तृणमूल फैक्ट फाइंडिंग की टीम नहीं पहुंच पायी जहांगीरपुरी

बैरिकेड लगाकर पुलिस ने रोका
मीनाक्षी भट्टाचार्य
नई दिल्ली : तृणमूल की फैक्ट फाइंडिंग की टीम नहीं पहुंच पायी जहांगीरपुरी, रास्ते में ही पुलिस ने टीम को रोक दिया। शुक्रवार को तृणमूल की 5 सांसद डॉ. काकुली घोष दस्तीदार, अपरूपा पोद्दार, सजदा अहमद, अर्पिता घोष और शताब्दी रॉय जहांगीरपुरी गयी थीं। इनका आरोप है कि वहां पहुंचने में पुलिस ने बाधा दी। आरोप है कि वे हिंसा के केंद्र मस्जिद तक जाना चाहती थीं लेकिन जा नहीं पायीं। हालांकि उन्होंने स्थानीय लोगों से बात-चीत कर वहां की स्थिति को समझने की कोशिश की। इससे संबं​धित रिपोर्ट यह टीम तृणमूल प्रमुख ममता बनर्जी को सौपेंगी। सांसद काकुली घोष ने कहा, ‘हम एक स्थानीय महिला और बच्चों की मदद से मौके पर पहुंचे और लोगों से बात की, फोटो ली और घटना का नोट लिया जो हम नेत्री ममता बनर्जी को सौंपेंगे”। उन्होंने कहा, “हमारे जाने से पहले पूरे इलाके में बैरिकेडिंग कर दी गई है। भाजपा सरकार यह नहीं जानने देना चाहती है कि उस दिन क्या वारदात हुई थी, सच को छुपाना ही इनका मकसद है”। तृणमूल कांग्रेस के अलावा, समाजवादी पार्टी के प्रतिनिधिमंडल और भाकपा महासचिव डी राजा ने भी आरोप लगाया कि दिल्ली पुलिस ने शुक्रवार को जहांगीरपुरी में अशांति का दौरा करने से उन्हें भी रोक दिया है। उधर, दिल्ली पुलिस ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस व अन्य राजनीतिक दल के प्रतिनिधि जिस रास्ते का इस्तेमाल करने की कोशिश कर रहे थे, उसे अस्थाई तौर पर बंद कर दिया गया है । दिल्ली पुलिस आयुक्त राकेश अस्थाना ने जहांगीरपुरी हिंसा मामले में मुख्या आरोपी अंसार के खिलाफ धन शोधन के आरोप की जाँच के लिए प्रवर्तन निदेशालय को पत्र लिखा है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

विक्टोरिया के सामने से गुजरेगी मेट्रो!

गेट के सामने बनेगा स्टेशन, समीक्षा कमेटी ने भरी हामी कोलकाता : अब जल्द ही विक्टोरिया मेमोरियल के सामने से मेट्रो ट्रेन गुजरेगी। विक्टोरिया के गेट आगे पढ़ें »

ऊपर