अब बकरियां रोकेंगी जंगल की आग

goat in jungle

पुर्तगाल : जंगल की आग बहुत सारे देशों के लिए बड़ी चिंता की विषय बन गयी है। पिछले कुछ समय से पुर्तगाल में लग रहे आग की समस्या से परेशान होकर इससे मुक्ति पाने के लिए सरकार ने कई उच्चस्तरीय तरीके जैसे कि ड्रोन तकनीक, सैटलाइट्स और एयरक्राफ्ट का प्रयोग किया था पर कोई हल नहीं निकाल पाए। आखिरकार अब सरकार को जंगल की आग रोकने के लिए बकरियों का सहारा लेना पड़ेगा। मालूम हो कि काफी लंबे समय से जमीन प्रबंधन की मांग बढ़ रही थी और जंगलों में बढ़ती आग ने इस बहुप्रतीक्षित व्यवस्था को भी शुरु कर दिया। अंत में हर तकनीकी प्रयोग और जमीन प्रबंधन व्यवस्था के नाकामयाब होने के बाद सरकार ने बकरियों का सहारा लेने का फैसला किया है।

बकरियां इस प्रकार करेगी सहायता

जंगलो में अगर बकरियों की संख्या बढ़ा दी जाएगी तो वे बड़ी सरलता से सारे पत्ते खा जाएगी जिससे कुछ हद तक आग लगने की घटनाओं पर काबू पाया जा सकता है। बता दें कि पुर्तगाल में स्ट्रॉबेरी के पेड़ भारी मात्रा में हैं जो काफी जल्दी आग पकड़ लेती है। इस प्रोजेक्ट को सरकार ने पिछले ही साल शुरु किया था और 10,800 भेड़ों और बकरियों के रहने का इंतजाम भी किया था। इसके सा‌‌थ ही यूकेलिप्टस की खेती में धीरे-धीरे कमी की जा रही है।

गांवो की घटती आबादी हैं बढ़ती आग का कारण

मालूम हो कि जंगल में आग लगने का सबसे बड़ा कारण गांवो की घटती आबादी है। पुर्तगाल सहित कई दक्षिणी यूरोपीय देशों में यह समस्या आग की तरह फैलती जा रही है। गांवो में भेड़ और बकरियों के चरने की संख्या बढ़ती जा रही है। पर इधर कुछ वर्षो में वे जंगल छोड़कर जा रहे हैं जिससे जंगलो का आकार गांवो की ओर बढ़ता जा रहा है।जिसके कारण जंगलो में आग लगने की समस्या बढ़ती जा रही है। वैज्ञानिकों से मिली जानकारी के मुताबिक पुर्तगाल को पाइन और नीलगिरी के बजाय ओक, चेस्टनट और अन्य अग्नि प्रतिरोधी पेड़ लगाने की अधिक जरुरत है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

भारतीय बैंकों का क्रेडिट ग्रोथ घटकर दो साल के निचले स्तर पर आया : आरबीआई

नई दिल्ली : आरबीआई के आंकड़ों के मुताबिक भारतीय बैंकों का क्रेडिट ग्रोथ घटकर लगभग दो साल के निचले स्तर पर आ गया है, क्योंकि आगे पढ़ें »

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

ऊपर