अगले हफ्ते से लोगों को लग सकता है रूस का स्पुतनिक का टीका

जुलाई से भारत में ही होगा उत्पादन
नई दिल्ली : देश को जल्द ही एक और वैक्सीन मिल जाएगी। नीति आयोग के सदस्य डॉक्टर वीके पॉल ने आज कहा कि अगले हफ्ते से लोगों को स्पुतनिक का टीका (स्पुतनिक-वी) लगाया जा सकता है। इस वैक्सीन का जुलाई से भारत में उत्पादन होगा।
नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) डॉ. वीके पॉल ने कहा, ”स्पुतनिक वैक्सीन भारत में पहुंच गई है। मुझे यह कहते हुए खुशी है कि हम उम्मीद करते हैं कि अगले हफ्ते से यह बाजार में उपलब्ध रहेगी। हम यह भी आशा करते हैं कि रूस से आई वैक्सीन की सीमित मात्रा में बिक्री अगले हफ्ते से शुरू हो जाएगी।”
साथ ही उन्होंने कहा कि FDA और WHO से जिन वैक्सीन को मंजूरी मिली है वो कंपनी भारत आ सकती है। एक से दो दिनों में आयात लाइसेंस दिया जाएगा। अभी कोई भी आयात लाइसेंस लंबित नहीं है। डॉ. वीके पॉल ने कहा कि अगस्त से दिसंबर में आठ वैक्सीन की 216 करोड़ डोज हमारे पास होगी।
केंद्र सरकार ने यह बयान ऐसे समय में दिया है जब दिल्ली, महाराष्ट्र समेत कई राज्यों ने वैक्सीन की कमी की शिकायत की है। दिल्ली और महाराष्ट्र में 18 से 44 साल तक की उम्र के लोगों के टीकाकरण पर रोक लगा दी गई है।
स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि केंद्र ने अबतक मौजूदा टीकाकरण अभियान के लिए कोविड-19 टीके की 35.6 करोड़ खुराक खरीदी हैं, इसके अतिरिक्त 16 करोड़ खुराक (सीधी खरीद के जरिये) राज्यों और निजी अस्पतालों तक पहुंचाए जाने की प्रक्रिया में है। बता दें कि इस समय देश में भारत बायोटेक की कोवैक्सीन और सीरम इंस्टीट्यूट की कैविशिल्ड वैक्सीन लोगों को दी जा रही है। सरकार की कोशिश है कि वैक्सीन का उत्पादन बढ़ाई जाए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

वेट कंट्रोल के साथ आपके मन को शांत रखती हैं ये पांच छोटी-छोटी बातें

कोलकाताः मन अशांत रहने का असर हमारे खाने-पीने की आदतों पर भी पड़ता है। मौजूदा समय में जिस तरह दुनिया अस्त-व्यस्तता से गुजर रही है, उसकी आगे पढ़ें »

बच्चों व महिलाओं के लिए 10 हजार बेड तैयार कर रहा स्वास्थ्य विभाग

बच्चों के लिए स्पेशल कोविड बेड हर अस्पताल में थर्ड वेव के मद्देनजर तैयारियां जोरों पर सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कोरोना वायरस महामारी के सेकंड वेव ने स्वास्थ्य आगे पढ़ें »

ऊपर