समुद्र में पाया गया तेल खाने वाला अनोखा बैक्टीरिया

लंदनः जिस प्रकार हम अपनी दुनिया और अंतरिक्ष के बारे में खोजखबर रखते है वैसे एक और दुनिया है जिसके अन्दर बहुत सारी चिजें हाेती रहती है जिसे जानने और समझने का प्रयास मानव हमेशा से करते आया है। और वह दुनिया है समुद्र के अन्दर की दुनिया। विश्व के सबसे गहरे समुद्र प्रशांत महासागर में एक अनोखे बैक्टीरिया की खोज हुई है। वैज्ञानिकों ने शोध से पता लगाया है कि मारियाना ट्रेंच समुद्र में एक ऐसा बैक्टीरिया है जो तेल का सेवन करता है।

विशेष पनडुब्बी का निर्माण किया

मारियाना ट्रेंच 11,000 मीटर गहरी पश्चिमी प्रशांत महासागर में स्थित है। अध्ययन में शामिल चीन के ओशियन यूनिवर्सिटी के वैज्ञानिक जिओ-हुआ झांग ने बताया कि कुछ शोधों ने इस प्रकार की स्थित में रहने वाले जीवों की खोज की है। गौरतलब है कि इनमें से एक शोध प्रसिद्ध समुद्री खोजकर्ता और अकादमी पुरस्कार विजेता एवं फिल्म निर्देशक जेम्स कैमरन के नेतृत्व में किया गया था। कैमरून ने समुद्र की सतह में कई नमूने एकत्र करने के लिए एक विशेष पनडुब्बी का निर्माण किया था।

हाइड्रोकार्बन बैक्टीरिया का पहचान किया

लंदन की यूनिवर्सिटी ऑफ एंगोलिया के वैज्ञानिक जोनाथन टॉड ने कहा, ‘हमारी रिसर्च टीम ने मारियाना ट्रेंच के सबसे गहरे हिस्से 11,000 मीटर में माइक्रोबियल पॉपुलेशन के नमूनों को इकट्ठा कर अध्ययन किया। अध्ययन में हाइड्रोकार्बन बैक्टीरिया के नए समूह की पहचान हुई। हाइड्रोकार्बन कार्बनिक यौगिक वे होते हैं जो केवल हाइड्रोजन और कार्बन परमाणुओं से बने होते हैं, और ये कई जगहों पर कच्चे तेल और प्राकृतिक गैस सहित पाए जाते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार !

बजट कार्यालय ने व्यक्त किया अनुमान वाशिंगटनः अगले वित्त वर्ष में अमेरिका का बजट घाटा एक हजार अरब डॉलर के पार जाने की आशंका है। यह आगे पढ़ें »

new zealand speaker

न्यूजीलैंड : संसद में रो रहे बच्चे को स्पीकर ने पियाला दूध, लोगों ने की सराहना

वेलिंगटन : न्यूजीलैंड के संसद भवन में स्पीकर ट्रेवर मलार्ड ने एक सांसद के बेटे को दूध पिलाया। मालूम हो कि संसद भवन में आमतौर आगे पढ़ें »

ऊपर