क्या छिड़ जाएगी जंग! ताइवान के हवाई रक्षा क्षेत्र में घुसे चीन के 27 फाइटर जेट

नई दिल्‍ली :  27 चीनी फाइटर जेट ताइवान के वायु रक्षा क्षेत्र में घुस गए हैं। ताइवान का कहना है कि अमेरिकी सदन की अध्‍यक्ष नैन्सी पेलोसी की यात्रा के बाद से चीन नाराज है और वह अब फाइटर जेट भेज रहा है। रक्षा मंत्रालय ने एक ट्वीट में कहा, 27 पीएलए विमान 3 अगस्त, 2022 को (चीन गणराज्य) के आसपास के क्षेत्र में घुस गए। ताइवान के राष्ट्रपति त्साई इंग-वेन ने कहा कि 23 मिलियन के द्वीप को नहीं छोड़ा जाएगा। ताइपे ने कहा कि अमेरिकी सदन की अध्यक्ष नैन्सी पेलोसी ने स्व-शासित द्वीप की अपनी विवादास्पद यात्रा की है, इसके कारण चीन नाराज है. वह इसे अपना क्षेत्र मानता है। ताइवान ने भी अपने फाइटर जेट भेजे हैं और अपना एयर मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम तैनात कर दिया है। सरकार ने कहा है कि चीन से निपटने की तैयारी है और हम हालात पर नजर रख रहे हैं। इधर, चीन के सहयोगी देशों ने उसका समर्थन जताया है। चीन, ताइवान को अपना क्षेत्र होने का दावा करता है। पेलोसी की यात्रा को लेकर चीन और अमेरिका के सहयोगियों के दो खेमों में बंट जाना बीजिंग के बढ़ते वैश्विक प्रभाव के साथ ही विश्व के उदार देशों की ओर से यात्रा के लिए आ रही सकारात्मक प्रतिक्रिया को भी दर्शाता है। हालांकि, राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन ने पेलोसी की यात्रा का खुलकर समर्थन नहीं किया है। बाइडन ने कहा है कि सेना महसूस करती है कि दोनों पक्षों के बीच बढ़ते तनाव के दौरान मौजूदा समय में यह (यात्रा) एक ‘अच्छा विचार नहीं था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आज शिक्षा मंत्री के साथ एसएससी आंदोलनकारियों की बैठक

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : 2016 के एसएससी आंदोलनकारियों से तृणमूल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव व सांसद अभिषेक बनर्जी ने पिछले दिनों कैमक स्ट्रीट कार्यालय में मुलाकात आगे पढ़ें »

ऊपर