आईटीबीपी का पहला समारक आज होगा समर्पित

नयी दिल्ली : देश की सीमाओं की रक्षा में मुस्तैद भारत तिब्बत सीमा पुलिस (आईटीबीपी) का पहला केंद्रीय स्मारक राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के ग्रेटर नोएडा में बनकर तैयार है और 21 अक्टूबर को पुलिस स्मृति दिवस पर उसे अर्द्धसैनिक बल को समर्पित कर दिया जाएगा।
आईटीबीपी का यह पहला केंद्रीय स्मारक अर्द्धसैनिक बल की 39वीं बटालियन ने उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा में बनाया है और पुलिस स्मृति दिवस पर रविवार को इसे बल को समर्पित किया जाएगा। आईटीबीपी में अब तक स्मारक के रूप उसके संबद्ध क्षेत्रीय मुख्यालयों का इस्तेमाल किया जाता था। आईटीबीपी सन् 1962 से देश की 3488 किलोमीटर लम्बी सीमा की चौकसी में जुटा है। बल के जवान नक्सलियों से मोर्चा लेने के अलावा आपदा के समय भी देशसेवा में जुटे रहते हैं। केदारनाथ आपदा के समय वहां फंसे लोगों को बचाने के प्रयास में इसके 16 जवान हेलीकॉप्टर हादसे में शहीद हो गए थे। बल के 90 जवान अब तक विभिन्न क्षेत्रों में सेवाएं देते हुए शहीद हुए हैं।

Leave a Comment

अन्य समाचार

भारत-भूटान सीमांत शहर जयगांव से 55 लाख के साथ 4 गिरफ्तार

अलीपुरद्वार/कोलकाताः अलीपुरद्वार जिले के भारत-भूटान सीमांत शहर जयगांव से सोमवार को चुनाव आयोग के अधिकारियों और पुलिस की संयुक्त छापेमारी में 55 लाख रुपये सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। अलीपुरद्वार जिले के अतिरिक्त पुलिस [Read more...]

पुलिस की नाक के नीचे हो रही थी गांजे की खेती, हुआ पर्दाफाश

झाड़ग्राम : झाड़ग्राम में पुलिस की नाक के नीचे ही पिछले काफी समय से गांजे की खेती की जा रही थी जिसका आखिरकार पर्दाफाश हुआ। गोपीबल्लभपुर इलाके में पुलिस और आबकारी विभाग ने मिलकर गांजे की खेती [Read more...]

मुख्य समाचार

भारत-भूटान सीमांत शहर जयगांव से 55 लाख के साथ 4 गिरफ्तार

अलीपुरद्वार/कोलकाताः अलीपुरद्वार जिले के भारत-भूटान सीमांत शहर जयगांव से सोमवार को चुनाव आयोग के अधिकारियों और पुलिस की संयुक्त छापेमारी में 55 लाख रुपये सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। अलीपुरद्वार जिले के अतिरिक्त पुलिस [Read more...]

पुलिस की नाक के नीचे हो रही थी गांजे की खेती, हुआ पर्दाफाश

झाड़ग्राम : झाड़ग्राम में पुलिस की नाक के नीचे ही पिछले काफी समय से गांजे की खेती की जा रही थी जिसका आखिरकार पर्दाफाश हुआ। गोपीबल्लभपुर इलाके में पुलिस और आबकारी विभाग ने मिलकर गांजे की खेती [Read more...]

ऊपर