पति को बचाने गई, ऐसा हुआ कि हो गया गैंगरेप…आंध्र प्रदेश की गृहमंत्री का शर्मनाक बयान

अमरावती : एक मई को आंध्र प्रदेश के रेपल्ले रेलवे स्टेशन पर 25 साल की गर्भवती महिला के साथ गैंगरेप हुआ। महिला को स्टेशन के अंदर पति के सामने ही हवस का शिकार बनाया गया। इस शर्मनाक घटना ने आंध्र प्रदेश सरकार कि किरकरी कराई। इस घटना पर अब राज्य की गृहमंत्री का शर्मनाक बयान सामने आया है, जिससे सरकार की फजीहत हो रही है। गृहमंत्री तनेती वनीता ने कहा है कि आरोपी गैंगरेप नहीं करना चाहते थे, अप्रत्याशित परिस्थितियों के चलते घटना हुई।तनेती वनिता से पत्रकारों ने घटना को लेकर सवाल किया तो उन्होंने कहा कि रेप की घटनाओं के पीछे मनोवैज्ञानिक स्थिति होती है। इसके अलावा गरीबी इसके पीछे बड़ा कारण हैं। उन्होंने कहा कि आरोपी महिला का बलात्कार नहीं करना चाहते थे।
पति को बचाने आगे आई महिला
आंध्र प्रदेश की गृहमंत्री ने कहा, ‘आरोपी दंपती के पास उन्हें लूटने गए। वह उन्हें लूटना चाहते थे, इसी इरादे से उन्होंने महिला के पति पर हमला किया। आरोपी नशे की हालत में धुत थे। महिला पति को बचाने आई। इस दौरान आरोपियों और महिला के बीच ऐसा हुआ जिससे रेप की घटना हुई। गृहमंत्री ने कहा कि यह घटना अप्रत्याशित कारणों से हुई है।’
गृहमंत्री ने कहा कि इस घटना को लेकर रेलवे स्टेशन पर सुरक्षाबलों की कमी या सुरक्षा को जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता है। हालांकि उन्होंने यह कहा कि सभी रेलवे स्टेशनों पर सीसीटीवी कैमरे लगाए जाएंगे।

दो हफ्ते में रेप की दो घटनाएं
आपको बता दें कि पिछले दो हफ्तों में आंध्र प्रदेश में रेलवे स्टेशनों पर दो रेप की घटनाएं हुई हैं। 16 अप्रैल को, महाराष्ट्र की एक महिला के साथ गुरजाला रेलवे स्टेशन पर रेप हुआ। उसके बाद यह रेपल्ले स्टेशन पर घटना हुई।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

शिक्षक नियुक्ति में दुर्नीति को लेकर राज्य भर में विपक्ष का प्रदर्शन

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शिक्षक नियुक्ति में दुर्नीति के विरोध में राज्य भर में माकपा की ओर से विक्षोभ दिखाया गया। इसके अलावा एकाधिक वाम छात्र आगे पढ़ें »

ऊपर