गुजरात में बिगड़े हालात, अस्पताल के बाहर लगी एंबुलेंस की कतार

अहमदाबाद : कोरोना संक्रमण के चलते गुजरात में स्वास्थ्य सेवाओं की स्थिति गंभीर होती हुई दिख रही है। रोजाना बेकाबू कोरोना के मामलों के चलते अस्पतालों में इसका बोझ लगातार बढ़ता जा रहा है। ऐसे में गंभीर मरीजों के लिए भी अस्पताल के बाहर वेटिंग का टाइम बढ़ गया है। कुछ ऐसा ही हाल है राज्य की राजधानी अहमदाबाद के सिविल अस्पताल का। यहां अस्पताल के बाहर एंबुलेंस की लंबी कतारें देखी जा सकती है। इमरजेंसी सेवाओं में मरीजों के आने की संख्या पिछले 10 दिनों से काफी बढ़ गई है। इनमें से ज्यादातर कोविड-19 के मरीज हैं। इसकी वजह से अहमदाबाद के सिविल अस्पताल में 60 और एंबुलेंस बढ़ा दी गई है।
गुजरात में कोरोना के प्रसार की रोकथाम को लेकर राज्य सरकार की तरफ से किए गए प्रयासों को राज्य के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने पर्याप्त बताया है। उन्होंने कहा कि कोरोना से लड़ाई में राज्य सरकार से कोई चूक नहीं हुई और हम पिछले एक साल से लगातार कोरोना के खिलाफ मुकाबला कर रहे हैं। सीएम विजय रूपाणी ने कहा कि गुजरात में सबसे ज्यादा केस अहमदाबाद सूरत राजकोट समेत चार महानगरों से 70 फीसदी सामने आ रहे हैं। उन्होंने कहा कि सोमवार को छह हजार कोरोना के केस गुजरात से आए हैं लेकिन, संक्रमण के चेन को तोड़ने के लिए हमने मेडिकल फैसिलिटी को बढ़ाया है। आने वाले दिनों में गुजरात मे कोरोना कम हो जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य में रेमडेसिविर इंजेक्शन की काफी मांग है उसके बावजूद उसकी कमी नहीं होने दी गई है।
शेयर करें

मुख्य समाचार

शोभन से मिलने गयीं वैशाखी फफक कर रो पड़ी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : नारदा मामले में सीबीआई ने कोलकाता के पूर्व मेयर शोभन चटर्जी काे निजाम पैलेस से प्रेसिडेंसी जेल में ले जाने के बाद आगे पढ़ें »

इलाका दखल को केंद्र कर तृणमूल के दो गुटों में झड़प, चली गोली, 1 घायल

कैनिंग थानांतर्गत गड़खाली इलाके की घटना इलाके में पुलिस पिकेटिंग सन्मार्ग संवाददाता दक्षिण 24 परगना : कैनिंग में इलाका दखल को केंद्र कर तृणमूल के दो गुटों में आगे पढ़ें »

ऊपर