दूल्हे के घर शादी के लिए पहुंची दो दुल्हन, फिर जो हुआ…

नई ​दिल्ली : भारत में शादी के कई अजीबोगरीब मामले सामने आते रहते हैं। कभी मंडप पर कुछ बवाल हो जाता है तो कभी दूल्हा या दुल्हन कुछ ऐसा कर बैठते हैं कि वह वायरल हो जाता है, शादी के वीडियोज अक्सर धूम मचाते रहते हैं। लेकिन इसी बीच कर्नाटक से एक ऐसा मामला सामने आया है जहां एक दूल्हे से शादी करने के लिए दो दुल्हन पहुंच जाती हैं। यह नजारा देख सब हैरान हो जाते हैं। दोनों उस दूल्हे से शादी करना चाहती हैं। आखिरकार टॉस से दोनों की किस्मत का फैसला किया जाता है।

दरअसल, यह मामला कर्नाटक के बेंगलुरु का है। यहां दूल्हे के घरवाले अपने लड़के की शादी की तैयारी कर रहे थे तभी अचानक दो दुल्हन उनके यहां पहुंच जाती है। हालांकि यह सब क्यों होता है इसके पीछे की भी एक कहानी सामने आई। सूत्रों के मुताबिक लड़का बेंगलुरु के सकलेशपुर तालुक का रहने वाला है। उसे पड़ोस के गांव की एक लड़की से प्यार था, लेकिन कुछ महीने बाद उसका चक्कर एक दूसरी लड़की से चलने लगा। आश्चर्य की बात यह है कि लड़के ने उन दोनों के इस बारे में नहीं बताया था।

उसको शायद पता नहीं था कि दो-दो लड़कियों से इश्क लड़ाना उसे काफी महंगा पड़ सकता है। जब घर वालों को लगा कि उनके लड़के का कहीं चक्कर चल रहा है तो उन्होंने उसकी शादी कहीं और करने की सोच ली और उसके लिए दुल्हन देखने लगे। इसी बीच पहली लड़की को पता चल गया कि लड़के के घर वाले कहीं और उसकी शादी करने वाले हैं। इतना ही नहीं दूसरी लड़की को भी इसी बात की भनक लग गई। बस फिर क्या था दोनों लड़के के घर पहुंच गईं।

लड़के के घरवालों ने जब देखा कि उसका एक नहीं बल्कि दो-दो लड़कियों से चक्कर है तो उनके होश उड़ गए। दोनों लड़कियों ने जमकर बवाल किया और वहीं डेरा डाल दिया। आखिर में गांव की पंचायत बुलाई गई। सबके सामने लड़के ने कबूल किया कि उसका दोनों लड़कियों से चक्कर चल रहा है। उसी में से एक लड़की ने सुसाइड की भी धमकी दे दी।

आखिरकार फैसला हुआ कि टॉस किया जाएगा और जो लड़की जीतेगी उसी से लड़के की शादी होगी। इसके बाद टॉस हुआ तो टॉस हारने वाली लड़की ने सुसाइड का प्रयास किया। हालांकि उसे किसी तरह अस्पताल ले जाकर बचाया गया। फिलहाल लड़के ने टॉस जीतने वाली लड़की से शादी का फैसला किया और सब इस बात पर राजी हो गए।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सियालदह तक मेट्रो की सौगात नए साल में

सियालदह तक मेट्रो शुरू करने की कवायद में जुटा प्रबंधन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः ईस्ट वेस्ट मेट्रो कॉरिडोर के तहत कोलकाता मेट्रो रेलवे कॉरपोरेशन (केएमआरसीएल) ने सियालदह मेट्रो आगे पढ़ें »

ऊपर