टीचर ने दी थी खड़े होने की सजा, प्राइमरी क्लास की छात्रा की हो गई मौत

बेंगलुरु: कर्नाटक के बेंगलुरु में स्कूल की टीचर ने प्राइमरी क्लास के छात्रों को खड़े होने की सजा सुनाई। सजा के दौरान एक बच्ची को चक्कर आया और वह वहीं गिर गई, जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। पुलिस ने बताया कि मामला गंगम्मागुडी इलाके का है।

एक न्यूज एजेंसी के मुताबिक, निशिता गंगम्मागुडी के प्राइवेट स्कूल में पढ़ती थी। शुक्रवार को टीचर ने किसी बात को लेकर क्लास के सभी बच्चों को सजा दी। टीचर ने बच्चों के क्लास के अंदर बैठकर नहीं, बल्कि खड़ा रहकर पढ़ाई करने की सजा दी। इस दौरान निशिता को चक्कर आया और वह गिर गई।

शरीर पर चोट का कोई निशान नहीं
स्कूल वालों ने निशिता को तुरंत नजदीकी अस्पताल पहुंचाया लेकिन इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई। इसकी सूचना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। रिपोर्ट में बच्ची के शरीर पर चोट का कोई निशान नहीं मिला। फिलहाल पुलिस ने संदिग्ध परिस्थितियों में अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज कर लिया है। मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है। पुलिस की टीम जांच पड़ताल के लिए शनिवार को स्कूल में पहुंची। यहां टीचरों सहित स्कूल स्टाफ से पूछताछ की जा रही है। साथ ही स्कूल में लगे सीसीटीवी कैमरों को भी खंगाला जा रहा है।

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

दिसम्बर में मनाऊंगा विजया सम्मिलनी, बांटूंगा लड्डू : शुभेंदु

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शनिवार को डायमण्ड हार्बर के लाइटहाउस ग्राउंड में भाजपा की सभा को संबोधित करते हुए विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी ने राज्य आगे पढ़ें »

डायमण्ड हार्बर में शुभेंदु की सभा से पहले हंगामा, घरों व वाहनों में आगजनी

कांथी में अवरोध करने में मुझे 3 सेकेंड लगते : शुभेंदु सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : शनिवार को डायमण्ड हार्बर में विपक्ष के नेता शुभेंदु अधिकारी की सभा आगे पढ़ें »

ऊपर