बेटे की गुहार- ‘बेड दो या इंजेक्शन देकर मार दो’, वायरल वीडियो देख नम हुईं लोगों की आंखें

नई दिल्लीः कोरोना वायरस की दूसरी लहर ने पूरे देश को बेहाल करके रख दिया है। इसका सबसे ज्यादा असर भारत की आर्थिक राजधानी महाराष्ट्र में देखने को मिल रहा है। यहां हालात पर काबू पाने के लिए सरकार एड़ी चोटी का जोर लगा रही है, लेकिन फिर हालत बद से बदतर होते जा रहे हैं। एक तरफ इस बीमारी से मरने वालों की संख्या जहां लोगों को डरा रही है। वहीं दूसरी ओर मरीजों के लिए अस्तपताल में बेड़ नहीं और शमशान घाट में जगह कम पड़ रहे हैं। इन्हीं हालातों को बयां करता एक वीडियो इन दिनों सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है,  जिसे देखने के बाद आपकी आंखों में भी आंसू आ जाएंगे।

दरअसल यहां एक बेटा (सागर) अपने कोरोना पॉजिटिव पिता को अस्पताल में भर्ती करवाने के लिए दर-दर की ठोकरें खा रहा है, परेशान होकर बेटे को मार्मिक गुहार लगानी पड़ी कि अगर अस्पताल में बेड नहीं है तो मेरे पिता को इंजेक्शन देकर मार ही दो। बावजूद इसके कोई भी अस्पताल इनकी फरियाद को नहीं सुन रहा है।

 

 

सागर ने कहा ‘मैं कल दोपहर 3 बजे के बाद से ही इधर-उधर भटक रहा हूं। सबसे पहले मैं अपने पिता को वरोरा हॉस्पिटल लेकर गया वहां कोई मदद नहीं मिली फिर चंद्रपुर लौटकर आया। इसके बाद तीसरे हॉस्पिटल भागा लेकिन कहीं पर भी बेड नहीं मिला। फिर रात में 1.30 बजे सागर अपने बीमार पिता के साथ तेलंगाना गए। उन्होंने कहा, हम तेलंगाना में लगभग 3 बजे पहुंचे, लेकिन वहां भी कोई बेड नहीं मिला। फिर हम सुबह वापस आए। हम तब से यहां इंतजार कर रहे हैं। सागर का कहना है कि या तो आप उसके लिए एक बेड उपलब्ध करा दें या उन्हें इंजेक्शन लगाकर मार दें। मैं उन्हें इस तरह घर नहीं ले जा सकता।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

इलाका दखल को केंद्र कर तृणमूल के दो गुटों में झड़प, चली गोली, 1 घायल

कैनिंग थानांतर्गत गड़खाली इलाके की घटना इलाके में पुलिस पिकेटिंग सन्मार्ग संवाददाता दक्षिण 24 परगना : कैनिंग में इलाका दखल को केंद्र कर तृणमूल के दो गुटों में आगे पढ़ें »

फूलबागान में महिला को लगाया नकली वैक्सीन

कोलकाता : कोरोना काल में लोगों की मजबूरी का फायदा जालसाज जमकर उठा रहे हैं। महानगर में नकली रेमडेसिविर ‌इंजेक्शन की कालाबाजारी के बाद अब आगे पढ़ें »

ऊपर