जज के सामने बोला श्रद्धा का कातिल आफताब- ‘जो भी हुआ हीट ऑफ द मोमेंट था’

नई दिल्लीः श्रद्धा हत्याकांड मामले में आरोपी आफताब आमीन पूनावाला ने कोर्ट में अपनी गुनाह कबूलकर ली है। इसके साथ ही वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पेशी के दौरान आफताब ने जज के सामने बताया कि उसने श्रद्धा की हत्या करने के बाद उसके शव के टुकड़े किए थे। इसके बाद दिल्ली के साकेत कोर्ट ने आफताब की पुलिस हिरासत अगले 4 दिन के लिए बढ़ा दी है।इस दौरान आफताब ने जज के सामने कहा कि जो कुछ भी हुआ, वो HEAT OF THE MOMENT था( यानी जो उसने किया। वो बिना सोचे समझे गुस्से में किया।

आफताब ने कोर्ट ने कहा कि वह जांच में सहयोग कर रहा है. उसने जहां शव के टुकड़े फेंके, उसने उन जगहों की जानकारी दी. आफताब ने कहा कि वह सब कुछ बताएगा, लेकिन घटना को ज्यादा दिन हो जाने की वजह से वह कई चीजों को याद नहीं कर पा रहा है. आफताब के वकील के मुताबिक, उसे यह सही तरीके से याद नहीं है कि उसने आरी कहा से खरीदी. आफताब ने तालाब का भी मैप बनाया है, जहां उसने श्रद्धा का सिर फेंका था.

दिल्ली के मैदानगढ़ी के तालाब से बड़ा सबूत मिला है और गोताखोरों की मदद से पुलिस ने हड्डियां बरामद की है। शुरुआती जांच में पुलिस को ये हड्डियां इंसान के हाथ की लग रही हैं। पुलिस ने सभी हड्डियों को जांच के लिए सीएफएसएल भेज दिया है। हालांकि, पुलिस को अब तक खोपड़ी नहीं मिली है, लेकिन खोपड़ी का निचला हिस्सा यानी जबड़ा मिला चुका है, जिसको जांच के लिए सीएफएसएल पहले ही भेजा जा चुका है। वहीं, पुलिस को आशंका है कि खोपड़ी इसी तालाब में हो सकती है और खोपड़ी को बरामद करने के लिए पुलिस लगतार सर्च कर रही है।

श्रद्धा मर्डर केस में अगले 100 घंटे अहम

आरोपी आफताब की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए साकेत कोर्ट में पेश किया गया, जिसके बाद कोर्ट ने 4 दिनों की रिमांड बढ़ा दी। इसके बाद इस केस की जांच के लिए अगले 100 घंटे काफी अहम हैं और 100 से ज्यादा पुलिसवाले कई सवालों के जवाब तलाशेंगे। बता दें कि पुलिस पहले ही आफताब को 10 दिन की कस्टडी ले चुकी थी और किसी भी केस में जेल भेजने से पहले आरोपी को 14 दिन तक पुलिस कस्टडी में लिया जा सकता है। लिहाजा, अब पुलिस के पास 4 दिन और हैं।

दिल्ली पुलिस के पास 4 दिन हैं
दिल्ली पुलिस के पास 4 दिन हैं, जो काफी अहम हैं। इस दौरान पुलिस को कई अहम सबूतों की तलाश करनी है। अब तक वारदात में इस्तेमाल हथियार नहीं मिला है। इसके अलावा श्रद्धा के सिर का हिस्सा नहीं मिला है और बॉडी के कुछ और अहम पार्ट्स भी नहीं मिले है। वारदात में शामिल कपड़े भी नहीं मिले हैं और पुलिस को श्रद्धा के फोन की भी तलाश है।

नार्को टेस्ट से पहले आफताब का पॉलीग्राफी टेस्ट

दिल्ली पुलिस को आरोपी आफताब आमीन पूनावाला का नार्को टेस्ट कराने से पहले पॉलीग्राफी टेस्ट की कराने की परमिशन कोर्ट से मिल चुकी है। अगले चार दिन में पुलिस आफताब का पॉलीग्राफी टेस्ट और नार्को टेस्ट भी करा सकती है। मुंबई की रहने वाली श्रद्धा और आफताब के प्यार की शुरुआत डेटिंग ऐप पर मुलाकात के बाद हुई थी। इसके बाद दोनों ने लिव-इन में रहने का फैसला किया और श्रद्धा अपना घर छोड़कर आफताब के साथ मुंबई में ही परिवार से अलग रहने लगी। श्रद्धा के इस फैसले से परिवार नाराज था और इस वजह से श्रद्धा ने अपने परिवार वालों के बातचीत बंद कर दिया। मुंबई में कुछ महीनों तक लिव-इन में रहने के बाद श्रद्धा और आफताब दिल्ली शिफ्ट हो गए। बताया जा रहा है कि श्रद्धा और आफताब इस साल 8 मई को दिल्ली आए थे और छतरपुर इलाके में घर लेकर रहने लगे। इसेक बाद 18 मई को किसी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हुआ और फिर आफताब ने गुस्से में श्रद्धा का मर्डर कर दिया। मर्डर के बाद आफताब ने श्रद्धा के शव के 35 टुकड़े दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में फेंक दिया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

जरूरत को समझते हुए सभी वर्ग के लोगों के लिए परियोजना शुरू की गयी – शशि

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य की नारी कल्याण व बाल विकास मामलों की मंत्री डॉ. शशि पांजा ने सोमवार को विधानसभा में विपक्षी विधायक अशोक लाहिड़ी आगे पढ़ें »

कुणाल घोष ने नेता मिथुन चक्रवर्ती को बताया बंगाल का कलंक

महिषादल : जिस प्रकार शुभेन्दु अधिकारी बंगाल में सत्ताधारी टीएमसी नेताओं पर लगातार आरोपों की बौछार कर रहे हैं। ठीक उसी प्रकार टीएमसी के नेता आगे पढ़ें »

ऊपर