छह घंटे तक क्यों ठप रहे फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम

नई दिल्ली : सोमवार की रात को दुनिया की तीन सबसे बड़ी सोशल मीडिया साइट ठप पड़ गईं जिसके बाद ट्विटर पर लोगों के कॉमेंट की बाढ़ सी आ गई। फेसबुक, इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप के डाउन होने के बाद ऐसा लग रहा था कि इनके यूजर्स सांस नहीं ले पा रहे और ऐसा होना लाजिमी भी था क्योंकि यह किसी सोशल मीडिया साइट के इतिहास का दूसरा सबसे बड़ा आउटेज था। व्हाट्सएप, फेसबुक और इंस्टाग्राम सोमवार को करीब 6 घंटे तक ठप रहे जिसके पूरी दुनिया के यूजर्स को परेशान हुई और 1.06 करोड़ यूजर्स ने शिकायत की। फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम के इस आउटेज का अंदाजा आप इसी बात से लगा सकते हैं कि आउटेज के दौरान फेसबुक के कर्मचारी ऑफिस में एंट्री भी नहीं कर पा रहे थे। सभी एंट्री गेट का एक्सेस खत्म हो गया था, क्योंकि इसका सर्वर भी फेसबुक के सर्वर से ही काम करता है।
अब तक के सबसे बड़े आउटेज पर फेसबुक ने क्या कहा ?
भले ही दुनियाभर के यूजर्स के लिए फेसबुक, फेसबुक मैसेंजर, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम जैसे एप्स छह घंटे के लिए ठप थे, लेकिन फेसबुक की इंजीनियरिंग टीम ने आधिकारिक तौर पर कहा है कि उसकी सेवाएं करीब 2.5 घंटे तक बाधित रहीं। फेसबुक ने कहा, ‘पिछले चार सालों में यह सबसे बड़ा आउटेज था और इसके लिए हम माफी मांगते हैं। हम इस आउटेज के बारे में कुछ तकनीकी जानकारी भी देना चाहते हैं कि आखिर हुआ क्या था और इस आउटेज से हमें क्या सीखने को मिला। दरअसल यह सारी समस्या कॉन्फिग्रेशन वेरिफाई के दौरान शुरू हुई जो कि ऑटोमेटिक तरीके से होता है।’
फेसबुक ने आगे कहा, ‘कॉन्फिग्रेशन के दौरान दो डाटा सेंटर एक दूसरे से कनेक्ट रहते हैं और बेकार कैश को चेक करके नए के साथ अपडेट किया जाता है। यह प्रक्रिया कैश के साथ तब काम नहीं करती है जब इसे लगातार गलत कमांड मिलते हैं। आज ही हमने एक कॉन्फिग्रेशन को लेकर बदलाव किया था जिसे बैकबोन राउटर ने रिजेक्ट कर दिया और इसी वजह से पूरी दुनिया के यूजर्स को दिक्कत हुई। इसके कारण प्रत्येक एक यूजर को अमान्य (इनवैलिड) रिजल्ट मिले। इस वजह से लोगों को लगातार एरर मिल रहा था और डाटा सेंटर तक कमांड नहीं पहुंच पा रहे थे। इस वजह से हमें साइट की पूरी ट्रैफिक को बंद करना पड़ा।’ आपको बता दें कि कॉन्फिग्रेशन दो डाटा सेंटर के बीच के पुल का काम करता है।
किसी हैकिंग के कारण तो नहीं हुई आउटेज?
कई सोशल मीडिया यूजर्स का कहना है कि हैकिंग के कारण फेसबुक की सेवाएं बाधित रहीं, हालांकि फेसबुक ने इससे साफतौर पर इंकार कर दिया है। फेसबुक ने कहा है कि यूजर्स के डाटा के साथ छेड़छाड़ के कोई सबूत नहीं मिले हैं। ऐसे में आउटेज के लिए हैकिंग का हवाला देना उचित नहीं है। बता दें कि इससे पहले 2019 में भी फेसबुक में इसी तरह की समस्या आई थी जब फेसबुक 14 घंटे तक ठप था।
फेसबुक को कितना हुआ नुकसान?
छह घंटे के इस आउटेज में फेसबुक को हर घंटे करीब 7.45 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ है। फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग की व्यक्तिगत संपत्ति में 6 बिलियन डॉलर यानी करीब 44,790 करोड़ रुपये से अधिक की गिरावट आई है, जिससे वह दुनिया के सबसे अमीर लोगों की सूची में एक पायदान नीचे खिसक गए हैं। इसके अलावा फेसबुक के शेयर में भी 4.9 फीसदी की गिरावट देखी गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग : बांग्लादेश में हिंसा फैलाने वाला मुख्य अभियुक्त गिरफ्तार

कोलकाता/ बांग्लादेश : बांग्लादेश  में हिंसा फैलाने के मामले में मुख्य अभियुक्त इकबाल को बांग्लादेश पुलिस ने किया गिरफ्तार । कॉक्स बाजार से उसकी हुई आगे पढ़ें »

ऊपर