तीन दिन तक सरकारी गाड़ी में रह रहा था अजगर

उत्तराखंड : उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में एक हैरतअंगेज मामला सामने आया है। यहां एक अजगर सरकारी गाड़ी में तीन दिन तक सफर करता रहा और विभागीय कर्मचारी इससे बेखबर रहे। देहरादून के बिंदालपुल स्थित बिजली विभाग के कार्यालय के एक अधिकारी की गाड़ी में तीन दिन पहले अजगर घुस गया था। उस वक्त कर्मचारियों के तमाम प्रयास के बावजूद अजगर गाड़ी में नहीं मिला। इस पर कर्मचारियों ने समझा कि अजगर चला गया है और चालक गाड़ी लेकर चला गया। तीसरे दिन बुधवार को अधिकारी ने अपनी गाड़ी से अजगर को निकलते देखा और वन विभाग को सूचना दी। मौके पर पहुंची रेस्क्यू टीम ने अजगर को पकड़कर जंगल में छोड़ दिया है। घटनाक्रम के मुताबिक बिंदालपुल स्थित बिजली विभाग के कार्यालय के एक अधिकारी की सरकारी गाड़ी में तीन दिन पहले एक अजगर घुस गया था। अधिकारी ने अजगर को गाड़ी में घुसते हुए भी देखा था। इसके बाद चालक और विभागीय कर्मचारियों ने अजगर की काफी खोजबीन की, लेकिन अजगर गाड़ी में नहीं मिला। दरअसल अजगर गाड़ी के डैशबोर्ड में छुप गया था जिसकी वजह से कर्मचारियों की नजर नहीं पड़ी। अधिकारी और गाड़ी के चालक ने समझा कि अजगर निकलकर चला गया। इसके चलते अजगर तीन दिनों तक गाड़ी में छिपा रहा और अधिकारी के साथ घूमता रहा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल के आरोपों को चुनाव आयोग ने बताया निराधार

कहा - सभी चुनाव अधिकारी तत्परता व कर्मठता से कर रहे काम हमें अपने चुनाव अधिकारियों पर पूरा भरोसा सन्मार्ग संवाददाता नई दिल्ली/कोलकाताः मुख्य निर्वाचन आयोग ने तृणमूल आगे पढ़ें »

दूसरे चरण के लिए 30 सीटों पर नामांकन शुरू

बंगाल में दूसरे चरण के चुनाव में चार जिलों की सीटें शामिल मतदान 1 अप्रैल को कोलकाताः चुनाव आयोग ने पश्चिम बंगाल विधानसभा के दूसरे चरण के आगे पढ़ें »

ऊपर