श्रद्धा ने दो साल पहले ही पुलिस से जताई थी हत्या की आशंका

नई दिल्ली : देश के बहुचर्चित श्रद्धा वालकर हत्याकांड में नया खुलासा हुआ है। मीडिया रिपोर्ट्स में यह दावा किया जा रहा है कि श्रद्धा ने आफताब के खिलाफ दो साल पहले मुंबई पुलिस में शिकायत दर्ज कराई थी। श्रद्धा ने मुंबई पुलिस को पत्र लिखकर बताया था कि आफताब उसके साथ मारपीट करता है। अगर समय रहते पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की तो वह उसकी हत्या कर देगा। मुंबई की पालघर पुलिस को लिखी चिट्ठी में श्रद्धा ने बताया कि आफताब ने उसके साथ मारपीट की। उसका गला दबाकर मारने की कोशिश की। इतना ही नहीं आफताब ने धमकाया और ब्लैकमेल किया कि वह उसे जान से मारकर टुकड़े-टुकड़े कर फेंक देगा।
आरोपी आफताब पूनावाला ने सबूतों को सोची-समझी साजिश के तहत खत्म किया है। उसने श्रद्धा के शव के टुकड़े करने में इस्तेमाल किए गए औजारों को इस तरह फेंका कि पुलिस बाद में उन्हें ढूंढ न सके। आरोपी ने आरी व ब्लेड को गुरुग्राम में डीएलएफ के पास जंगल में फेंका था। इसके अलावा चापड़ को उसने छत्तरपुर में 100 फुटा रोड पर कूड़े में फेंका था। दूसरी तरफ आफताब गुरुग्राम स्थित जिस कॉल सेंटर में नौकरी करता था, वहां अब वर्क फ्रॉम होम कर दिया गया है।
दक्षिण जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, आरोपी आफताब ने बताया कि उसने आरी व ब्लेड को गुरुग्राम में फेंका था। ऐसे में पुलिस आरोपी को लेकर दो दिन गुरुग्राम के जंगल में तलाशी अभियान चला चुकी है, लेकिन पुलिस को कुछ नहीं मिला। आरोपी श्रद्धा के शव के टुकड़े करने के लिए महरौली बाजार से धारदार वाले तीन ब्लेड खरीदकर आया था। गुरुग्राम में एक-दो दिन बाद फिर तलाशी अभियान चलाया जाएगा।
आरोपी को जरा भी नहीं है पछतावा
श्रद्धा की हत्या के आरोपी आफताब अमीन पूनावाला को अपने किए पर अभी भी जरा भी पछतावा नहीं है। वह जांच और पूछताछ के समय भी अपने द्वारा किए गए अपराध पर पछतावा जाहिर करने के बजाय मुस्कुराता है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

पंचायत चुनाव : गांवों की सड़कों को किया जाएगा सपाट

राज्य सरकार ने जारी किया 714 करोड़ 50 लाख रुपया केंद्र ने हाल ही में दिया है 584 करोड़ का फंड सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में पंचायत आगे पढ़ें »

किस्मत से जुड़ा होता है गुलाब का फूल, वास्तु के ये उपाय बनाएंगे आपको धनवान

कोलकाता : हमारे जीवन में जिस तरह पेड़-पौधों का महत्व है, उसी तरह फूलों का भी विशेष महत्व होता है। घर को महकाने से लेकर आगे पढ़ें »

ऊपर