशिक्षण देकर एक परोक्ष युद्ध छेड़ने का आरोप लगाया है। ये संगठन सीमा पार से भारत की सरजमीं पर हमले करते हैं।

ओबामा का बयान अमरीकी विदेश मंत्री जॉन केरी की टिप्पणी के एक दिन बाद आया है जिसमें उन्होंने पाक प्रधानमंत्री नवाज शरीफ से कहा था कि वह आतंकवादियों को अपनी सरजमीं का सुरक्षित पनाहगाह के तौर पर इस्तेमाल करने से रोकें।

बान ने कश्मीर का जिक्र नहीं किया : संयुक्त राष्ट्र महासचिव बान की-मून ने अपने अंतिम संबोधन में मंगलवार को कश्मीर या घाटी की मौजूदा स्थिति का कोई जिक्र नहीं किया, जबकि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने विश्व संगठन से बार-बार अनुरोध किया था कि वह भारत-पाकिस्तान के बीच कश्मीर मुद्दा सुलझाने में मदद करे।

‘सामान्य चर्चा’ के उद्घाटन सत्र में संयुक्त राष्ट्र महासचिव के रूप में अपने अंतिम संबोधन में बान ने सीरिया संकट, फिलिस्तीन मुद्दा, म्यांमार और श्रीलंका की स्थिति तथा शरणार्थी और प्रवासियों के पयालन सहित दुनिया के कई मुद्दे उठाए। उन्होंने कोरियाई प्रायद्वीप और पश्चिम एशिया में तनाव, दक्षिण सूडान मेंं तनाव, हिंसक चरमपंथ और यमन, लीबिया, इराक, अफगानिस्तान से लेकर साहेल और लेक चाड बेसिन तक के क्षेत्रों पर उसके प्रभाव पर चर्चा की। हालांकि, बान ने कश्मीर या घाटी में तनाव पर कुछ भी नहीं बोला। जबकि पाकिस्तान ने बार-बार संयुक्त राष्ट्र से अपील की थी कि वह भारत-पाकिस्तान के बीच इस मुद्दे को सुलझाने में मदद करे। घाटी में पिछले 10 सप्ताह से भी ज्यादा समय से अशांति का माहौल है।

महासभा में बुधवार को प्रधानमंत्री शरीफ के भाषण का मुख्य मुद्दा कश्मीर रहने की संभावना है। घाटी के उड़ी में रविवार को सेना के शिविर पर पाकिस्तान स्थित संगठन जैश-ए-मोहम्मद के भारी हथियाराें से लैस आतंकवादियों के हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के रिश्ते बहुत ज्यादा तनावपूर्ण हो गये हैं। हमले में देश के 18 जवान शहीद हुए हैं।

बान के कार्यालय ने बार-बार कहा है कि संयुक्त राष्ट्र प्रमुख कार्यालय कश्मीर मुद्दा सुलझाने के लिए उपलब्ध हैं, यदि भारत और पाकिस्तान दोनों इसके लिए अनुरोध करें। यह एक स्पष्ट संदेश है कि कश्मीर द्विपक्षीय मुद्दा है और उसे दो देशों को ही सुलझाना चाहिए। बान का पांच वर्ष का दूसरा कार्यकाल 31 दिसंबर, 2016 को समाप्त हो रहा है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

विंग कमांडर अभिनंदन का कश्मीर से किया गया ट्रांसफर, सुरक्षा के मद्देनजर लिया गया फैसला

नई दिल्ली : भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को सुरक्षा के मद्देनजर कश्मीर से ट्रांसफर कर दिया गया है। आपको बता दें कि वह श्रीनगर स्थित एयरबेस पर तैनात थे लेकिन सुरक्षा कारणों से उनका स्थानांतरण कर [Read more...]

मतदान केंद्र पर चुनाव अधिकारी को आया हार्ट अटैक, सीआरपीएफ जवान ने सूझबूझ से बचाई जान

श्रीनगरः लोकसभा चुनाव के दौरान जहां प्रत्याशी एक दूसरे पर हमलावर हो रहे है। सुरक्षाबलों का लगातार इस्तेमाल चुनावी प्रचार करने में लगे है। वहीं दूसरी तरफ सीआरपीएफ का एक जवान चुनाव ड्यूटी पर तैनात एक कश्‍मीरी मतदान अधिकारी के [Read more...]

मुख्य समाचार

आरबीआई ने रेपो रेट घटाई, लोन सस्ते होने की उम्मीद

मुंबईः भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने रेपो रेट में 0.25% की कटौती की है। यह 6.25% से घटकर 6% हो गई है। मॉनेटरी पॉलिसी कमेटी (एमपीसी) की बैठक खत्म होने के बाद गुरुवार को ब्याज दरों की घोषणा की गई। [Read more...]

कांग्रेस का पूरा घोषणापत्र हिंदी में पढ़ें

कांग्रेस ने मंगलवार को अपना घोषणापत्र जारी किया जिसमें गरीब परिवारों को 72 हजार रुपये सालाना, 22 लाख सरकारी नौकरियां, महिलाओं को आरक्षण, धारा 370 को न हटने देने और देशद्रोह की धारा हटाने सहित कई वादे किए। यहां क्लिक [Read more...]

फोर्ब्स ने जारी की अरबपतियों की सूचि, जानिए भारत की रैंकिंग

विकास के राह पर चल रहा है भारत, दुनिया के लिए अपार संभावनाएं: सिन्हा

विंग कमांडर अभिनंदन का कश्मीर से किया गया ट्रांसफर, सुरक्षा के मद्देनजर लिया गया फैसला

मतदान केंद्र पर चुनाव अधिकारी को आया हार्ट अटैक, सीआरपीएफ जवान ने सूझबूझ से बचाई जान

एक फोन के बदले गूगल ने क्यों ऑफर किए 10 नए स्मार्टफोन

साध्वी प्रज्ञा सिंह को चुनाव आयोग का नोटिस

कसाब जैसा आतंकी था वैसी ही आतंकी हैं साध्वी प्रज्ञा: प्रकाश आंबेडकर

दिग्विजय सिंह ने कहा- हिन्दुत्व शब्द मेरी डिक्शनरी में नहीं

रहाणे से छीन गई रॉयल्स की अगुवाई

स्पाइसजेट ने जेट एयरवेज के 500 कर्मचारियों को दिया रोजगार

ऊपर