आईएसआईएस से जुड़े होने के संदेह में गिरफ्तारी

बम बनाने का सामान बरामद, धार्मिक स्थलों पर हमले की थी योजना, दो भाई गिरफ्तार

राजकोट/अहमदाबाद : गुजरात एटीएस ने रविवार को आईएसआईएस से संदिग्ध तौर से जुड़े दो भाइयों को गिरफ्तार किया जो राज्य में ‘लोन वुल्फ’ हमला करने की साजिश रच रहे थे। पुलिस ने कहा कि दो भाई वसीम और नईम रामोदिया कथित तौर पर आईएसआईएस हैंडलर के संपर्क में थे और चोटिला जैसे धार्मिक स्थलों को निशाना बनाने की साजिश कर रहे थे। वसीम के पास एमसीए और नईम के पास बीसीए की डिग्री है। पुलिस ने दोनों के पास से बम बनाने का सामान व जेहादी साहित्य बरामद किया है। इनकी कथित गतिविधियों के बारे में मिली सूचना के बाद एटीएस अधिकारियों ने वसीम को राजकोट और उसके छोटे भाई नईम को भावनगर से तड़के की गई छापेमारी के बाद पकड़ा। पुलिस ने कहा कि ये ‘आईएसआईएस की जेहादी विचारधारा से प्रेरित थे।’ गुजरात आतंकवाद निरोधी दस्ते के महानिरीक्षक जे के भट्ट के मुताबिक, राजकोट और भावनगर में इनके घरों पर छापेमारी के दौरान आईएसआईएस संदिग्धों के पास से विस्फोटक और जेहादी साहित्य बरामद किया गया। भट्ट ने अहमदाबाद में संवाददाताओं को बताया,-‘हम पिछले तीन महीनों से उनकी गतिविधियों पर नजर रख रहे थे क्योंकि ये पाया गया कि वे स्काइप और टेलीग्राम, ट्विटर तथा वाट्सएप जैसे दूसरे सोशल मीडिया माध्यमों के जरिये आईएसआईएस के संपर्क में हैं। हमने राजकोट और भावनगर में छापा मारकर दोनों को गिरफ्तार किया।’ एटीएस के एसीपी बी एस चावडा ने कहा कि जांच में खुलासा हुआ कि दोनों ने सुरेंद्रगढ़ जिले के चोटिला कस्बे में प्रसिद्ध मंदिर को निशाना बनाने की साजिश रची थी। उन्होंने कहा कि आतंक फैलाने के लिए दोनों ने हमले का वीडियो रिकॉर्ड करने और उसे सोशल मीडिया पर अपलोड करने की भी साजिश रची थी। चावडा ने कहा कि इन दोनों ने विभिन्न जगहों पर बम धमाके करने और गाड़ियों में आग लगाने की भी साजिश की थी जिससे दहशत फैलायी जा सके।

हमले को अंजाम दे सकें
चावडा ने कहा कि कंप्यूटर एप्लीकेशन की डिग्रीधारक दोनों भाइयों को ऑनलाइन आईएसआईएस साहित्य के संपर्क में आने के बाद पिछले दो सालों से जेहादी विचारधारा के प्रति प्रेरित किया जा रहा था। अधिकारी ने कहा कि ये दोनों आईएसआईएस के विवादास्पद उपदेशक मुफ्ती अब्दुस सामी कासमी के भी संपर्क में थे जिसे एनआईए ने फरवरी 2016 में गिरफ्तार किया था।
उन्होंने कहा,-‘वे पिछले तीन महीने से हमारी नजरों में थे। जब हमने उन्हें गिरफ्तार किया तब वे आईईडी बनाने की प्रक्रिया में थे जिससे लोन वुल्फ शैली के हमले को अंजाम दे सकें।’
लोन वुल्फ श्रेणी का हमला ऐसा होता है जिसमें एक शख्स खुद ही हमले की साजिश और तैयारी कर उसे अंजाम देता है बिना किसी संगठन की मदद के। हालांकि वह किसी बाहरी संगठन की विचारधारा से प्रेरित हो सकता है और ऐसे संगठन के समर्थन में ऐसा काम कर सकता है।

इज्जत मिट्टी में मिल गयी
संदिग्धों के पिता आरिफ रामोदिया का दावा है कि उन्हें अपने बेटों की गतिविधियों के बारे में कोई जानकारी नहीं थी।
उनके मुताबिक एमसीए की पढ़ाई पूरी करने के बाद वसीम राजकोट स्थित एक ग्राफिक डिजाइनिंग कंपनी में काम करता था जबकि नईम बीसीए के बाद भावनगर में जहाज की रिसाइक्लिंग इकाई में काम करता था।
‘मुझे इसके बारे में तब पता चला जब पुलिस ने मेरे घर पर छापा मारा और वसीम को गिरफ्तार किया। मुझे आईएसआईएस से उनके जुड़ाव के बारे में जरा भी जानकारी नहीं थी।’  गिरफ्तारी से सदमे में दिख रहे आरिफ ने कहा,-‘परिवार में किसी को भी इस बारे में नहीं पता था। ये मेरे लिए वास्तव में शर्मनाक है। इससे मेरी इज्जत मिट्टी में मिल गयी।’
आरिफ रामोदिया सौराष्ट्र विश्वविद्यालय के सेवानिवृत्त कर्मचारी हैं और फिलहाल क्रिकेट अंपायर का काम करते हैं।
मीडिया के साथ अपनी बातचीत में भट्ट ने कहा कि दोनों को वक्त रहते गिरफ्तार कर लिया गया, क्योंकि उन्होंने जल्द ही कुछ धार्मिक स्थलों पर बम धमाके की साजिश बना रखी थी।

इराक या सीरिया भागने की तैयारी
भट्ट ने कहा,-‘वे इराक और सीरिया स्थित आईएसआईएस के कुछ अज्ञात हैंडलर्स के संपर्क में थे। वे गुजरात में कुछ धार्मिक स्थलों पर हमले की साजिश को अंजाम दे पाते इससे पहले ही हमने उन्हें पकड़ लिया।’ उन्होंने कहा,-‘हमले के बाद उनकी इराक या सीरिया भागने की तैयारी थी।’ छापे के दौरान पुलिस ने कंप्यूटर, मोबाइल फोन, जेहादी साहित्य और मास्क भी जब्त किये। आतंकी हमले के दौरान ये मास्क लगाकर अपनी पहचान छुपाने की तैयारी में थे।

मुख्य समाचार

 पाकिस्‍तान के दो पूर्व प्रधानमंत्री व एक पूर्व राष्ट्रपति एक साथ जेल में

इस्लामाबाद : पाकिस्तान में गुरुवार को पूर्व प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी की गिरफ्तारी के साथ एक अनूठा रेकॉर्ड बना। देश के इतिहास में यह पहली आगे पढ़ें »

the dog saved her life,

प्लास्टिक में डालकर बच्‍ची को नाले में फेंका, कुत्ते ने बचाई जान

हरियाणाः कैथल क्षेत्र के डोगरा गेट के पास से एक दिल दहलाने वाली घटना सामने आयी है। गुरुवार को एक महिला ने नवजात बच्ची को आगे पढ़ें »

Two more cricketers including Sachin were honored

सचिन सहित दो और क्रिकेटरों को सम्मानित किया गया

लंदन : महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर, पूर्व दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज एलेन बार्डर और आस्ट्रेलिया महिला टीम की तेज गेंदबाज कैथरीन फिट्जपैट्रिक को शुक्रवार को आगे पढ़ें »

Mob lynching in Bihar, 3 people beaten to death

बिहार में सामने फिर हुई मॉब लिंचिंग, पशु चोरी के शक में भीड़ ने 3 लोगों की ली जान

छपरा: बिहार में एक बार फिर फिर मॉब लिंचिंग की घटना सामने आई है। राज्य के छपरा जिले के बनियापुर इलाके में भीड़ ने 3 आगे पढ़ें »

आप भी करते हैं हवाई यात्रा तो यह खबर डराने वाली है

नई दिल्ली : हवाई यात्री सावधान हो जाएं। इन दिनों ऐसे मामले आ रहे हैं कि प्लेन का पायलट जाली दस्तावेजों के सहारे जहाज उड़ाने आगे पढ़ें »

Demand for Ban on Green Flag

चांद सितारे वाले हरे झंडों पर रोक की मांग, सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से मांगा जवाब

नई दिल्ली : सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से चांद-सितारे वाले हरे रंग के झंडों पर रोक की मांग वाली एक याचिका पर दो हफ्तों आगे पढ़ें »

Bihar, lightning in Nawada, eight children died due to lightning,

बिहार: नवादा में आकाशीय बिजली गिरने से 8 बच्चों की मौत, कई घायल

नवादा : जिले के काशीचक प्रखंड के धानपुर गांव मुशहरी टोला में शुक्रवार को वज्रपात से 8 बच्चों की मौत हो गई, जबकि लगभग एक आगे पढ़ें »

Union Minister Dr Harshvardhan, Ayushman Bharat Yojna, BJP brand

‘आयुष्मान भारत योजना’ भाजपा का ब्रांड नहीं है- डॉ. हर्षवर्द्धन

नई दिल्‍ली : संसद सत्र के दौरान शुक्रवार को केंद्रीय स्वास्‍थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सदन में का कि ‘आयुष्मान भारत’ भारत योजना भारतीय जनता आगे पढ़ें »

half glass water will be available only

ये क्या ? यूपी विधान सभा में सिर्फ आधा गिलास पानी ही मिलेगा

लखनऊ : जल संरक्षण को बढ़ावा देने और पानी की बर्बादी रोकने के ‌लिए उत्तर प्रदेश(यूपी) विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने आदेश दिया है आगे पढ़ें »

केंद्र सरकार जल्द लागू कर सकती है टीओडी सिस्टम, जानिए क्या होगा उपभोक्ता को फायदा

नई दिल्ली : केंद्र सरकार देश में 1 टैरिफ पॉलिसी केंद्रीय कैबिनेट की मंजूरी के लिए अगली बैठक में रख सकती है। इस पालिसी का आगे पढ़ें »

ऊपर