श्रद्धा के माता पिता ने की थी आफताब के पैरेंट्स से शादी की बात, मिला था ये जवाब

नई दिल्ली : श्रद्धा मर्डर केस में अहम जानकारी सामने आई है। सूत्रों के मुताबिक श्रद्धा वालकर के माता-पिता अगस्त 2019 में आफताब अमीन पूनावाला के माता-पिता से दोनों की शादी के बारे में बात करने गए थे। हालांकि आफताब के परिवार ने इस प्रस्ताव को ठुकरा दिया था। श्रद्धा के माता-पिता का अपमान किया गया और उनसे कहा गया कि वे कभी वापस न आएं और न ही शादी के बारे में बात करें। पुलिस के अनुसार पूनावाला ने अपनी ‘लिव-इन पार्टनर’ श्रद्धा वालकर (27) की 18 मई की शाम को कथित तौर पर गला घोंट कर हत्या कर दी थी और उसके शव के 35 टुकड़े कर दिए, जिन्हें उसने दक्षिण दिल्ली के महरौली में अपने आवास पर लगभग तीन सप्ताह तक 300 लीटर के फ्रिज में रखा तथा कई दिनों तक विभिन्न हिस्सों में फेंकता रहा।
दिल्ली पुलिस की टीमें कई राज्यों में पहुंची
इस बीच दिल्ली पुलिस की टीमें श्रद्धा वालकर हत्याकांड की जांच के सिलसिले में मुंबई, गुरुग्राम, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड पहुंच गई हैं। मुंबई से आने के बाद श्रद्धा और पूनावाला कई जगहों पर गये थे जहां जाकर पुलिस पता लगाने की कोशिश कर रही है कि क्या इन यात्रााओं के दौरान ऐसा कुछ हुआ था जिसका हत्या से कोई लेनादेना हो।
पुलिस की एक टीम शुक्रवार को गुरुग्राम में एक निजी कंपनी के दफ्तर भी पहुंची जहां पूनावाला काम करता था। एक अधिकारी के अनुसार पुलिस अपने साथ आरोपी को लेकर गई थी। पुलिस को तलाशी अभियान के बाद कार्यालय के आसपास झाड़ियों से बरामद चीजों से भरा एक प्लास्टिक बैग ले जाते देखा गया। हालांकि, अधिकारियों ने बैग में क्या है, इसका खुलासा नहीं किया।
पूनावाला के फोन को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा
जांच से जुड़े अधिकारियों ने बताया कि आरोपी आफताब अमीन पूनावाला के फोन को फोरेंसिक जांच के लिए भेजा जाएगा, ताकि उन लोगों का पता चल सके जिनसे वह वालकर की हत्या के बाद संपर्क में था। इसके अलावा फोन से हटाए गए डाटा को भी प्राप्त किया जाएगा।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

स्वास्थ्य साथी के बावजूद अस्पताल ने वसूले रुपये, लगाया गया जुर्माना

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : स्वास्थ्य साथी कार्ड दिखाकर अस्पताल में भर्ती होने के बावजूद मरीज के परिजनों से नकद रुपये लिये जाने का आरोप न्यूटाउन के आगे पढ़ें »

प्रेमिका की हत्या कर शव को दफनाया

खड़गपुर : पश्चिम मिदनापुर जिले के खड़गपुर लोकल थाना इलाके के एक गांव में रहने वाली एक महिला को मार कर दफना दिए जाने के आगे पढ़ें »

ऊपर