‘मोदी हों या मनमोहन, प्रधानमंत्रियों का हमेशा अपमान करते हैं राहुल’

नई दिल्ली : वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने वित्त वर्ष 2021-22 के लिए पेश केंद्रीय बजट पर चर्चा के बाद लोकसभा में अपना जवाब देते हुए राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा। अपने बेहद सधे और धारदार भाषण में वित्त मंत्री ने जहां राहुल गांधी के राजनीतिक चरित्र की भी कड़ी आलोचना की, वहीं कांग्रेस की आर्थिक नीतियों पर भी जोरदार हमला बोला। उन्होंने राहुल गांधी के व्यवहार पर आक्रोश जाहिर करते हुए कहा कि प्रधानमंत्रियों का अपमान करना उनकी फितरत हो गई है, भले ही वो मनमोहन सिंह ही क्यों नहीं हों।

प्रधानमंत्रियों का हमेशा अपमान करते हैं राहुल: निर्मला
निर्मला ने कहा, “राहुल गांधी हमेशा प्रधानमंत्री का अपमान करते हैं। फिर चाहे अब के प्रधानमंत्री हों या फिर तब के प्रधानमंत्री। पूर्व पीएम मनमोहन सिंह जब विदेश गए थे तो राहुल गांधी ने उनकी ओर से लाए गए अध्यादेश को फाड़कर फेंक दिया था।” वित्त मंत्री जिस वाकये का हवाला दे रही हैं, वो साल 2013 का है।
दरअसल, सुप्रीम कोर्ट ने तब दोषी जनप्रतिनिधियों को चुनाव लड़ने के खिलाफ फैसला दिया था। इस फैसले को निष्प्रभावी बनाने के लिए यूपीए सरकार ने अध्यादेश जारी किया था। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा था, “यह पूरी तरह बकवास है, जिसे फाड़कर फेंक देना चाहिए।” तत्कालीन योजना आयोग (अब नीति आयोग) के प्रमुख मोंटेक सिंह अलहूवालिया के मुताबिक, राहुल गांधी ने जब 2013 में अध्यादेश फाड़ा था उसके बाद तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह इस्तीफा देना चाहते थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

..कम बजट में ऐसे सजाएं घर

कोलकाता : अगर घर साफ-सुथरा और सुव्यस्थित रहता है तो न सिर्फ हमारा दिमाग शांत रहता है, बल्कि मन भी प्रसन्न रहता है। घर सजाने आगे पढ़ें »

इस बार बंगाल चुनाव में जाति निभायेगी अहम भूमिका

एक तरफ हिन्‍दू वोट तो दूसरी ओर मुस्‍लिम वोट ध्रुवीकरण की कोशिश में जुटी पार्टियां सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : लगभग 10 करोड़ की आबादी वाले पश्चिम बंगाल में आगे पढ़ें »

ऊपर