यूपी: पटाखा फैक्ट्री में भीषण विस्‍फोट से 6 लोगो की मौत, बिखरे मिले मानव अंग

explosion firecracker factory

एटा : उत्तर प्रदेश के एटा इलाके में पटाखा फैक्ट्री में भीषण विस्‍फोट से 6 लोगो की मौत की खबर सामने आई है। विस्फोट के कारण कई लोग मलबे में फंसे हुए हैं। यह फैक्ट्री एटा जिले के थाना मिरहची क्षेत्र में स्थित है। यहां पर काम करने वाले लोगों के लिए यह घटना बेहद घातक रहा। घटना की सूचना मिलते ही राहत-बचाव कर्मी घटनास्‍थल पर पहुंचकर फंसे हुए लोगो को निकालने में जुट गए। घटना में घायल 11 लोगो को फौरन अस्पताल भेज दिया गया है। हालांकि अभी तक घटना के पीछे का कारण स्पष्ट रुप से सामने नहीं आया है और पुलिस की टीम घटनास्‍थल पर इसकी जांच-पड़ताल में जुड़ी है।

दो मकान गिरे

मालूम हो कि इलाके के एक घर में आतिशबाजी बनाने का काम चल रहा था और फैक्ट्री का लाइसेंस मुन्नी देवी के नाम पे था। घटना के वक्त फैक्ट्री में काफी लोग उपस्थित थे। ऐसा बताया जा रहा है ‌कि यह विस्फोट इतनी तेज थी कि आसपास की मकानें गिर गई और निकटवर्ती क्षत्रों को भी नुकसान पहुंचा है। मृतकों में सोनी पत्नी मुनीम,शीतल पुत्री चन्द्रपाल और रजनी पुत्री टाइगर के नाम शामिल हैं। खबरों के मुताबिक मासूम रजनी का शव काफी दूर जा गिरा। कुछ शव बेहद बुरी तरह से बिखरे पाए गए। वहीं दूसरी ओर नरेश पुत्र सुखराम जाटव का पूरा परिवार मलबे में दबा हुआ पाया गया।

बिखरे मिले मानव अंग

जानकारी के मुताबिक पहला धमाका 11 बजे मुन्नी के मकान में हुआ जिसकी आवाज बहुत दूर तक सुनाई दी थी। इसके बाद लगातार 15-20 घमाके हुए जिससे पूरे इलाके में दहशत फैल गयी है। धमाके में 4-5 मकान भी क्षतिग्रस्त हुए है। कहीं किसी का कटा हुआ पैर मिला तो कहीं किसी का हाथ। हर तरफ मांस के टुकड़े पाए गए हैं। खबरों की माने तो घटना के समय मकान में 15-20 लोग मौजूद थे जिसमें बच्चे व महिलाएं भी थें। पटाखे बनाने का काम ठेकेदारी पर किया जा रहा था इसलिए इस बात की आशंका जताई जा रही है कि इसमें श्रमिक भी शामिल थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर