सुपर 30 कोचिंग संस्‍था के संस्‍थापक को ‘द एजुकेशन एक्सीलेंस अवॉर्ड 2019’ से नवाजा गया

Anand kumar

वॉशिंगटन : आईआईटी प्रवेश परीक्षा की तैयारी कराने वाली कोचिंग संस्था ‘सुपर 30′ के संस्थापक और गणित के विख्यात शिक्षक आनंद कुमार को अमेरिका में द एजुकेशन एक्सीलेंस अवॉर्ड 2019 से नवाजा गया है। आनंद कुमार को यह पुरस्कार फाउंडेशन फॉर एक्सीलेंस (एफईई) संगठन की ओर से जरूरतमंद विद्यार्थियों को शिक्षा मुहैया कराने में दिए गए उनके योगदान के लिए दिया गया। बताया जा रहा है कि इस संगठन के 25 साल पूरे होने के मौके पर कैलिफोर्निया के सैन जोंस में आयोजित एक समारोह में आनंद को पुरस्कार दिया गया।

शिक्षा को लोगों के लिए सुलभ बनाना महत्वपूर्ण अंतर है
इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए आनंद कुमार ने संयुक्त राज्य अमेरिका और दुनिया भर में रहने वाले भारतीय समुदाय के शिक्षा को विश्व की सभी समस्याओं से लड़ने के लिए सबसे मजबूत हथियार बनाने में मदद करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि गुणत्तापूर्ण शिक्षा को आम जनता के लिए सुलभ बनाना दुनिया में एक महत्वपूर्ण अंतर लाएगा, इससे गरीबी, बेरोजगारी, जनसंख्या विस्फोट, पर्यावरण क्षरण और बहुत से मुद्दों को हल करने में मदद मिलेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि अमेरिका सहित दुनिया भर के अलग-अलग क्षेत्रों में भारतीय आश्चर्यजनक कार्य करते रहे हैं, और उनके लिए अपने समाज को कुछ देना काफी संतोषजनक होगा। बता दें कि आनंद पिछले 18 सालों से भारत में सुपर-30 संस्‍था चला रहे हैं, जिसमें 30 छात्रों को एक साल के लिए आवासीय मुफ्त कोचिंग प्रदान किया जाता है। इन सभी बच्चों को भारत के इंजीनियरिंग के उच्च संस्थान आईआईटी की परीक्षा आईआईटी-जेईई के लिए तैयार करवाया जाता है। गौरतलब है कि हाल ही में ऋतिक रोशन द्वारा उनके जीवन पर बनी बायोपिक की सफलता के बाद से लगातार खबरों में थे, आनन्द ने जरूरतमंद छात्रों को छात्रवृत्ति प्रदान करने और जरूरतमंदों के बीच शिक्षा की लौ जलाने के लिए एफएफई को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि वंचितों के लिए पीढ़ीगत बदलाव लाने के लिए शिक्षा की शक्ति बहुत अधिक है, जो देश में विकास को गति प्रदान करेगी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

hongkong

हांगकांग ‘लोकतंत्र अधिनियम’ पारित, चीन ने दी कड़ी प्रतिक्रिया

वाशिंगटन : हांगकांग में लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शनकारियों की मांग वाले एक विधेयक को अमेरिकी प्रतिनिधि सभा ने मंगलवार को पारित कर दिया, जिसका उद्देश्य उस आगे पढ़ें »

रतन टाटा खुद को मानते हैं ‘एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक’, कई बड़ी कंपनियों में है हिस्सेदारी

नई दिल्ली : उद्योगपति और टाटा समूह के चेयरमैन रतन टाटा ने खुद को 'एक्सीडेंटल स्टार्टअप निवेशक' माना है। उन्होंने दर्जनभर से ज्यादा स्टार्टअप कंपनियों आगे पढ़ें »

court

अयोध्या मामले पर सुप्रीम कोर्ट ने 40 दिन की सुनवाई के बाद फैसला सुरक्षित रखा

ayodhya

अयोध्या मामला : मुस्लिम धर्मगुरुओं ने कहा, शीर्ष न्यायालय के फैसले को स्वीकार किया जाना चाहिए

अमेरिकी प्रतिबंधों के पालन के लिए भारत अपना नुकसान नहीं करेगा: वित्त मंत्री

russia

तुर्की और सीरिया की लड़ाई में रूस बना दीवार, तैनात की अपनी आर्मी

sitaraman

अनुच्छेद 370 को हटाए जाने के बाद ‘मानवाधिकार’ विश्व स्तर पर ज्वलंत शब्द बन गया : सीतारमण

chetak

बजाज ने पेश किया इलेक्ट्रिक चेतक स्कूटर, सामने आया पहला लुक

rail

रेलवे ने शुरू की नई योजना, अब फिल्म प्रमोशन के लिए हो सकेगी ट्रेनों की बुकिंग

modi

पीएम मोदी बोले- राष्ट्र निर्माण का आधार है सावरकर के संस्कार

ऊपर