महिला ने शादी के 6 महीने बाद दिया बच्चे को जन्म दिया, सास ने घर से निकाला, फिर आया ये ट्विस्ट

ग्वालियर : ग्वालियर में एक लड़की शादी के 6 महीने बाद मां बनी तो समाज में तमाशा खड़ा हो गया। समाज के दबाव में सास-ससुर ने बहू पर आरोप लगाए और बच्चे को नाजायज बताया। उन्होंने महिला को घर से बाहर निकाल दिया। इसके बाद यह मामला कुटुंब न्यायालय में आया। एक साल पहले हुई इस घटना में जब काउंसलिंग हुई तो रिश्ते के सुधरने की गुंजाइश दिखी। महिला के पति ने काउंसलर को बताया कि उसकी लव मैरिज है और पत्नी से फिजिकल रिलेशन उससे पहले से ही है। इसके बाद काउंसलर ने महिला और उसकी सास की बात कराकर रिश्ता टूटने से बचा लिया। 6 महीने के अंदर बच्चा होने से ससुराल में हंगामा खड़ा हो गया। ससुरालियों और पड़ोसियों ने तरह-तरह की बातें करना शुरू कर दीं। हालांकि, युवती कहती रही कि उसका पति हकीकत जानता है। कुछ दिन बाद ससुराल वालों ने बच्चे को नाजायज कहकर उसे मायके भेज दिया। बात सुनने के बाद काउंसलिंग टीम ने महिला के गुना में रहने वाले पति से बात की। पति ने भी कहा कि बच्चा उसका नहीं है। इसके बाद टीम ने युवक को बताया कि उसने लव मैरिज तो घरवालों के सामने की, लेकिन, इससे पहले वो मंदिर में उसी महिला से शादी कर चुका था और पत्नी बनाकर से फिजिकल रिलेशन बनाता था। टीम ने पति को बताया कि अगर बच्चे का डीएनए टेस्ट उससे मैच हो गया तो फिर पत्नी को नही अपनाने पर उसे जेल जाना पड़ेगा। टीम की बात सुनने के बाद पति ने माना कि बच्चा उसका ही है, लेकिन समाज और परिवार के डर से वह कुछ नहीं कह पा रहा है। टीम के समझाने के बाद पति ने हिम्मत जुटाकर अपने परिवार को सारा किस्सा सुनाया। आखिर में सास को भी अपनी गलतफहमी का ग्वालियर एहसास हुआ और फिर उसने बहू से बात की। ऑनलाइन बातचीत में सारे गिले-शिकवे दूर हुए। आखिर सास गुना से अशोकनगर पहुंची और अपने बहू-पोते को लेकर खुशी-खुशी घर लौटी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

बेडरूम में भूल से भी ना रखें ये चीजें, नहीं तो…

कोलकाता : घर के बेडरूम में यदि वास्तु दोष हो तो नकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है। इस वजह से दाम्पत्य जीवन में कलह-क्लेश, आर्थिक संकट आगे पढ़ें »

ऊपर