पुलिसकर्मी की एसयूवी से टक्कर में हुई थी जोमैटो के डिलिवरी मैन की मौत, कंपनी परिवार को देगी 10 लाख का मुआवजा

नई दिल्ली: जोमैटो के संस्थापक दीपिंदर गोयल ने आज जोमैटो के फूड डिलीवरी मैन सलिल त्रिपाठी की मौत पर ट्वीट कर अपनी संवेदना व्यक्त की और कहा कि उनके परिवार को कंपनी हर मुमकिन सहयोग प्रदान करेगी। साथ ही कंपनी मृतक की पत्नी को नौकरी और परिवार को इंश्योरेंस के 10 लाख रुपए देगी। गौरतलब है कि नई दिल्ली में बीते शनिवार की रात को कथित तौर पर नशे में एक पुलिस कांस्टेबल की एसयूवी ने ​सलि​ल त्रिपाठी की बाइक को टक्कर मार दी थी। जिसके बाद सलि​ल की मौत हो गई थी। गोयल ने ट्वीट किया, “दुर्भाग्यपूर्ण सड़क हादसे में हमारे डिलीवरी पार्टनर सलिल त्रिपाठी की मौत से हम बेहद दुखी हैं। हम परिवार को इससे उबरने में मदद करने के लिए हर संभव सहायता प्रदान कर रहे हैं।”

जोमैटो के संस्थापक के ट्विटर बयान में कहा गया है कि उनकी टीम दुर्घटना की रात से परिवार के साथ अस्पताल में है, और वे 10 लाख के बीमा अनुदान के साथ परिवार की मदद कर रहे हैं। उनकी टीम ने सलिल त्रिपाठी के अंतिम संस्कार सहित उनके कुछ खर्चों को कवर करने में पहले ही परिवार की सहायता की है। जोमैटो के स्टेटमेंट में पीड़ित की पत्नी के लिए नौकरी का वादा किया गया है। गौरतलब है कि सलि​ल अपने परिवार में एकमात्र कमाने वाले थे। गोयल का यह बयान तब आया है जब सलिल की पत्नी सुचेता त्रिपाठी ने अपने पति के लिए न्याय की मांग करने के लिए ट्विटर का सहारा लिया था।

सुचेता ने बुधवार को ट्वीट किया, “भविष्य में मेरे लिए अंधेरा है”।

जोमैटो के बयान में आगे कहा गया है, “परिवार के सम्भलने के बाद, हम सलिल की पत्नी सुचेता को नौकरी देने के लिए हर संभव प्रयास करेंगे, ताकि वह घर चला सके, और अपने 10 साल के बेटे की शिक्षा का खर्च उठा सके।”

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आईएएस कैडर के नियमों में बदलाव पर ममता ने फिर पीएम को लिखा पत्र

कोलकाता : मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर आईएस कैडर (अब IAS कैडर रूल ) में प्रस्तावित बदलाव के फैसले पर आगे पढ़ें »

ऊपर