अगर नागरिकों को नहीं दी जाती यह छूट, तो नहीं होता ऐसा हमला

श्रीनगर : सीआरपीएफ ने अपने काफिले के रूट पर पूरी सावधानी बरती थी। इसके बावजूद उनपर आतंकियों का हमला हो गया। अगर सेना के काफिले पर आम नागरिकों को गुजरने की अनुमति नहीं दी गई होती तो शायद हमें इतनी बड़ी त्रासदी का सामना नहीं करना पड़ता। उक्त बातें सीआरपीएफ अधिकारियों ने कही है। जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले को लेकर सीआरपीएफ के इंस्पेक्टर जनरल कश्मीर जुल्फिकार हसन ने बताया कि सीआरपीएफ ने ग्रेनेड हमले या अचानक से होने वाली फायरिंग को लेकर काफी सतर्कता दिखाई थी और रूट की पूरी तरह से जांच की थी। रोड ओपनिंग पार्टी (आरओपी) ने गुरुवार सुबह पूरे रूट की जांच की थी। उस रूट पर कहीं पर भी आईईडी नहीं पाया गया था। इस बात की संभावना भी नहीं छोड़ी गई थी कि कोई जवानों के काफिले पर फायरिंग कर सके या ग्रेनेड फेंका जा सके। गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर में गुरुवार को अब तक का सबसे बड़ा आतंकी हमला हुआ।

बंद था सिविल गाड़ियों का चलना

बता दें कि इससे पहले जब सुरक्षाबलों का काफिला चलता था, तब बीच में सिविल गाड़ियों को नहीं आने दिया जाता था। हालांकि, कश्‍मीर का माहौल बीते कुछ समय से सुधरा था, ऐसे में सुरक्षाबलों के काफिले के बीच में या आगे-पीछे सिविल गाड़ियों के भी चलने की अनुमति दे दी गई थी जिसके चलते गुरुवार ‌को इतना बड़ा हादसा हो गया। अधिकारी ने कहा कि दरअसल, ये कदम इसलिए उठाया गया था, ताकि स्थानीय नागरिक हमारी गतिविधि से परेशानी ना महसूस करें। इसलिए हमने उनकी गाड़ियों को काफिले के आस-पास चलने की छूट दे रखी थी।

राज्यपाल ने खुफिया एजेंसी की चूक बताई

बता दें कि जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्‍यपाल मलिक ने माना कि खुफिया एजेंसियों से चूक हुई। सत्‍यपाल मलिक ने कहा कि हम हाईवे पर घूम रही विस्‍फोटकों से भरी गाड़ी को चिन्हित करने में असफल रहे। हमें यह बात कबूल करनी होगी कि हमसे भी चूक हुई है। गाड़ी में आत्‍मघाती हमलावर सवार थे, यह जानकारी नहीं होना हमारे लिए चूक है। इस बात को मैं स्‍वीकार करता हूं। यह आदमी (हमलावर आदिल अहमद डार) हमारे संदिग्‍धों की सूची में शीर्ष पर था। इन लोगों को कोई भी अपने घर में शरण नहीं दे रहा था। इसलिए ये जंगल या पहाड़ियों में जाकर छिपे थे। हम आदिल के बारे में जानते थे, लेकिन हम उसे पकड़ नहीं पाए।
भारत के साथ खड़ा है अमेरिका

वहीं हमले की निंदा करते हुए अमेरिकी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा ‌कि वह किसी भी रूप में आतंकवाद का मुकाबला करने के लिए भारत सरकार के साथ काम करने को प्रतिबद्ध है। शहीद जवानों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए अमेरिकी विदेश मंत्रालय के उप प्रवक्ता रॉबर्ट पैलाडिनो ने कहा कि भारतीय राज्य जम्मू कश्मीर में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकवादी हमले की अमेरिका कड़े शब्दों में निंदा करता है।

मुख्य समाचार

मोदी दूसरे कार्यकाल में पहली विदेश यात्रा..

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव में बड़ी जीत हासिल करने के बाद नरेंद्र मोदी 30 मई को दूसरी बार प्रधानमंत्री पद की शपथ लेंगे। इसके बाद आगे पढ़ें »

कमजोर आर्थिक स्थिति को पटरी पर लाने..

नई दिल्ली : देश की कमजोर आर्थिक स्थिति को दुरुस्त करने के लिए सार्वजनिक व्यय में वृद्धि को ध्यान में रखते हुए आगामी बजट में आगे पढ़ें »

पहले ही दौर में बाहर हुई यह..

पेरिसः पूर्व नंबर एक टेनिस स्टार वीनस विलियम्स का ग्रैंड स्लेम फ्रेंच ओपन के पहले ही राउंड में हार के साथ सफर समाप्त हो गया आगे पढ़ें »

घने बादलों के कारण रडार विमानों को..

बठिंडा: एयर मार्शल रघुनाथ नांबियार ने नरेंद्र मोदी के रडार वाले बयान पर उनका बचाव किया। उन्होंने कहा कि घने बादलों के कारण रडार विमान को आगे पढ़ें »

अस्पताल में सीनियर लगातार जाति को लेकर..

आरोपित डॉक्टरों के लाइसेंस रद्द कर दिए गए नई दिल्ली : मुंबई के एक सरकारी अस्पताल की महिला डॉक्टर ने अपने उपर लगातार किए जा रहे आगे पढ़ें »

हमले के 12 दिन बाद कांग्रेस विधायक..

विधान परिषद सदस्य दिनेश प्रताप सिंह सहित 16 को बनाया अभियुक्त रायबरेली : रायबरेली के सदर क्षेत्र में कांग्रेस विधायक अदिति सिंह पर हुए हमले के आगे पढ़ें »

वर्ल्ड कप : पंत की विस्फोटक बल्लेबाजी..

नई दिल्लीः भारतीय टीम के पूर्व दिग्गज बल्लेबाज मोहम्मद अजहरुद्दीन ने कहा कि विश्व कप में टीम ऋषभ पंत की विस्फोटक बल्लेबाजी को जरूर याद आगे पढ़ें »

‘भारत और इंग्लैंड में होगी खिताबी जंग’

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के स्टार फिनिशर युवराज सिंह ने आगामी विश्व कप के फाइनल में जगह बनाने वाली टीमों के बारे में अपने आगे पढ़ें »

जापान अमेरिका से 105 एफ-35 फाइटर प्लेन..

तोक्योः जापान अमेरिका से एफ-35 फाइटर प्लेन खरीद सकता है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सोमवार को कहा कि जापान रडार से बच निकलने वाले आगे पढ़ें »

ट्रंप ने उ. कोरिया के मिसाइल परीक्षणों..

तोक्योः अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने उत्तर कोरिया के हालिया मिसाइल परीक्षणों पर नरम रूख अपनाया है। उन्होंने जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे के साथ असहमति आगे पढ़ें »

ऊपर