मोबाइल पर 5 घंटे से अधिक समय बिताऐंगे तो हो जाएंगे मोटे

fat after using 5 hours on mobile

नई दिल्ली : मोटापा की समस्या से आज अधिकतर लोग परेशान हैं। इस अनचाही समस्या से निपटने के लिए सभी विभिन्न प्रकार के तरीके अपनाते हैं। लेकिन जैसे ही आपको पता चलेगा कि मोटापा बढ़ने का एक मुख्य कारण मोबाइल है तो आप सोच में पड़ जाएंगे। कैलिफोर्निया की सिमोन बोलिवर यूनिवर्सिटी के हालिया शोध में यह खुलासा किया गया कि यदि कोई व्यत्ति दिनभर में 5 घंटे या उससे ज्यादा देर तक मोबाइल का इस्तेमाल करता है तो उसपर मोटापा बढ़ने का खतरा 43 प्रतिशत तक बढ़ जाता है। शोध में इसकी वजह पर चर्चा करते हुए बताया गया कि मोबाइल में इतने समय तक व्यस्त रहने के कारण ऐसा होता है। इस दौरान वह व्यक्ति शारीरिक गतिविधि नहीं करता है और सम्‍भवतः वह ज्यादा खाना भी खाता है।
खाना पचाने की क्षमता भी कम होती जाती है
शोधकर्ताओं ने इस विषय पर शोध करने के लिए 1000 ‌छात्रों को शामिल किया गया। बता दें कि यह शोध जून से दिसबर 2018 के बीच की गई थी। इस दौरान सामने आया कि फोन का अधिक इस्तेमाल करने वाले छात्र मीठे पेय पदार्थ, फास्ट फूड और कैंडी खाते हैं। ऐसे लोग व्यायाम नहीं करते हैं या फिर कम करते है। शोधकर्ताओं ने बताया ‌कि इस तरह की आदत के कारण खाने के पचने की क्रिया भी धीमी हो जाती है जिससे नींद न आने की समस्या बढ़ती जाती है। इसके प्रभाव से वजन बढ़ने लगता है।
मोटापे के साथ दिल का रोग भी
शोधकर्ता और हृदय रोग विशेषज्ञ प्रो मिरेरी मेंटीला मोरोन के अनुसार मरीज के हाथों में मौजूद फोन ही सेहत खराब होने की सबसे बड़ी वजह है। ऐसे में देखा जाए तो लगातार मोटापा बढ़ने पर दिल के रोगों का खतरा भी बढ़ जाता है।
अमेरिकन कॉलेज ऑफ कॉर्डियोलॉजी की कॉन्फ्रेंस में पेश की गई शोध में बताया गया कि शोध में शामिल 25 प्रतिशत छात्र मोटे थे। ये लोग फोन पर रोजाना 5 घंटे से ज्यादा समय व्यतीत करते थे।
इसी तरह टेक्सास की राइस यूनिवर्सिटी के अनुसार फोन का अधिक इस्तेमाल करने वाले लोगों को जब फास्ट फूड दिया जाता है तो उनका खुद पर से नियंत्रण कम हो जाता है और इस मामले में वो हद से ज्यादा खाना खा लेते हैं।
दूसरी तरफ 2016 में हार्वर्ड चेन स्कूल की शोध में भी मोबाइल पर ज्यादा समय बिताने से मोटापा बढ़ने की आशंका जताई गई थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

bengal

मालदा में पुल ढहने को लेकर भाजपा और तृणमूल ने एक-दूसरे पर साधा निशाना

मालदा : पश्चिम बंगाल के मालदा जिले में निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा ढहने की घटना को लेकर सोमवार को सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस और विपक्षी आगे पढ़ें »

shivsena

शिवसेना का तंज, ट्रंप के स्वागत के लिए मोदी ने शुरू की ‘गरीबी छुपाओ’ योजना

मुंबई : शिवसेना ने अपने मुखपत्र 'सामना' के संपादकीय में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के दो‌ दिवसीय भारत दौरे की तैयारियों की तुलना गुलाम हिंदुस्तान आगे पढ़ें »

ऊपर