‘आपके केक में अंडा है…’, स्विगी को मांगनी पड़ी माफी

नागपुर: महाराष्ट्र के नागपुर में एक शख्स को स्विगी ने ऐसा केक डिलवर किया, जो सोशल मीडिया पर अब चर्चा का विषय बन गया है। नागपुर के कपिल वासनिक ने शहर के सबसे मशहूर बेकरी से स्विगी द्वारा एक केक ऑर्डर किया। लेकिन जब स्विगी ने वो केक डिलवर किया तो कस्टम हैरान रह गया। ट्विटर पर कपिल वासनिक ने जब केस की फोटो डाली तो सोशल मीडिया यूजर की हंसी नहीं रूक रही। कपिल वासनिक ने केक ऑर्डर करते वक्त मैसेज ड्रॉप करके पूछा था कि ‘क्या इस केक में अंडा है?’ इसका जवाब केक के ऊपर लिखकर भेजा गया। जो अब सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है।
‘आपके केक में अंडा है…’
सोचिए अगर आपने कोई केक ऑनलाइन ऑर्डर कर घर मंगवाया और केक पर लिखा हो, ‘आपके केक में अंडा है…’। ऐसा ही कुछ हुआ नागपुर के कपिल वासनिक के साथ। कपिल वासनिक ने ट्विटर पर केक की फोटो शेयर करते हुए लिखा, ”मैंने स्विगी के जरिए नागपुर की एक फेमस बेकरी से एक केक का ऑर्डर किया। ऑर्डर डिटेल में मैंने लिखा था, ”प्लीज ये बताए कि केक में अंडा है या नहीं…’। लेकिन ऑर्डर आने के बाद जब मैंने केक देखा तो मैं स्पीचलेस हो गया।”
केक पर ही बेकरी वाले ने लिख दिया, सवाल का जवाब
असल में जिस बात का जवाब स्विगी ऐप पर ही दिया जाना चाहिए था, उसका जवाब बेकरी वालों ने केक पर लिखकर दे दिया। केक पर लिखा था, इस केक में अंडा है अपने ट्वीट में कपिल वासनिक ने #Swiggy का इस्तेमाल किया था। देखते ही देखते ये ट्वीट वायरल हो गया। कपिल के ट्वीट पर खबर लिखे जाने तक 16.7K रिट्वीट, 156.5K लाइक्स और 2,725 कमेंटस हैं।
स्विगी ने मांगी माफी
स्विगी ने अपने ग्राहकों की संतुष्टि के लिए इस मुद्दे को हल करने का भरोसा दिया है। स्विगी ने कस्टमर से माफी मांगते हुए कहा है कि रेस्टोरेंट पार्टनर उनके निर्देशों को “समझने में विफल” रहा। स्विगी कपिल के ट्वीट पर जवाब देते हुए लिखा, ”हमें इस मामले को करीब से देखने दीजिए… कृपया आगे की सहायता के लिए ऑर्डर आईडी साझा करें।”
‘यार, सॉरी लेकिन ये सच में फनी है…’
सोशल मीडिया पर ये तस्वीर देख लोग अपनी हंसी नहीं रोक पाए। एक शख्स ने कहा, ‘यार, सॉरी लेकिन ये वाकई फनी है। इसपर तो खबर बननी चाहिए…।’ एक यूजर ने लिखा, ”यह कमाल का है। आप वास्तव में रेस्तरां के आदमी को पूरी तरह से दोष नहीं दे सकते। उसने आपकी बातों को बहुत सीरियसली लिया है। उन्होंने आपके निर्देशों को शब्द दर शब्द केक पर लिखा है।” कुछ लोगों ने यह भी बताया कि कैसे उन्हें एक समान अनुभव से गुजरना पड़ा क्योंकि बेकर उनके निर्देशों को नहीं समझ सके।
‘एग का एग… और वेज का वेज हो जाता…’
एक यूजर ने लिखा, ”आपने बेकरी शॉप वालों को भी टैग क्यों नहीं किया। एग का एग… और वेज का वेज हो जाता।” एक यूजर ने लिखा, इसने तो सारे जोक्स को ब्रेक कर दिया। ये तो प्रैक्टिकल वाला जोक है। एक अन्य यूजर ने लिखा, ”अब रेस्टोरेंट्स वाले इंसान नहीं, रोबोट को नौकरी पर रखने लगे हैं।” वहीं एक तीसरे यूजर ने लिखा, ”इस तस्वीर ने सभी मीम्स को पीछे छोड़ दिया है।”

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आटा के बाद अब चावल भी महंगा…

नई दिल्ली : गेंहू के दामों में उछाल के बाद अब चावल  के दामों में तेजी देखी जा रही है, घरेलू और अंतरराष्ट्रीय बाजार में आगे पढ़ें »

ऊपर