आज सरकार की आलोचना करने से डर रहे हैं लोग-उद्योगपति राहुल बजाज

मुंबई : देश के जाने-माने उद्योगपति राहुल बजाज ने कहा है कि देश में इस वक्त खौफ का माहौल है, लोग सरकार की आलोचना करने से डर रहे हैं, क्योंकि लोगों में ये यकीन नहीं है कि उनकी आलोचना को सरकार में सराहा जाएगा। उद्योगपति बजाज जब अपनी बातें कह रहे थे तो उनके ठीक सामने देश के गृह मंत्री अमित शाह मौजूद थे। शाह मुंबई में एक अवॉर्ड वितरण कार्यक्रम में शिरकत करने आए थे। उनके साथ ही इस कार्यक्रम में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और रेल मंत्री पीयूष गोयल भी हिस्सा ले रहे थे।

बजाज ने लगाए आरोप

बजाज ने आगे कहा, ‘‘हमारे उद्योगपति मित्रों में यह कोई नहीं बोलेगा, लेकिन हमें एक वातावरण बनाना होगा। मैं गलत हो सकता हूं। मुझे शायद कुछ चीजें नहीं बोलनी चाहिए। मैं आज यहां खुले तौर पर कहना चाहता हूं कि जब यूपीए-टू की सरकार थी, तब हमलोग किसी की भी आलोचना कर सकते थे। ऐसा ही माहौल फिर से बनाना होगा. आपकी सरकार अच्छा कर रही है, उसके बाद भी हम आपकी खुले तौर पर आलोचना नहीं कर सकते हैं। हमें ये विश्वास नहीं कि आप तारीफ करेंगे। हो सकता है कि मैं गलत हूं, पर सभी यही महसूस कर रहे हैं।’’

अमित शाह ने दिया जवाब

इसके जवाब में अमित शाह ने कहा कि किसी को डरने की जरूरत नहीं है, लेकिन अगर बजाज को ऐसा लग रहा है तो हम माहौल को बेहतर करने की कोशिश करेंगे. शाह ने कहा, ‘फिर भी आप जो कह रहे हैं कि ऐसा एक माहौल बना है, तो हम इसको सुधारने का प्रयास करेंगे। लेकिन मैं इतना जरूर कहना चाहता हूं कि किसी को डरने की जरूरत नहीं है। न कोई डराना चाहता है, न कुछ ऐसा करना है जिसके खिलाफ बोले तो सरकार को चिंता हो। काफी पारदर्शी तरीके से ये सरकार चल रही है, और हमें किसी भी प्रकार की विरोध का कोई डर नहीं है और कोई विरोध करेगा भी तो उसके मेरिट्स देख कर हम अपने आप को बेहतर करने का प्रयास करेंगे।’ इसके अलावा उन्होंने कहा, ‘‘यह सिर्फ एक हौव्वा बनाया गया है। अगर किसी सरकार के बारे में सबसे ज्यादा लिखा गया है तो वह मोदी सरकार के खिलाफ है।’’

प्रज्ञा के बयान का नहीं करते हैं समर्थन

गृह मंत्री ने प्रज्ञा सिंह ठाकुर पर भी अपनी राय दी। उन्होंने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार और बीजेपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के बयान की कड़ी आलोचना करती है। अमित शाह ने कहा कि रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पहले ही प्रज्ञा ठाकुर के बयान पर सफाई दे चुके हैं, पार्टी ने भी उनके खिलाफ कार्रवाई की है। अमित शाह ने कहा, “न तो सरकार और न ही पार्टी ऐसे किसी टिप्पणी का समर्थन करती है, हमलोग पूरी सख्ती से इस बयान की आलोचना करते हैं।”

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर