शादी में लड़के-लड़कियां टुन्न होकर पहुंचे, स्टेज पर फोटो सेशन को लेकर हंगामा, दुल्हन के…

शिवपुरीः शिवपुरी में एक शादी के दौरान जमकर हंगामा हुआ। पुलिस ने दोनों पक्षों में सुलह की कोशिश भी की, पर कोई हल नहीं निकला। विवाद इतना बढ़ा कि बारात को बिना दुल्हन के ही लौटना पड़ा। और तो और, दोनों पक्षों ने एक-दूसरे के खिलाफ पुलिस में शिकायत अलग कर दी है। शिवपुरी के फिजिकल थाना अंतर्गत परिणय वाटिका में शिवपुरी के एसडीओ आरईएस हरिओम श्रीवास्तव की बेटी आयुषी का विवाह शनिवार रात श्योपुर के उमेश सक्सेना के बेटे गगनदीप से हुआ था। शादी में दूल्हा और दुल्हन, दोनों के ही पक्ष में विवाद हुआ। दहेज की मांग, बारातियों के स्वागत में कमी, बुजुर्गों का सम्मान न होने से लेकर बारातियों के शराब पीकर टुन्न होने और स्टेज पर फोटो खींचने जैसे तमाम मुद्दों पर विवाद हुआ। रविवार सुबह तक विवाद इतना बढ़ा कि वधु पक्ष ने बिना दुल्हन के ही बारात को लौटा दिया।

मामला बिगड़ा तो कोतवाली थाना प्रभारी सुनील खेमरिया और देहात थाना प्रभारी विकास यादव भी मौके पर पहुंचे थे। उन्होंने रविवार को सुबह से देर शाम तक वर-वधु पक्ष में सुलह की कोशिश की। समाधान नहीं निकला और वधु पक्ष बेटी को साथ लेकर घर चला गया। दूल्हा पक्ष ने दुल्हन पक्ष के खिलाफ बंधक बनाने, चढ़ावे के जेवर आदि रखने की शिकायत दर्ज कराई है। हालांकि, वधु पक्ष की तरफ से फिलहाल कोई शिकायत सामने नहीं आई है। कोतवाली थाना प्रभारी सुनील खेमरिया ने कहा कि वर पक्ष की तरफ से शिकायत दर्ज कराई गई है, जिस पर एफआईआर दर्ज की गई है। वधु पक्ष की तरफ से फिलहाल कोई शिकायत नहीं आई है। हमने दिनभर मामला सुलझाने और सुलह कराने का प्रयास किया लेकिन बात नहीं बनी।
नशे में टुन्न बारातियों ने भी किया हंगामा  

दुल्हन के रिश्तेदारों का आरोप है कि बारात में लड़के तो लड़के, लड़कियां भी शराब के नशे में टुन्न होकर आई थीं। उन्होंने स्टेज पर फोटो सेशन को लेकर हंगामा किया। कमरे को लेकर भी दोनों पक्षों में विवाद हुआ। इसके चलते रात में ही एक अन्य लॉज बुक कर रिश्तेदारों को वहां शिफ्ट करना पड़ा। लगुन में वधु के परिजन तीन लाख रुपए नगद सहित अन्य सामान लेकर पहुंचे थे। वर पक्ष ने दहेज की मांग शुरू कर दी। कभी टीके के नाम पर, कभी कपड़ों के नाम पर, कभी सम्मान के नाम पर पैसों की मांग की जा रही थी। वधु पक्ष का कहना है कि उन्हें डर है कि कहीं दहेज की भूख मिटाने के फेर में उनकी बेटी के साथ कोई अनहोनी घटना घटित न हो जाए। यही वजह है कि उनकी बेटी जाना नहीं चाह रही है।
 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

चरम सुख के लिए ‘प्यार’ की यह स्थिति आपको और देगा मजा

कोलकाता : दुनिया में सबसे ज्यादा चरम सुख केवल दो चीजों में मिलती है। पहला है समाधिस्थ स्थिति और दूसरा है सेक्स। उसमें भी यदि आगे पढ़ें »

ऊपर