ऑनलाइन क्लास के दौरान टीचर को हुआ छात्रा से प्यार

नई दिल्ली : कहते हैं प्यार कब-किससे-कहां हो जाए ये कोई नहीं जानता। बिहार के भागलपुर में ऐसा ही मामला सामने आया जहां कोचिंग शिक्षक को अपनी एक छात्रा से प्यार हो गया। कोरोना काल में स्कूल-कॉलेज बंद हैं ऐसे में ऑनलाइन क्लास के जरिए पढ़ाई हो रही है। भागलपुर में फिजिक्स की कोचिंग चलाने वाले रोहित भी ऑनलाइन क्लास लेते हैं। इसी दौरान उन्होंने अपनी क्लास में बांका की रहने वाली काजल को देखा। पढ़ाई के दौरान ही दोनों में प्यार हुआ और फिर बात शादी तक पहुंच गई। खास बात ये रही कि उनकी शादी बिना दहेज और बैंड-बाजा बारात के एक मंदिर में हुई।
– जानिए कैसे हुआ प्यार…फिर शादी तक पहुंच गई बात
रोहित, सुल्तानगंज प्रखंड के कटारा पंचायत में स्थित कुमारपुर गांव के रहने वाले गिरिनंद सिंह के बेटे हैं। वहीं काजल बांका जिले के शंभूगंज प्रखंड स्थित बिरौंधा निवासी संजय मंडल की बेटी हैं। बताया जा रहा कि रोहित की ऑनलाइन कोचिंग क्लास को काजल ने भी ज्वाइन किया। ‘ज़ूम ऐप’ और ‘व्हाट्सऐप’ पर ऑनलाइन क्लासेज होतीं। इसी दौरान रोहित-काजल में प्यार परवान चढ़ा तो उन्होंने मिलने का फैसला किया। फिर मामला शादी तक पहुंच गया।
बिना दहेज और धूम-धड़ाके शादी
रोहित और काजल की शादी सुल्तानगंज के कुमारपुर गांव में स्थित काली मंदिर में बीते 2 जून को हुई। रोहित ने बिना दहेज के शादी रचाकर एक ओर जहां समाज में मिशाल पेश की, वहीं दहेज लोभियों को भी इस विवाह के जरिए सख्त संदेश दिया है। बिना किसी खर्च और धूम-धड़ाके के हुई इस शादी की लोग जमकर तारीफ कर रहे हैं। इस बारे में काजल के परिजन बताते हैं कि काजल कुमारी ने जब इंटर की पढ़ाई पूरी की तो परिवार वाले उनकी शादी को लेकर चिंतित रहने लगे। ये चिंता शादी में लगने वाले दहेज को लेकर थी। लेकिन काजल हमेशा दहेज का विरोध करती थीं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

स्वरूपनगर में तृणमूल नेता की हत्या की कोशिश

घर के सामने ही 4 अभियुक्तों ने किया हमला गंभीर अवस्था में पीजी में है भर्ती बशीरहाट : बशीरहाट अंचल के स्वरूपनगर थाना अंतर्गत गोविंदपुर ग्राम पंचायत आगे पढ़ें »

बारला के बाद अब एक और भाजपा सांसद ने की अलग राज्य की मांग

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : अलीपुरदुआर के भाजपा सांसद जाॅन बारला ने जहां उत्तर बंगाल को अलग राज्य या केंद्र शासित प्रदेश घोषित किये जाने की मांग आगे पढ़ें »

ऊपर