इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने कहा- माफी मांगें मुख्यमंत्री खट्टर

चंडीगढ़ः इनेलो सांसद दुष्यंत चौटाला ने हरियाणा सरकार पर आरोप लगाया है कि वह उनकी बदनामी करने की कोशिश कर रही है और इसके लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को माफी मांगनी चाहिए।
प्रकाश सिंह समिति की रिपोर्ट में दुष्यंत का नाम जाट आंदोलन के दौरान कथित तौर पर ‘आग में घी डालने’ वाले के रूप में लिया गया है। दुष्यंत ने दावा किया कि रिपोर्दुष्यंत चौट में उनका नाम बिना किसी साक्ष्य के डाला गया। उन्होंने कहा, ‘मुझे बदनाम करने के लिए मेरा नाम जानबूझकर सार्वजनिक किया गया है। मैं रिपोर्ट में बिना किसी सबूत के अपना नाम डाले जाने पर विशेषाधिकार नोटिस भेजूंगा।’ हिसार से लोकसभा सांसद ने कहा, ‘प्रकाश सिंह समिति की रिपोर्ट में उल्लेख किया गया है कि मैंने विशाल जाट महासभा को संबोधित किया था, जबकि सच्वाई यह है कि मैंने न तो कभी इस तरह की कोई महासभा की और न ही कोई भाषण दिया।’ उन्होंने यहां कहा, ‘यदि सरकार या समिति के पास किसी तरह के ऑडियो या वीडियो सहित किसी भी तरह का कोई सबूत है तो इसे सार्वजनिक किया जाना चाहिए, अन्यथा उन्हें माफी मांगनी चाहिए।’ हालांकि उत्तर प्रदेश के पूर्व पुलिस महानिदेशक एवं बीएसएफ के पूर्व प्रमुख प्रकाश सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘मैंने कुछ भी नहीं गढ़ा है। मैंने सरकारी रिकॉर्ड को देखा और इस रिकॉर्ड में मैंने जहां भी यह पाया कि कुछ आपत्तिजनक भाषण दिए गए थे, इन्हें मैंने एक अध्याय में क्रमबद्ध कर दिया।’ चौटाला ने हालांकि कहा कि यदि सरकार या समिति के पास सबूत है कि उन्होंने इस तरह की बात कही तो उन्हें सबूत पेश करना चाहिए, अन्यथा मुख्यमंत्री को सार्वजनिक रूप से माफी मांगनी चाहिए। दुष्यंत चौटाला ने कहा, ‘यदि समिति द्वारा मुझ पर लगाए जा रहे आरोप साबित होते हैं तो मैं कोई भी दंड भुगतने, यहां तक कि सांसद के रूप में इस्तीफा देने को भी तैयार हूं। हालांकि यदि सरकार मेरे खिलाफ आरोप साबित करने में विफल रहती है तो मैं इस मुद्दे पर लोकसभा में विशेषाधिकार हनन प्रस्ताव लाने पर विवश हो जाऊंगा।’ वहीं, कथित जाट विरोधी टिप्पणियों के लिए मशहूर कुरुक्षेत्र के भाजपा सांसद राजकुमार सैनी ने भी बुधवार को प्रकाश सिंह समिति रिपोर्ट की आलोचना की और कहा कि यदि यह साबित हो जाए कि हिंसा उनकी टिप्पणियों की वजह से भड़की थी तो वह राजनीति छोड़ देंगे। झज्जर की उपायुक्त अनीता यादव ने भी बुधवार को रिपोर्ट की निंदा की थी और इसे ‘झूठ का पुलिंदा’ करार दिया था। रिपोर्ट में अनीता की काफी आलोचना की गयी है। एजेंसियां

Leave a Comment

अन्य समाचार

शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए बारात की जगह निकाला जुलूस, बजे देशभक्ति गाने, देखें तस्वीरें

अहमादबाद : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में केन्द्रीय आरक्षित सुरक्षा बल के शहीदों को देशभर में श्रद्धांजलि देने का दौर जारी है। इसी बीच गुजरात के वडोदरा में एक परिवार ने शादी के दौरान बारात में देशभक्ति गाने बजाकर शहीदों को [Read more...]

कश्मीर में जनमत संग्रह कराने से क्यों कतरा रही है सरकार : कमल हासन

चेन्नईः दक्षिण भारतीय सुपरस्टार कमल हासन एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं। एक तरफ जहां देश में पुलवामा आतंकी हमले को लेकर लोगों में आक्रोश है वहीं, दूसरी तरफ कमल हासन कश्मीर में जनमत संग्रह कराने की बात [Read more...]

मुख्य समाचार

शहीदों को श्रद्धांजलि देने के लिए बारात की जगह निकाला जुलूस, बजे देशभक्ति गाने, देखें तस्वीरें

अहमादबाद : जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में केन्द्रीय आरक्षित सुरक्षा बल के शहीदों को देशभर में श्रद्धांजलि देने का दौर जारी है। इसी बीच गुजरात के वडोदरा में एक परिवार ने शादी के दौरान बारात में देशभक्ति गाने बजाकर शहीदों को [Read more...]

कश्मीर में जनमत संग्रह कराने से क्यों कतरा रही है सरकार : कमल हासन

चेन्नईः दक्षिण भारतीय सुपरस्टार कमल हासन एक बार फिर विवादों में घिर गए हैं। एक तरफ जहां देश में पुलवामा आतंकी हमले को लेकर लोगों में आक्रोश है वहीं, दूसरी तरफ कमल हासन कश्मीर में जनमत संग्रह कराने की बात [Read more...]

ऊपर