महिला ने अपने कुत्ते का नाम रखा ‘सोनू’, पड़ोसियों ने घर में घुसकर किया ये काम

गुजरात : गुजरात में पालतू कुत्ते के नाम को लेकर एक महिला को जिंदा जलाने का मामला सामने आया है। जिस वजह से महिला बूरी तरह झूलस गई जिसके बाद फौरान उन्हें भावनगर के एक अस्पताल ले जाया गया जहां उनका इलाज चल रहा है। मामले में पुलिस ने 6 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।
बताया जा रहा है कि पीड़िता नीताबेन सरवैया ने अपने कुत्ते का नाम ‘सोनू’ रखा था। इत्तेफाक से नीताबेन सरवैया के पड़ोसी सुराभाई भारवाड की पत्नी का नाम भी सोनू है। इसी बात से सुराभाई नाराज थे। नाराजगी ऐसी की उन्होंने अपने दोस्तों के साथ मिलकर नीताबेन पर जानलेवा हमला कर दिया। जानकारी के मुताबिक सोमवार की दोपहर नीताबेन के पति और उनके दो बेटे किसी काम से घर से बाहर गए हुए थे। इस दौरान नीताबेन और उनका छोटा बेटा घर पर थे। मौका देखकर सुराभाई भारवाड और उनके 5 अन्य सहयोगी नीताबेन के घर में घुस गए। बताया गया कि पहले इन लोगों ने नीताबेन को गालियां दीं, कुत्ते का नाम सोनू रखने को लेकर बुरी भलपी बातें कही।
रसोई में पीछे से जाकर छिड़का केरोसिन
इनकी बातों को नीताबेन नजरअंदाज करते हुए अपनी रसोई में चली गई और काम करने लगी। इसके बाद तीन लोग उनके पीछे गए और नीताबेन पर केरोसिन छिड़क कर उन्हें जिंदा आग के हवाले कर दिया। पीड़िता आग में इतना झुलसी की उनकी चीखें बाकी पड़ोसियों को सुनाई दी। चीखने की आवाजें सुनकर पड़ोसी फौरन मौके पर पहुंचे। इसी दौरान नीताबेन के पति और बेटे भी घर पहुंच गए। जिसके बाद किसी तरह से कंबल की मदद से आग बुझाई गई। इसके बाद तुरंत उन्हें अस्पतला ले जाया गया।
पुलिस ने बताया कि नीताबेन और उनपर हमला करने वाले लोगों के परिवार के बीच पहले भी कई बार पानी की सप्लाई को लेकर कहासुनी हो चुकी है। आग लगाने की इस घटना में 6 लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है। पुलिस अब आगे की कानूनी कार्रवाई कर रही है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

रात में कई घंटों तक नहीं मिला कोई साधन…तो घर जाने के लिए चुरा ली सरकारी बस

अमरावती: आंध्र प्रदेश के विजयनगरम जिले में एक अजीब मामला सामने आया है। यहां पर एक शख्स को देर रात घर जाने के लिए कोई साधन आगे पढ़ें »

ऊपर