नेत्रहीन मां को कंधों पर लेकर दर्शन करा रहा ‘श्रवण कुमार’, अनुपम खेर ने कही ये बात

मुंबईः अनुपम खेर न केवल एक शानदार अभिनेता हैं, बल्कि वे बहुत ही विनम्र व्यक्ति भी हैं। हाल ही में, उन्हें कैलाश गिरि ब्रह्मचारी की एक तस्वीर दिखाई दी, जिसमें वह अपने नेत्रहीन मां को अपने कंधों पर ले जा रहा है। अभिनेता अनुपम खेर ने सोमवार को ट्वीट किया कि वह उस व्यक्ति की सहायता करना चाहते हैं और उसकी तीर्थ यात्राओं के लिए भुगतान करना चाहते हैं।

अनुपम खेर ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया

फोटो में देखा जा सकता है कि कैलाश ने लंगोटी पहनी हुई है और बांस में बंधे दो टोकरियों को अपने कंधों पर लटकाया हुआ है। एक टोकरी में सामान रखा हुआ है, जबकि कैलाश की मां दूसरी टोकरी में बैठी हुई हैं। यह कैलाश गिरि ब्रह्मचारी हैं, जिन्हें समकालीन श्रवण कुमार भी कहा जा रहा है। अपनी मां की इच्छाओं को पूरा करने के लिए वह पिछले 20 वर्षों से अपनी 80 वर्षीय नेत्रहीन मां को अपने कंधों पर लेकर घुमा रहे हैं। वे भारत के विभिन्न मंदिरों में जा चुके हैं।

फोटो शेयर कर ट्विटर पर लिखी ये बात

दिग्गज अभिनेता ने फोटो को ट्वीट किया और लिखा: ‘तस्वीर में डिस्क्रिप्शन काफी है और बेहद विनम्र भी! प्रार्थना करो यह सच है। इसलिए, अगर किसी को इस आदमी का ठिकाना मिल जाए, तो कृपया हमें बताएं। अनुपम केयर्स जीवन भर देश में किसी भी तीर्थयात्रा के लिए अपनी मां के साथ अपनी सभी यात्राओं को प्रायोजित करने के लिए सम्मानित होंगे।’

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

स्वतंत्रता दिवस पर महानगर में तैनात रहेंगे 2500 पुलिस कर्मी

रेड रोड में मौजूद रहेंगे 1200 पुलिस कर्मी 6 वॉच टॉवर, 11 बंकर और 3 क्यूआरटी किए गए तैनात 6 ज्वाइंट सीपी, 20 डीसी और 40 एसीपी आगे पढ़ें »

ऊपर