बैडमिंटन में लहराया तिरंगा, भारत ने पहली बार जीता थॉमस कप

बैंकॉक : थॉमस कप बैडमिंटन टूर्नामेंट में भारत ने इतिहास रच दिया है। टीम ने पहली बार फाइनल खिताब जीतकर गोल्ड मेडल जीत लिया है। टीम इंडिया ने फाइनल में इंडोनेशिया को 3-0 से क्लीन स्वीप किया। पहले मैच में लक्ष्य सेन ने एंथोनी सिनिसुका को 8-21, 21-17, 21-16 से हराया। दूसरा मुकाबला डबल्स में सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी की जोड़ी ने 18-21, 23-21, 21-19 से जीत लिया। तीसरा मैच सिंगल्स का रहा, जिसमें किदांबी श्रीकांत ने जोनातन क्रिस्टी को 21-15, 23-21 से शिकस्त दी।
भारतीय टीम ने मलेशिया और डेनमार्क जैसी टीम को हराकर पहली बार फाइनल में जगह बनाई थी, ऐसे में टीम का आत्मविश्वास काफी मजबूत रहा। अब फाइनल में 14 बार की रिकॉर्ड चैम्पियन इंडोनेशिया को शिकस्त देकर इतिहास रच दिया है।
किदांबी ने तीसरा मैच जीत, खिताब पक्का किया
तीसरा मैच सिंगल्स में खेला गया था। इसमें किदांबी श्रीकांत और जोनातन क्रिस्टी आमने-सामने थे। मैच में शुरुआत से ही किदांबी ने अपना दबदबा बनाए रखा और क्रिस्टी को किसी भी तरह से मैच में मौका नहीं दिया। किंदाबी ने सीधे सेटों में क्रिस्टी को 21-15, 23-21 से शिकस्त दी। किदांबी की इस जीत ने टीम इंडिया को फाइनल में 3-0 से विजयी बनाया।
सात्विक-चिराग की जोड़ी ने दूसरा मैच जीता
दूसरा मैच डबल्स में खेला गया, जिसमें भारतीय जोड़ी सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी और चिराग शेट्टी का सामना केविन संजाया और मोहम्मद अहसान की जोड़ी से हुआ। मैच काफी रोमांचक रहा। इसमें पहला सेट इंडोनेशियन जोड़ी ने 21-18 से जीता। जबकि दूसरे सेट में भारतीय जोड़ी ने बाजी पलट दी और 23-21 से सेट जीतकर मैच बराबर किया। इसके बाद तीसरा सेट भी भारतीय जोड़ी ने 21-19 के अंतर से जीत लिया। इसी के भारत ने मैच में 2-0 की बढ़त बनाई।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पानीहाटी में तृणमूल कार्यालय पर बमबारी

पानीहाटी : खड़दह थाना अंतर्गत पानीहाटी के एंजेल नगर इलाके में कुछ समाज विरोधियों ने पहले बमबारी की। इसके बाद बीटी रोड मातारंगी भवन नामक आगे पढ़ें »

ऊपर