कोरोना के बढ़ते केस ने बढ़ाई केन्द्र सरकार की चिंता

नई दिल्ली : देश में कोरोना संक्रमण के मामले एक बार फिर से बढ़ने के चलते चिंतित केन्द्र सरकार एक्शन में आ गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने दिल्ली-महाराष्ट्र समेत पांच राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों को चिट्ठी लिखते हुए उनसे वहां पर कोरोना के बढ़े मामले और इसके प्रसार की रोकथाम के लिए कड़े कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। देश में कोरोना के रोजाना आ रहे नए मामलों में भारी कमी का जिक्र करते हुए राजेश भूषण ने केरल, दिल्ली, महाराष्ट्र, हरियाणा और मिजोरम के अथॉरिटीज से संक्रमण की रोकथाम के लिए निगरानी लगातार बनाए रखने और कोरोना प्रबंधन के तुरंत और प्रभावी उपाय अख्तियार करने के निर्देश दिए।

स्वास्थ्य सचिव ने आगे कहा कि कोरोना की बढ़ती संख्या को रोकने के लिए पांच सूत्रीय रणनीति- टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, वैक्सीनेशन और कोरोना से संबंधित सही व्यवहार अपनाने की जरूरत है। गौरतलब है कि केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने अधिकारियों को कोरोना वायरस के नए स्वरूप ‘एक्सई’ को लेकर निगरानी तथा सतर्कता और बढ़ाने का निर्देश दिया है। मांडविया ने नए स्वरूप ‘एक्सई’ पर देश के प्रमुख विशेषज्ञों की बैठक की अध्यक्षता की।

केन्द्र का निगरानी बढ़ाने के निर्देश

मंत्रालय द्वारा जारी एक बयान के अनुसार, उन्होंने अधिकारियों से कहा कि वे कोविड-19 मरीजों के उपचार के लिए आवश्यक दवाओं और औषधियों की उपलब्धता की लगातार समीक्षा करें। मंत्री ने टीकाकरण अभियान को पूरी गति से चलाने और सभी पात्र लोगों का टीकाकरण करने पर जोर दिया।

बैठक में नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वीके पॉल, स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण, अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया, भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के महानिदेशक डॉ. बलराम भार्गव, भारत में टीकाकरण पर राष्ट्रीय तकनीकी सलाहकार समूह के प्रमुख डॉ. एन के. अरोड़ा और स्वास्थ्य मंत्रालय के अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए।

फिर बढ़ रहा कोरोना केस

भारत में कोविड-19 के 796 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या बढ़कर 4,30,36,928 हो गई, जबकि देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या गिरकर 10,889 रह गई। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मंगलवार को अद्यतन आंकड़ों में यह जानकारी दी गई। मंत्रालय के सुबह आठ बजे के आंकड़ों के अनुसार, 19 और लोगों की संक्रमण से मौत होने के बाद मृतक संख्या बढ़कर 5,21,710 हो गई।

देश में कोविड-19 के उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 10,889 रह गई है, जो कुल मामलों का 0.03 प्रतिशत है। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 98.76 प्रतिशत है। पिछले 24 घंटे में उपचाराधीन मरीजों की संख्या में 169 की कमी दर्ज की गई।

मंत्रालय ने बताया कि संक्रमण की दैनिक दर 0.20 प्रतिशत और साप्ताहिक दर 0.24 प्रतिशत है। देश में अभी तक कुल 4,25,04,329 लोग संक्रमण मुक्त हो चुके हैं और कोविड-19 से मृत्यु दर 1.21 प्रतिशत है। वहीं, राष्ट्रव्यापी टीकाकरण अभियान के तहत अभी तक कोविड-19 रोधी टीकों की 185.90 करोड़ से अधिक खुराक लगाई जा चुकी हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

…पर अफसर बनने के बाद भूल जाते हैं गुरु को

हाई कोर्ट के मामलों के आईने में दिखती है गुरुओं की पीड़ा सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कबीर दास का एक दोहा है : ‘गुरु गोविन्द दोऊ खड़े आगे पढ़ें »

ऊपर