एनआरसी मामले में ममता पर एफआईआर, टीएमसी के दो नेताओं ने छोड़ा पार्टी

नई दिल्ली: पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ भाजपा युवा मोर्चा के तीन लोगों ने एनआरसी मुद्दे पर एफआईआर दर्ज करवाई है। मालूम हो कि एनआरसी के मुद्दे पर बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा था कि एनआरसी राजनैतिक उद्देश्यों से किया जा रहा है। हम ऐसा होने नहीं देंगे। वे (भाजपा) लोगों को बांटने का प्रयास कर रहे हैं। इस स्थिति को बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। देश में गृह युद्ध, रक्तपात हो जाएगा।’’। शिकायत के मुताबिक ममता असम में एनआरसी की शांतिपूर्ण प्रक्रिया को नुकसान पहुंचाने की कोशिश कर रही हैं। ममता पर प्रदेश के साम्प्रदायिक सद्भवना को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाया गया है। वहीं एनआरसी मुद्दे का विरोध करान टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी को महंगा पड़ता नजर आ रहा है। पार्टी में ही इनके पक्ष में बगावत हो गई है। इस विरोध में दो नेताओं ने पार्टी तक छोड़ दिया।
ममता ने कहा था देश में रक्तपात और गृह युद्ध छिड़ जाएगा
आपको बतां दे कि मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आरोप लगाया था कि असम में राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनआरसी) की कवायद राजनैतिक उद्देश्यों से की गई ताकि लोगों को बांटा जा सके। उन्होंने चेतावनी दी कि इससे देश में रक्तपात और गृह युद्ध छिड़ जाएगा। भाजपा पर हमला करते हुए उन्होंने कहा था कि यह पार्टी देश को बांटने का प्रयास कर रही है और इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। मालूम हो कि असम में रह रहे असली भारतीय नागरिकों की पहचान के लिए उच्चतम न्यायालय की निगरानी में चल रही व्यापक कवायद के तहत अंतिम मसौदा सूची में 40 लाख से अधिक लोगों को जगह नहीं मिली है। इस मुद्दे की गूंज संसद के दोनों सदनों में सुनाई पड़ी। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने विपक्ष से अपील की कि वह इस संवेदनशील मामले का राजनीतिकरण नहीं करे क्योंकि सूची उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर प्रकाशित की गई है और केंद्र की इसमें कोई भूमिका नहीं है। उन्होंने कहा कि एनआरसी की मसौदा सूची में जिन लोगों के नाम नहीं हैं, उनके खिलाफ कोई दंडात्मक कार्रवाई नहीं की जाएगी।
टीएमसी के दो नेताओं ने छोड़ी पार्टी
असम में नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन्स (एनआरसी) मसले पर विपक्षी दलों को एकजुट करने की कोशिश में जुटी टीएमसी प्रमुख और पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता की पार्टी में ही बगावत हो गई है. असम में टीएमसी के दो नेताओं ने पार्टी छोड़ दी है। टीएमसी छोड़ने वाले नेता दिगंत सैकिया और प्रदीप पचोनी ने कहा कि ममता बनर्जी को एनआरसी की वास्तविक सच्चाई पता नहीं है। बिना किसी जानकारी के उन्होंने एनआरसी की निंदा की है। दिगंत सैकिया ने कहा कि ममता बनर्जी जो कह रही हैं उसमें और असम की जमीनी सच्चाई में काफी अंतर है।

एसे अन्य लेख

Leave a Comment

अन्य समाचार

ट्रम्प पर 16 राज्यों ने मुकदमा किया

सैन फ्रांसिस्को : मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के लिये राष्ट्रीय आपातकाल घोषित करने के फैसले के खिलाफ अमेरिका के 16 राज्यों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन के खिलाफ मुकदमा दायर किया है। इन राज्यों ने ट्रंप के इस [Read more...]

जैश सरगना पाकिस्तान में है, यह सबूत कार्रवाई के लिये पर्यात : विदेश मंत्रालय

नई दिल्ली : गत 14 फरवरी को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुये आतंकी हमले को लेकर मंगलवार को पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान के भारत से सबूत मांगने और हमले की साजिश रचनेवालों के खिलाफ कार्रवाई का आश्वासन देने के बाद [Read more...]

मुख्य समाचार

ट्रम्प पर 16 राज्यों ने मुकदमा किया

सैन फ्रांसिस्को : मेक्सिको सीमा पर दीवार निर्माण के लिये राष्ट्रीय आपातकाल घोषित करने के फैसले के खिलाफ अमेरिका के 16 राज्यों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशासन के खिलाफ मुकदमा दायर किया है। इन राज्यों ने ट्रंप के इस [Read more...]

भारत और अर्जेंटीना ने की साझेदारी, 2025 तक 5 ट्रिलियन अमरीकी डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य रखा

नई दिल्ली : केंद्रीय वाणिज्य, उद्योग और नागर विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि भारत अर्जेंटीना के साथ द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने का इच्छुक है। यह लैटिन अमेरिकी क्षेत्र में भारत का एक प्रमुख व्यापारिक भागीदार है। नई [Read more...]

ऊपर